RBI अगले महीने पेटीएम पेमेंट्स बैंक का ऑपरेटिंग लाइसेंस रद्द कर सकता है: रिपोर्ट

ब्लूमबर्ग ने बताया कि भारतीय रिजर्व बैंक इस समय सीमा के बाद आगे की कार्रवाई कर सकता है, और पेटीएम पेमेंट्स बैंक के ग्राहक अपने बचत खातों या व्यापक रूप से उपयोग किए जाने वाले डिजिटल पेमेंट वॉलेट में रुपये जोड़ने में असमर्थ होंगे.

RBI अगले महीने पेटीएम पेमेंट्स बैंक का ऑपरेटिंग लाइसेंस रद्द कर सकता है: रिपोर्ट

Saturday February 03, 2024,

2 min Read

भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) कथित तौर पर असत्यापित खातों से लाखों भुगतानों के बारे में चिंताओं के कारण पेटीएम पेमेंट बैंक (Paytm Payment Bank) का ऑपरेटिंग लाइसेंस रद्द कर सकता है.

केंद्रीय बैंक द्वारा निर्धारित 29 फरवरी, 2024 की समय सीमा के बाद, पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड को अन्य प्रतिबंधों के बीच किसी भी ग्राहक खाते, प्रीपेड इंस्ट्रूमेंट्स, वॉलेट और फास्टैग में जमा या टॉप-अप स्वीकार करने से प्रतिबंधित कर दिया गया है.

ब्लूमबर्ग ने बताया कि भारतीय रिजर्व बैंक इस समय सीमा के बाद आगे की कार्रवाई कर सकता है, और पेटीएम पेमेंट्स बैंक के ग्राहक अपने बचत खातों या व्यापक रूप से उपयोग किए जाने वाले डिजिटल पेमेंट वॉलेट में रुपये जोड़ने में असमर्थ होंगे.

ब्लूमबर्ग ने सूत्रों का हवाला देते हुए कहा कि इन उपायों के उल्लंघन में ग्राहक दस्तावेज़ीकरण नियमों का दुरुपयोग और भौतिक लेनदेन का खुलासा न करना शामिल है.

रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि पेटीएम पेमेंट्स बैंक के हजारों ग्राहकों ने आवश्यक नो-योर-कस्टमर (केवाईसी) दस्तावेज जमा नहीं किए हैं. इसके अलावा, कुछ मामलों में हजारों ग्राहकों को पंजीकृत करने के लिए एकल पहचान दस्तावेज़ का उपयोग शामिल था. न्यूनतम-केवाईसी खातों में करोड़ों रुपये का लेनदेन किया जा रहा था, जिससे संभावित मनी लॉन्ड्रिंग गतिविधियों के बारे में चिंताएँ बढ़ गई थीं.

इससे पहले, पेटीएम के संस्थापक विजय शेखर शर्मा ने शेयरधारकों और ग्राहकों को आश्वस्त करने के लिए एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर कहा, "आपका फेवरेट ऐप काम कर रहा है, हमेशा की तरह, 29 फरवरी के बाद भी काम करता रहेगा."

पेटीएम पैरेंट के शेयरों पर शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन लॉअर सर्किट लगा, भारतीय शेयर बाजारों में 487.20 रुपये पर कारोबार हुआ, जो पहले के 608.80 रुपये से लगभग 20% कम है. RBI की घोषणा के बाद गुरुवार को शेयरों में लगभग 20% की गिरावट आई थी.

वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड, पेटीएम की पैरेंट कंपनी, के पास पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड में 49% हिस्सेदारी है, लेकिन वह इसे सहायक के बजाय सहयोगी के रूप में नामित करती है. आरबीआई के निर्देश से कंपनी के वार्षिक परिचालन लाभ पर असर पड़ने की उम्मीद है, जिसके परिणामस्वरूप 300 करोड़ रुपये से 500 करोड़ रुपये के बीच अनुमानित प्रभाव पड़ेगा.

(Translated by: रविकांत पारीक)