Tata Consumer और Tata Coffee के विलय को शेयरधारकों की हरी झंडी, जानिए शेयरों का क्या होगा?

By yourstory हिन्दी
November 16, 2022, Updated on : Wed Nov 16 2022 06:35:39 GMT+0000
Tata Consumer और Tata Coffee के विलय को शेयरधारकों की हरी झंडी, जानिए शेयरों का क्या होगा?
TCPL बेवरेजेस, टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स के पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

टाटा कंज्यूमर​ (Tata Consumer), टाटा कॉफी (Tata Coffee) और टीसीपीएल बेवरेजेस के शेयरधारकों ने तीनों कंपनियों के बीच अरेंजमेंट स्कीम को मंजूरी दे दी है. इसके लिए मतदान 12 नवंबर को हुआ था. इस साल मार्च में, टाटा कंज्यूमर के बोर्ड ने टाटा कॉफी के बागान व्यवसाय के टीसीपीएल बेवरेजेस एंड फूड्स में डिमर्जर को मंजूरी दी थी. टीसीपीएल बेवरेजेस, टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स के पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है. बोर्ड ने टाटा कॉफी के शेष व्यवसाय के टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स के साथ विलय को भी मंजूरी दे दी है, जिसमें इसके एक्सट्रैक्शन और ब्रांडेड कॉफी व्यवसाय शामिल हैं.


टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स, टाटा कॉफी के मौजूदा शेयरधारकों को प्रत्येक 22 शेयरों के लिए एक इक्विटी शेयर जारी करेगी. इसके अलावा, टाटा कंज्यूमर के साथ टाटा कॉफी के शेष कारोबार के मर्जर के बाद कंपनी के नए इक्विटी शेयर टाटा कॉफी के इक्विटी शेयरधारकों को एक्सचेंज में जारी किए जाएंगे. टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स ने तालमेल और दक्षता सुधारने की रणनीतिक प्राथमिकता के अनुरूप पुनर्गठन योजना के तहत टाटा कॉफी के सभी कारोबारों का अपने या उसकी सहायक कंपनियों के साथ विलय करने की घोषणा की है.

एक्सचेंज में कितने शेयर

एक्सचेंज फाइलिंग में कहा गया है कि टाटा कॉफी के शेयरधारकों को टाटा कॉफी के प्रत्येक 55 शेयरों के बदले टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स के 14 शेयर मिलेंगे. कंपनी ने अपनी फाइलिंग में यह भी कहा कि उपरोक्त डिमर्जर और मर्जर के बाद, टाटा कॉफी को बंद किए बिना भंग कर दिया जाएगा. टाटा कॉफी के 10 शेयरों के बदले में टाटा कॉफी के शेयरधारकों को टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स के तीन शेयर मिलेंगे.

टाटा कंज्यूमर प्रॉडक्ट्स की भारत में पहुंच

टाटा ग्रुप देश और दुनिया में 10 क्लस्टर में 30 से ज्यादा कंपनियों के साथ परिचालन कर रहा है. इसका कारोबार 100 से ज्यादा देशों में फैला हुआ है. ग्रुप की प्रिंसिपल होल्डिंग कंपनी और टाटा कंपनियों की प्रमोटर, टाटा सन्स (Tata Sons) है. टाटा कंज्यूमर प्रॉडक्ट्स की बात करें तो टाटा टी, टाटा नमक, टाटा संपन्न ब्रांड इसी के अंब्रैला तले आते हैं. टाटा कंज्यूमर प्रॉडक्ट्स की पहुंच भारत में 20 लाख से ज्यादा घरों तक है. समूह नमक, चाय, कॉफी, दाल, मसाले, रेडी ट ईट फूड, पानी आदि इस सेगमेंट में बेचता है. स्टारबक्स के साथ मिलकर कंपनी टाटा स्टारबक्स नामक जॉइंट वेंचर चलाती है.

दूसरी तिमाही में एकीकृत शुद्ध लाभ

टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स लिमिटेड का चालू वित्त वर्ष (2022-23) की दूसरी तिमाही में एकीकृत शुद्ध लाभ 36.25 प्रतिशत बढ़कर 389.43 करोड़ रुपये रहा. कंपनी ने पिछले वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर तिमाही में 285.80 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था. टीसीपीएल को पहले टाटा ग्लोबल बेवरेजेज लिमिटेड के नाम से जाना जाता था. टीसीपीएल की आलोच्य तिमाही में परिचालन आय 10.87 प्रतिशत बढ़कर 3,363.05 करोड़ रुपये हो गई. पिछले वर्ष की इसी अवधि में यह 3,033.12 करोड़ रुपये रही थी.



Edited by Ritika Singh