'सदगुरु' ने किया CAA का समर्थन, पीएम मोदी ने ट्वीटर पर शेयर किया वीडियो

By भाषा पीटीआई
December 30, 2019, Updated on : Mon Dec 30 2019 15:31:30 GMT+0000
'सदगुरु' ने किया CAA का समर्थन, पीएम मोदी ने ट्वीटर पर शेयर किया वीडियो
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close
sad

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के समर्थन में अभियान का प्रसार करने के लिए सोमवार को आध्यात्मिक गुरु सदगुरु जग्गी वासुदेव का एक वीडियो पोस्ट किया।

पीएम मोदी ने ट्वीट किया,

‘‘सीएए से जुड़े पहलुओं की स्पष्ट व्याख्या तथा और भी चीजें सदगुरू से सुनिए। उन्होंने ऐतिहासिक संदर्भ का हवाला दिया है और हमारी भाईचारे की संस्कृति का बेहतरीन तथा शानदार तरीके से उल्लेख किया है। इसके साथ ही उन्होंने निहित स्वार्थ वाले कुछ समूहों की गलत सूचनाओं को बेनकाब किया है।’’


पीएम ने शेयर किया वीडियो

प्रधानमंत्री की निजी वेबसाइट के ट्विटर हैंडल पर भी एक संदेश पोस्ट किया गया है जिसमें कहा गया है कि सीएए उत्पीड़न का शिकार हुए शरणार्थियों को नागरिकता देने के लिए है और इसमें किसी की नागरिकता लेने की बात नहीं की गई है।

यह संदेश ‘इंडिया सपोर्ट्स सीएए’ नामक हैशटैग से पोस्ट किया गया है। वीडियो में आध्यात्मिक गुरु जग्गी वासुदेव ‘सदगुरु’ नागरिकता संसोधन कानून के समर्थन में अपनी बात रखते हुए दिख रहे हैं। वीडियो में सद्गुरु ने यह कानून देरी से लाये जाने की बता कही है।


वीडियो में दिये गए अपने एक बयान में सद्गुरु प्रदर्शन कर रहे छात्रों को भी निरक्षर बताते हुए नज़र आ रहे हैं। गौरतलब है कि सीएए के विरोध में देश भर में प्रदर्शन और हिंसा होने की खबरें सामने आ रही हैं। देश के कई शहरों में हालात काफी बिगड़े हुए नज़र आ रहे हैं, तो वहीं कई शहरों में लोग शांतिपूर्ण तरीकों से अपना विरोध दर्ज़ करा रहे हैं।


उत्तर प्रदेश और कर्नाटक में इन प्रदर्शनों में हिंसा होने के चलते प्रदर्शनकारियों को अपनी जान भी गंवानी पड़ी थी। उत्तर प्रदेश और दिल्ली पुलिस पर विश्वविद्यालय के छात्रों के साथ मारपीट और बदसलूकी करने का भी आरोप लगा था।


सीएए को लेकर फिलहाल देश भर में दो राय का माहौल है, कुछ लोग एक ओर जहां सीएए का समर्थन कर रहे हैं, वहीं कुछ लोग सीएए के विरोध में काफी समय से अपना विरोध जाता रहे हैं। इसी बीच कई बार पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह सीएए और एनआरसी के चलते किसी नागरिक को हानि न पहुँचने का आश्वासन दे चुके हैं।