PM Modi ने की 5जी सेवाओं की शुरुआत, Airtel मार्च, 2024 तो Jio दिसंबर, 2023 तक देशभर में मुहैया कराएगा सेवाएं

By yourstory हिन्दी
October 01, 2022, Updated on : Sun Oct 02 2022 05:13:55 GMT+0000
PM Modi ने की 5जी सेवाओं की शुरुआत, Airtel मार्च, 2024 तो Jio दिसंबर, 2023 तक देशभर में मुहैया कराएगा सेवाएं
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत में डेटा शुल्क को दुनिया भर में सबसे कम बताते हुए कहा कि वर्ष 2014 में एक जीबी डेटा के लिए 300 रुपये खर्च करने पड़ते थे लेकिन अब उसी डेटा का शुल्क 10 रुपये तक आ चुका है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अत्यधिक तीव्र गति की इंटरनेट सुविधा देने वाली 5जी सेवा की शुरुआत करते हुए शनिवार को कहा कि यह एक नए युग की शुरुआत होने के साथ व्यापक अवसरों को भी प्रदर्शित करता है. प्रधानमंत्री ने यहां आयोजित 'इंडियन मोबाइल कांग्रेस' 2022(आईएमसी) में देश के कुछ चुनिंदा शहरों में 5जी इंटरनेट सेवाओं का उद्घाटन किया. अगले दो साल में इस सेवा का विस्तार समूचे देश में किए जाने की योजना है.


इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘5जी एक नए युग की शुरुआत का प्रतीक है और इससे बेशुमार अवसर पैदा होने की संभावना है.’’ उन्होंने कहा कि देश दूरसंचार की 2जी, 3जी एवं 4जी प्रौद्योगिकी के लिए दूसरे देशों पर निर्भर था लेकिन 5जी सेवा के मामले में देश ने इतिहास रच दिया है.


प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार का 'डिजिटल इंडिया' का संकल्प चार स्तंभों- उपकरण की लागत, डिजिटल कनेक्टिविटी, डेटा लागत एवं डिजिटल-फर्स्ट दृष्टिकोण पर आधारित था. उन्होंने कहा कि इस नजरिये की ही वजह से आज देश में मोबाइल फोन बनाने वाले संयंत्रों की संख्या 200 से अधिक हो चुकी है जबकि वर्ष 2014 में सिर्फ दो संयंत्र थे. उन्होंने भारत में डेटा शुल्क को दुनिया भर में सबसे कम बताते हुए कहा कि वर्ष 2014 में एक जीबी डेटा के लिए 300 रुपये खर्च करने पड़ते थे लेकिन अब उसी डेटा का शुल्क 10 रुपये तक आ चुका है.


उन्होंने कहा कि एक व्यक्ति औसतन 14 जीबी डेटा की मासिक खपत करता है जिस पर उसकी लागत 125-150 रुपये तक आती है.

इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने कहा कि देश अब करोड़ों रुपये मूल्य के मोबाइल फोन का निर्यात भी कर रहा है जबकि पहले उसे आयात करना पड़ता था. इसके साथ ही उन्होंने डिजिटल भुगतान में आई तेजी का भी उल्लेख किया.


उन्होंने कहा कि प्रौद्योगिकी अब सही मायने में विकेंद्रित हो चुकी है. उन्होंने पूर्ववर्ती संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि मौजूदा सरकार के सही मंशा से उठाए गए कदमों की वजह से ही ऐसा संभव हो पाया.


प्रधानमंत्री ने 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन को लेकर हुए विवाद का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘2जी की नीयत और 5जी की नीयत में यही फर्क है.’’

पांचवीं पीढ़ी की मोबाइल सेवा यानी 5जी प्रौद्योगिकी की मदद से अत्यधिक तीव्र गति वाली इंटरनेट सुविधा मुहैया कराई जा सकेगी. इससे दूरदराज के इलाकों तक नई तरह की आर्थिक एवं सामाजिक सुविधाएं पहुंचाई जा सकेंगी.


तीनों टेलीकॉम प्रोवाइडर्स ने 5जी सेवाओं की दिखाई झलक


प्रधानमंत्री ने एक बटन दबाकर 5जी सेवा की शुरुआत की. इस मौके पर 5जी सेवाएं देने वाले तीनों दूरसंचार सेवा प्रदाताओं ने भारत में इस प्रौद्योगिकी के संभावित लाभों के बारे में प्रस्तुति भी दी.


रिलायंस जियो ने मुंबई के एक स्कूल टीचर का महाराष्ट्र, गुजरात और ओडिशा के छात्रों से 5जी तकनीक की मदद से संपर्क स्थापित कराया. इस दौरान प्रधानमंत्री ने भी स्कूली बच्चों से भी बात की और उनसे पढ़ाई में प्रौद्योगिकी के सहयोग के बारे में कुछ सवाल पूछे.


