रेलवे ने ट्रेन कोचों में बनाए आइसोलेशन वार्ड, कोरोना संक्रमित मरीजों के हिसाब से किए गए हैं बदलाव

By yourstory हिन्दी
March 27, 2020, Updated on : Sat Mar 28 2020 11:03:49 GMT+0000
रेलवे ने ट्रेन कोचों में बनाए आइसोलेशन वार्ड, कोरोना संक्रमित मरीजों के हिसाब से किए गए हैं बदलाव
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

कोरोना वायरस के खिलाफ जारी लड़ाई में सहयोग करते हुए रेलवे ने ट्रेन के कोचों को आइसोलेशन वार्ड में तब्दील कर दिया है।

कोरोना वायरस के चलते रेलवे कोचों को मेडिकल फैसिलिटी में बदल दिया गया है।

कोरोना वायरस के चलते रेलवे कोचों को मेडिकल फैसिलिटी में बदल दिया गया है।



कोरोना वायरस से लड़ाई में रेलवे ने बड़ा कदम उठाते हुए ट्रेन के डब्बों को आइसोलेशन कोच में तब्दील कर दिया है। कुछ दिन पहले ही रेलवे ने कोच को कोरोना वायरस संक्रमित लोगों की मदद में लाने की बात कही थी।


न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार मरीज के केबिन निर्माण के लिए एक तरफ की मिडिल बर्थ और दूसरी तरफ की तीनों बर्थ को हटा दिया गया है। इसी के साथ केबिन में लगी सीढ़ियों को भी हटा दिया गया है। कोच में लगे बाथरूम को भी मरीजों की सुविधा के हिसाब से मॉडिफाई किया गया है।


कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग में सरकार हर स्तर पर कोशिश कर रही है। देश में प्राइवेट लाइब को भी कोरोना टेस्ट की अनुमति दी जा चुकी है।


केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों को भी कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के लिए मेडिकल फैसिलिटी का निर्माण करने के लिए कहा है। इसी के साथ केंद्र सरकार ने वेंटिलेटर के निर्यात पर भी रोक लगा दी है।


शनिवार दोपहर 12 बजे तक भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के 906 मामले सामने आ चुके हैं। देश में अब तक 83 लोग इससे रिकवर भी हो चुके हैं, जबकि 20 लोगों की इससे मौत हुई है।