एक वीडियो ने रातोरात सुरों की मलिका रानू को बना दिया बॉलीवुड स्टार

एक वीडियो ने रातोरात सुरों की मलिका रानू को बना दिया बॉलीवुड स्टार

Tuesday August 27, 2019,

4 min Read

"इसे सोशल मीडिया का कमाल मानें या एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर एतींद्र चक्रवर्ती की मामूली कोशिश, जिनके एक वीडियो ने रोजी-रोटी के जुगाड़ में ट्रेनों, रेलवे स्टेशनों पर पुराने फिल्मी गीत गाने वाली कोलकाता की 59 वर्षीय क्रिश्चियन महिला रानू मंडल को रातोरात लखपति ही नहीं, बॉलीवुड स्टार भी बना दिया।" 



Ranu Mandal

पहली फोटो में रानू स्टेशन पर, दूसरी फोटो में हिमेश रेशमियां के स्टूडियो में गाना गाती हुईं।



कभी-कभी दुनिया वालों के सामने कुछ ऐसे वाकये हो जाते हैं, जिन्हे जान-सुनकर यकीन कर पाना मुश्किल हो जाता है। कोलकाता की रेनू मंडल का एक झटके में फ़र्श से अर्श पर पहुंच जाना एक ऐसी अनहोनी है, जो कल तक रेलवे स्टेशनों, लोकल ट्रेन में गाने गाकर दो जून की रोटी जुटा पाती थीं, अब लखपति हो चुकी हैं। हाल ही में उन्हे ऐसी ऊंचाई नसीब कराने में रानाघाट (प.बंगाल) के युवा सॉफ्टवेयर इंजीनियर एतींद्र चक्रवर्ती का एक वीडियो माध्यम बना, जिसे संयोग वश सुन लेने के बाद अभिनेता सलमान खान के कहने पर हिमेश रेशमिया ने उन्हे मुंबई बुलाकर अपनी फिल्म 'हैप्पी हार्डी एंड हीर' के लिए 'तेरी मेरी कहानी' गाना रिकॉर्ड कराया है।


बताते हैं कि इस गाने पर रानू को रेशमिया ने सात लाख रुपए का भुगतान किया है। इस तरह आज 59 वर्षीय क्रिश्चियन महिला रानू मंडल अब रातोरात बॉलीवुड की स्टार सिंगर बन चुकी हैं। सूचना है कि वह अब सलमान खान और अक्षय कुमार की फिल्मों में भी अपनी आवाज़ का जादू बिखरने वाली हैं।  


प. बंगाल के कृष्णानगर की रहने वाली रानू मंडल का लालन-पालन उनकी चाची ने किया है। उन्होंने बचपन में ही अपनी मां को खो दिया था। पालन पोषण उनकी चाची ने किया।


सॉफ्टवेयर इंजीनियर एतींद्र चक्रवर्ती

सॉफ्टवेयर इंजीनियर एतींद्र चक्रवर्ती के साथ रानू मंडल



रानू बताती हैं,

'मैं रेलवे स्टेशन पर इसलिए गाना गाती थी क्योंकि मेरे सामने रोटी, कपड़ा और मकान की समस्या थी। गाना गाकर ही पेट भरता था। गाना गाने के बाद किसी ने बिस्कुट दिया या किसी ने कुछ खाना दिया, या किसी ने रुपए दे दिए।'

हाल ही में एक दिन जब वह रानाघाट रेलवे स्टेशन पर कवि संतोष आनंद के लिखे एवं लता मंगेशकर द्वारा गाए गए गीत 'एक प्यार का नगमा है, मौज़ों की रवानी है', गा रही थीं, तभी वहां मौजूद एतींद्र चक्रवर्ती की नज़र उन पर पड़ गई। एतींद्र ने उनके गाने का वीडियो अपने फेसबुक अकाउंट पर शेयर कर दिया। बस, फिर तो जो हुआ, हैरतअंगेज रहा। 


उधर, रानू का गाना सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा, इधर वीडियो से उनका गाना सुनकर अभिनेता सलमान खान ने  संगीतकार-गायक हिमेश रेशमिया को उन्हे मुंबई ले आने का सुझाव दिया। रेशमिया ने उनको सोनी टीवी के सिंगिंग रियलिटी शो 'सुपरस्टार सिंगर' में बतौर मेहमान आमंत्रित करा लिया। उस शो के जज रहे रेशमिया, गायिका अलका याज्ञनिक और जावेद अली। 


उस शो के बाद तो 'सुपरस्टार सिंगर' कार्यक्रम प्रसारित होते ही अब तक रेलवे स्टेशनों पर सुनकर भी अनसुना करते रहे लोग रानू मंडल के सुर के दीवाने हो गए। मानो किसी नई लता मंगेशकर ने जन्म ले लिया हो। उनकी आवाज़ का जादू एक झटके में करोड़ों दिलो में समा गया। अब तो रानू मंडल के दिन बदल चुके हैं। मेकओवर के बाद अब उनके पास बड़े-बड़े ऑफर्स की लाइन लग गई है। रेशमिया ने अपने इंस्टाग्राम पर भी उस वीडियो को अपलोड कर दिया है, जिसे लाखों लोग शेयर कर चुके हैं।  

उसके बाद रानू जिस वक़्त हिमेश रेशमिया की फिल्म 'हैप्पी हार्डी एंड हीर' के लिए 'तेरी मेरी कहानी' गाना रिकॉर्ड करा रही थीं, एतींद्र भी स्टूडियो में मौजूद रहे। उनको खुद भी यकीन नहीं हो रहा था कि उनका एक वीडियो किसी मजबूर महिला की जिंदगी में इस तरह का परिवर्तन ला देगा। अब एतींद्र लगातार रानू के संपर्क में रह रहे हैं।


रानू की सफलता पर गुमनाम जिंदगी बसर कर रहे कवि संतोष आनंद कहते हैं -

'उनके पास भी लोगों के फोन आ रहे हैं कि एक भीख मांगने वाली महिला आपका लिखा गीत गाते-गाते फिल्म इंडस्ट्री में दाखिल हो चुकी है, लेकिन मेरे पास तो स्मार्टफोन भी नहीं है कि मैं उसका गाया हुआ सॉन्ग देख-सुन सकूं। मैंने 1995 के बाद ही फिल्मों में गीत लिखना बंद कर दिया था, लेकिन बेटे और बहू के सुसाइड के बाद मैंने खुद को घर में कैद कर लिया। कुछ टाइम बाद कुछ दोस्तों की रिक्वेस्ट पर मंच पर दोबारा गीतों को सुनाना शुरू किया। घर खर्च चलाने के लिए कवि सम्मेलनों में जाता रहता हूं।'