वोडाफोन आइडिया ने दिल्ली मेट्रो की एक निर्माणाधीन सुरंग में काम कर रहे मजदूरों की सुरक्षा बढ़ाने में 5जी की उपयोगिता को प्रदर्शित किया. इस दौरान सुरंग का एक 'डिजिटल जुड़वा' बनाया गया जिससे किसी भी खतरे की स्थिति में मजदूरों को फौरन सतर्क किया जा सकेगा.


वहीं एयरटेल ने उत्तर प्रदेश की एक लड़की को वर्चुअल रियलिटी एवं ऑगमेंटेड रियलिटी की मदद से सौर प्रणाली के बारे में सीखने में 5जी प्रौद्योगिकी से मिलने वाली मदद को प्रदर्शित किया.


मार्च, 2024 तक पूरे देश में उपलब्ध होंगी एयरटेल की 5जी सेवाएं


भारती एयरटेल शनिवार से देश के आठ शहरों में 5जी दूरसंचार सेवाएं शुरू करने जा रही है और कंपनी की मार्च 2024 तक पूरे देश में ये सेवाएं उपलब्ध कराने की योजना है. भारती एयरटेल के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल ने यह जानकारी दी.


मित्तल ने इंडिया मोबाइल कांग्रेस के उद्घाटन कार्यक्रम में कहा, ‘‘आज जब आप (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) 5जी सेवा की शुरुआत करेंगे तो उसके बाद एयरटेल की 5जी सेवा दिल्ली, मुंबई, वाराणसी, बेंगलुरु समेत आठ शहरों में शुरू हो जाएगी.’’


मित्तल ने कहा कि देश का सबसे पुराना निजी दूरसंचार ऑपरेटर भारती एयरटेल आठ शहरों में 5जी मोबाइल सेवाएं शुरू कर रहा है और मार्च 2023 तक देश के ज्यादातर हिस्सों तथा मार्च 2024 तक पूरे देश में ये सेवाएं उपलब्ध करा दी जाएंगी.


कंपनी के मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी रणदीप सिंह सेखों ने बताया कि एयरटेल 5जी सेवा मौजूदा 4जी की दरों पर ही मिलेगी और कुछ समय बाद नए शुल्क की घोषणा की जाएगी. उन्होंने बताया कि चेन्नई, हैदराबाद और सिलीगुड़ी में भी 5जी सेवा शुरू की जा रही है.


दिसंबर, 2023 तक हर तहसील में पहुंचेगी जियो की 5जी सेवाएं


रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने शनिवार को ऐलान किया कि उनकी दूरसंचार इकाई रिलायंस जियो अगले साल दिसंबर तक पूरे देश में 5जी दूरसंचार सेवाओं की शुरुआत कर देगी.


अंबानी ने ‘इंडिया मोबाइल कांग्रेस’ सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘मैं दिसंबर 2023 तक देश के हर शहर, हर तालुका और हर तहसील में 5जी पहुंचाने की जियो की प्रतिबद्धता को दोहराना चाहता हूं.’’


इसके पहले अंबानी ने आरआईएल के शेयरधारकों की अगस्त में हुई सालाना बैठक में कहा था कि दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता में दीपावली तक 5जी सेवाएं शुरू कर दी जाएंगी.


5जी सेवाओं के लिए ग्रामीण भारत में अपनी मौजूदगी का लाभ उठाएगा वोडाफोन आइडिया

 

आदित्य बिड़ला समूह के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला ने शनिवार को कहा कि 5जी नेटवर्क और सेवाओं की शुरुआत करने और इसे आगे बढ़ाने के लिए वोडाफोन आइडिया ग्रामीण भारत में अपनी मजबूत मौजूदगी का लाभ उठाएगा.


बिड़ला ने यहां इंडिया मोबाइल कांग्रेस में 5जी सेवाओं की शुरुआत के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में कहा कि सरकार ने दूरसंचार क्षेत्र में जो अहम नीतिगत हस्तक्षेप किए हैं उनकी वजह से निवेशकों का भरोसा बढ़ा है. उन्होंने उम्मीद जताई कि दूरसंचार क्षेत्र को नीतिगत समर्थन मिलता रहेगा.


बिड़ला ने कहा, ‘‘हम 5जी शुरू करने की यात्रा में जल्द बढ़ेंगे और ग्रामीण भारत में अपनी मजबूत मौजूदगी, उद्यम ग्राहकों, प्रौद्योगिकी साझेदारों तथा वोडाफोन समूह के वैश्विक विशेषज्ञों का लाभ उठाते हुए 5जी सेवाएं शुरू करेंगे.’’


Edited by Vishal Jaiswal