क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग: IISc बैंगलुरू को रिसर्च सेक्टर में मिला पहला स्थान, IIT गुवाहाटी ने भी बनाई अपनी जगह

केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने विश्वविद्यालय रैंकिंग में आईआईटी बॉम्बे को 177वां स्थान, आईआईटी दिल्ली को 185वां स्थान और आईआईएससी बैंगलुरू को 186वां स्थान प्राप्त करने पर पर बधाई दी।
0 CLAPS
0

क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2022 के शीर्ष-200 स्थानों में तीन भारतीय विश्वविद्यालयों ने अपनी जगह बनायी है। आईआईएससी बैंगलुरू अनुसंधान के क्षेत्र में विश्व में प्रथम स्थान पर है। क्यूएस क्वाक्वेरेली साइमंडस, वैश्विक उच्च शिक्षा विश्लेषकों ने विश्व की अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय रैंकिंग का 18वां संस्करण जारी किया है।

केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने विश्वविद्यालय रैंकिंग में आईआईटी बॉम्बे को 177वां स्थान, आईआईटी दिल्ली को 185वां स्थान और आईआईएससी बैंगलुरू को 186वां स्थान प्राप्त करने पर पर बधाई दी।

पोखरियाल ने कहा कि भारत शिक्षा और अनुसंधान के क्षेत्र में बड़ी छलांग लगा रहा है और एक विश्वगुरू के रूप में उभर रहा है। उन्होंने कहा कि हमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जैसे गुरू पर भी उतना ही गर्व है, जो लगातार छात्रों, संकाय के कर्मचारियों और भारतीय शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े अन्य सभी हितधारकों के कल्याण के बारे में सोचते रहे हैं।

केन्द्रीय शिक्षा मंत्री ने आगे कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति- 2020 और इंस्टीट्यूट ऑफ एमिनेंस जैसी पहल हमारे कॉलेजों और संस्थानों को वैश्विक स्तर पर रैंकिंग दिलाने में सहायक साबित हुए हैं। उन्होंने कहा कि क्यूएस एवं टाइम्स ग्रुप द्वारा घोषित विश्वविद्यालय रैंकिंग को देखकर इस तथ्य को महसूस किया जा सकता है।

IIT गुवाहाटी को 'प्रति संकाय उद्धरण' श्रेणी में मिली 41वीं रैंक

IIT गुवाहाटी, देश भर के प्रमुख शैक्षणिक और अनुसंधान संस्थानों में से एक है, जिसने हाल ही में घोषित क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2022 की 'प्रति संकाय उद्धरण' श्रेणी में वैश्विक स्तर पर 41वाँ रैंक प्राप्त किया है। इसके साथ ही संस्थान ने विश्व स्तर पर 395 वाँ रैंक प्राप्त किया है। यह संस्थान द्वारा प्राप्त पिछले स्थानों की तुलना में 76 स्थानों का सुधार है| क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग के 2021 संस्करण में IIT गुवाहाटी को 471 वाँ स्थान प्राप्त हुआ था

IIT गुवाहाटी

इस सुधार का मुख्य कारण 'प्रति संकाय उद्धरण' श्रेणी में मजबूत सुधार है जहां IIT गुवाहाटी को वर्ष 2021 में 77.9 (वैश्विक रैंक 55) से वर्ष 2022 में 94.8 (वैश्विक रैंक 41) का सुधार प्राप्त हुआ है।

इस अवसर पर बोलते हुए, IIT गुवाहाटी के निदेशक प्रो. टी जी सीताराम ने कहा, "मैं इस रैंकिंग में उल्लेखनीय सुधार के लिए आईआईटी गुवाहाटी के संकाय, विद्यार्थियों और कर्मचारियों को बधाई देता हूं| यह रैंकिंग स्पष्ट रूप से दर्शाता है कि महामारी के बावजूद, ऐसा विश्वव्यापी प्रभाव बनाने के लिए संस्थान द्वारा लगातार अथक प्रयास किया जा रहा है। संस्थान ने प्रति संकाय अनुसंधान उद्धरणों में सुधार किया है जो संस्थान की अनुसंधान गतिविधियों की दृश्यता के साथ-साथ अकादमिक प्रतिष्ठा में इस सुधार के लिए प्रमुख योगदानकर्ता के रूप में दर्शाता है।"

प्रो. परमेश्वर के. अय्यर, डीन, जनसंपर्क, ब्रैंडिंग, एवं रैंकिंग, IIT गुवाहाटी ने उल्लेख किया, कि, आईआईटी गुवाहाटी की रैंकिंग में संस्थान द्वारा कई वर्षों से किए गए ठोस प्रयासों के कारण अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय एजेंसियों में लगातार सुधार हो रहा है। इससे संस्थागत विकास के विभिन्न पहलुओं पर प्रभाव पड़ा ह, जिसमें अंतर्राष्ट्रीयकरण, प्रतिष्ठा (धारणा) को बढ़ावा देना, अनुसंधान और प्रौद्योगिकी हस्तांतरण को बढ़ावा देना शामिल है, जो अब सामने आएँ हैं और राष्ट्रीय तथा विश्व स्तर पर पहचाने जा रहे हैं।“

आज घोषित क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2022, छह मेट्रिक्स पर आधारित थी; शैक्षणिक प्रतिष्ठा, नियोक्ता प्रतिष्ठा, संकाय विद्यार्थी अनुपात, प्रति संकाय उद्धरण, अंतर्राष्ट्रीय संकाय और अंतर्राष्ट्रीय विद्यार्थियों।

आईआईटी गुवाहाटी को इस वर्ष के आरंभ में घोषित क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग द्वारा पेट्रोलियम अभियांत्रिकी में 51-100 रेंज में ब्रेक के साथ 12 अलग-अलग विषय श्रेणियों में स्थान प्रदान किया गया है। आईआईटी गुवाहाटी को जिन विषयों में उल्लेख किया गया है, वे हैं, अभियांत्रिकी एवं प्रौद्योगिकी, रासायनिक अभियांत्रिकी, यांत्रिकी, वैमानिकी और विनिर्माण अभियांत्रिकी, विद्युतीय एवं इलेक्ट्रॉनिकी अभियांत्रिकी, कंप्यूटर विज्ञान और सूचना प्रणाली, रसायन विज्ञान, भौतिकी और खगोल विज्ञान, प्राकृतिक विज्ञान, जैविक विज्ञान, गणित, * पेट्रोलियम अभियांत्रिकी और *पर्यावरण अध्ययन (*2021 के उपरांत)।

Latest

Updates from around the world