शेयर बाजार लगातार 7वें दिन लाल निशान में, एशियन पेंट्स 5% से ज्यादा गिरा

By Ritika Singh
September 29, 2022, Updated on : Thu Sep 29 2022 11:51:40 GMT+0000
शेयर बाजार लगातार 7वें दिन लाल निशान में, एशियन पेंट्स 5% से ज्यादा गिरा
कारोबार के दौरान सेंसेक्स ने 57166.14 का उच्च स्तर और 56314.05 का निचला स्तर छुआ.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

घरेलू शेयर बाजारों (Stock Markets) में गुरुवार को लगातार सातवें कारोबारी सत्र में गिरावट जारी रही. वैश्विक स्तर पर मिले-जुले रुख के बीच वित्तीय और सूचना प्रौद्योगिकी शेयरों में बिकवाली से बाजार नीचे आया. इसके अलावा निवेशकों की नजरें मौद्रिक नीति समिति की बैठक के नतीजों पर भी हैं, जो 30 सितंबर को आने वाले हैं. तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 188.32 अंकों की गिरावट के साथ 56409.96 पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान सेंसेक्स ने 57166.14 का उच्च स्तर और 56314.05 का निचला स्तर छुआ.


सेंसेक्स के तीस शेयरों में एशियन पेंट्स, टेक महिंद्रा, टाइटन, कोटक महिंद्रा बैंक, TCS, बजाज फाइनेंस, विप्रो और बजाज फिनसर्व प्रमुख रूप से नुकसान में रहे. एशियन पेंट्स सबसे ज्यादा 5.22 प्रतिशत गिरा. लाभ में रहने वाले शेयरों में आईटीसी, डॉ. रेड्डीज, टाटा स्टील, सन फार्मा और नेस्ले शामिल हैं. आईटीसी का शेयर सबसे ज्यादा 2.51 प्रतिशत चढ़कर बंद हुआ. शेयर बाजार में उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बुधवार को 2772.49 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे.

Nifty50 पर कैसा रहा ट्रेंड

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 40.50 अंकों की गिरावट के साथ 16818.10 पर बंद हुआ. एनएसई के सेक्टोरल इंडेक्सेज में तेजी और गिरावट का मिलाजुला रुख देखने को मिला. निफ्टी पर श्री सीमेंट, ONGC, हिंडाल्को, ITC, अपोलो हॉस्पिटल्स टॉप गेनर्स रहे. दूसरी ओर एशियन पेंट्स, हीरो मोटोकॉर्प, टेक महिन्द्रा, बजाज ऑटो और टाइटन टॉप लूजर्स रहे.

वैश्विक बाजारों की स्थिति

एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और जापान का निक्की लाभ में, जबकि चीन का शंघाई कंपोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहे. यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में गिरावट का रुख रहा. अमेरिकी बाजार में बुधवार को तेजी थी. इस बीच अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.45 प्रतिशत की गिरावट के साथ 88.92 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया.

रुपया 13 पैसे की तेजी के साथ 81.80 प्रति डॉलर पर

भारतीय रिजर्व बैंक के शुक्रवार को आने वाले मौद्रिक समीक्षा बैठक के नतीजों से पहले गुरुवार को रुपया एक सीमित दायरे में सुदृढ़ हुआ और अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले 13 पैसे की तेजी के साथ 81.80 प्रति डॉलर (अस्थायी) पर बंद हुआ. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 81.60 प्रति डॉलर पर खुला. कारोबार के दौरान 81.58 के दिन के उच्चतम स्तर और 81.94 के दिन के निम्नतम स्तर के बीच घट-बढ़ के बाद अंत में यह अपने पिछले बंद भाव के मुकाबले 13 पैसे की तेजी के साथ 81.80 प्रति डॉलर पर बंद हुआ. रिजर्व बैंक के मौद्रिक नीति के बारे में कोई फैसला आने से पहले कारोबारियों ने सतर्कता का रुख अपनाया. इस बीच, दुनिया की छह प्रमुख मुद्राओं के समक्ष डॉलर की मजबूती को आंकने वाला डॉलर सूचकांक 0.55 प्रतिशत चढ़कर 113.22 पर पहुंच गया.