दिल्ली में अब इन जगहों पर रात 1 बजे तक खुले रहेंगे रेस्त्रां-कैफे

दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर वी.के. सक्सेना ने इस फैसले को मंजूरी दे दी है और नए नियम बुधवार रात 1 बजे से लागू हो चुके हैं. अधिकारियों ने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी में नाइट लाइफ कल्चर और आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के मकसद से इस फैसले को मंजूरी दी गई है.

दिल्ली में अब इन जगहों पर रात 1 बजे तक खुले रहेंगे रेस्त्रां-कैफे

Thursday December 22, 2022,

3 min Read

दिल्ली में रहने वाले खाने पीने के शौकीन लोगों के लिए एक खुशखबरी है. अब कुतुब गोल्फ कोर्स, भलस्वा गोल्फ कोर्स और सिरी फोर्ट स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में मौजूद रेस्तरां और कैफे रात 1 बजे तक खुले रहेंगे. क्रिसमस से लेकर न्यू ईयर तक के फेस्टिव सीजन को देखते हुए भी ये फैसला लिया गया है.

दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर वी.के. सक्सेना ने इस फैसले को मंजूरी दे दी है और नए नियम बुधवार रात 1 बजे से लागू हो चुके हैं.

राज निवास के अधिकारियों ने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी में नाइट लाइफ कल्चर और आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के मकसद से इस फैसले को मंजूरी दी गई है.

प्राइवेट लाइसेंस होल्डर्स द्वारा चलाए जा रहे इन डीडीए संस्थानों में रोजाना कम से कम हजारों की संख्या में लोग आते हैं. अभी तक इन जगहों पर मौजूद रेस्त्रां और कैफे रात 9 या 11 बजे तक ही खुले रहते थे.

दी हिंदू के मुताबिक कुतुब गोल्फ कोर्स में फूड एंड बेवरेजेज पार्टनर रेस्त्रां ब्रैंड पेबल स्ट्रीट ने भी इस बदलाव की पुष्टि की है. पेबल स्ट्रीट के मालिक विक्रम सिंह ने कहा, ‘हमें इस आदेश के बारे में मौखिक संचार प्राप्त हुआ है. चूंकि बुधवार को कॉम्प्लेक्स बंद थे इसलिए औपचारिक तौर पर लिखित आदेश नहीं मिला. गुरुवार को जब कॉम्प्लेक्स खुलने पर जब औपचारिक लिखित आदेश मिलेगा उसके बाद हम इस फैसले के संभावित असर का आकलन करेंगे.’

वहीं डीडीए के एक सीनियर अधिकारी ने बताया, तीन महीने बाद इस आदेश के असर का आकलन किया जाएगा. ये देखा जाएगा कि समय बढ़ने के बाद यहां आने वाले लोगों की संख्या कितनी बढ़ी है. इसे एक तरह से टेस्ट रन की तरह भी देखा जा सकता है. मुख्य मकसद तो नाइट लाइफ के जरिए रेवेन्यू जेनरेट करना है.

डीडीए ने इस संबंध में जारी एक आदेश में संबंधित अधिकारियों को इन परिसरों में पर्याप्त सुरक्षा, रौशनी की व्यवस्था और पार्किंग सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है. बुधवार से राष्ट्रीय राजधानी के निवासी इन प्रमुख स्थानों पर नाइटलाइफ का लाभ और आनंद ले सकेंगे. इससे आर्थिक गतिविधियों में भी वृद्धि होगी और अधिक रेवेन्यू हासिल होगा. 

उपराज्यपाल लगातार जोर दे रहे हैं कि अन्य अंतर्राष्ट्रीय राजधानियों/महानगरीय शहरों की तरह दिल्ली में भी नाइट लाइफ हो.

एलजी सचिवालय ने एक बयान में कहा कि इसके अनुरूप, दिल्ली नगर निगम ने शहर के विभिन्न इलाकों में खुले में भोजन करने के लिए भोजनालयों और रेस्तरांओं को लगभग 150 लाइसेंस पहले ही दे दिए हैं.

सक्सेना ने अगस्त में 314 वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों के लंबे समय से लंबित आवेदनों को मंजूरी दी थी, जिनमें केपीओ और बीपीओ के अलावा भोजन, दवाओं, रसद, परिवहन, यात्रा सेवाओं और अन्य आवश्यक वस्तुओं की ऑनलाइन डिलीवरी सेवाएं 24X7 आधार पर संचालित किए जाने की अनुमति मांगी गई थी.


Edited by Upasana