सोशल मीडिया इनफ्लूएंशर के विज्ञापनों पर कितना भरोसा करते हैं लोग? सामने आए चौंकाने वाले आंकड़े

ASCI ने एक सर्वे के आधार पर गुरुवार को इनफ्लूएंशर ट्रस्ट रिपोर्ट जारी की. इस सर्वे में 18 साल से अधिक उम्र के 820 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया. रिपोर्ट में कहा गया कि 79 फीसदी प्रतिभागियों ने कहा कि वे सोशल मीडिया के प्रभावशाली लोगों पर भरोसा करते हैं.

सोशल मीडिया इनफ्लूएंशर के विज्ञापनों पर कितना भरोसा करते हैं लोग? सामने आए चौंकाने वाले आंकड़े

Thursday February 16, 2023,

2 min Read

विज्ञापन इंडस्ट्री में सोशल मीडिया के प्रभावशाली लोगों का दबदबा लगातार बढ़ता जा रहा है. एडवरटाइजिंग स्टैंडर्ड्स काउंसिंल ऑफ इंडिया (ASCI) ने अपनी हालिया रिपोर्ट में बताया है कि 70 फीसदी भारतीय ऐसे उत्पादों को खरीदना चाहते हैं, जिनका विज्ञापन सोशल मीडिया के प्रभावशाली लोग करते हैं.

ASCI ने एक सर्वे के आधार पर गुरुवार को इनफ्लूएंशर ट्रस्ट रिपोर्ट जारी की. इस सर्वे में 18 साल से अधिक उम्र के 820 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया. रिपोर्ट में कहा गया कि 79 फीसदी प्रतिभागियों ने कहा कि वे सोशल मीडिया के प्रभावशाली लोगों पर भरोसा करते हैं. इसमें से 30 फीसदी लोग सोशल मीडिया के इन प्रभावशाली लोगों पर पूरी तरह से जबकि 49 फीसदी लोग कुछ हद तक भरोसा करते हैं.

सर्वे में हिस्सा लेने वाले 90 फीसदी लोगों ने माना कि उन्होंने सोशल मीडिया के प्रभावशाली लोगों द्वारा किए गए विज्ञापनों में से कम से कम एक उत्पाद खरीदा है. रिपोर्ट में कहा गया है कि 61 फीसदी लोगों ने दावा किया है कि उन्होंने ऐसे 3 से अधिक उत्पाद खरीदे हैं. यह बिहैवियर 25 से 44 साल के लोगों में अधिक देखा गया.

रिपोर्ट के अनुसार, ग्राहक सोशल मीडिया के किसी प्रभावशाली व्यक्ति पर तब अधिक भरोसा करते हैं जब वे किसी ब्रांड से जुड़ने को लेकर पारदर्शी और ईमानदार होते हैं. इसके अलावा सोशल मीडिया के प्रभावशाली लोगों पर भरोसा करने के दूसरे बड़े कारणों में उनके द्वारा उनके जुड़े लाइफस्टाइल और कंटेंट को दिखाना शामिल है.

वहीं, सोशल मीडिया के प्रभावशाली लोगों पर से भरोसा उठने का सबसे बड़ा कारण उनका ईमानदार और पारदर्शी न होना रहा. इसके अलावा, दोहराव वाली सामग्री और बहुत अधिक उत्पादों का प्रचार करना भी ऐसे लोगों पर से भरोसा उठने के कारणों में शामिल था.

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि मई 2021 में दिशानिर्देश जारी होने के बाद से ASCI को ब्रांडों और प्रभावित करने वालों के खिलाफ कनेक्शन घोषित नहीं करने के लिए 2,767 शिकायतें मिली हैं.

1,592 शिकायतें वर्ष 2021-22 की और 1,175 शिकायतें पिछले साल अप्रैल से दिसंबर की अवधि की थीं. 2021-22 में, शीर्ष शिकायतें वर्चुअल डिजिटल एसेट्स (वीडीए) के खिलाफ थीं. पिछले साल, इस तरह से सबसे अधिक उल्लंघन पर्सनल केयर कैटेगरी में हुए. ऐसे सबसे अधिक उल्लंघन Instagram पर हुए.


Edited by Vishal Jaiswal

Montage of TechSparks Mumbai Sponsors