शेयर बाजार धड़ाम! सेंसेक्स ने लगाया 1000 अंकों का गोता, निफ्टी गिरकर 16201 पर

By Ritika Singh
June 10, 2022, Updated on : Fri Jun 10 2022 12:57:45 GMT+0000
शेयर बाजार धड़ाम! सेंसेक्स ने लगाया 1000 अंकों का गोता, निफ्टी गिरकर 16201 पर
पूरे दिन के कारोबार में सेंसेक्स ने 54,780.78 का उच्च स्तर और 54,205.99 का निचला स्तर छुआ. सेंसेक्स की कंपनियों में कोटक बैंक के शेयर में सबसे ज्यादा 4 प्रतिशत से अधिक की गिरावट रही.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

घरेलू शेयर बाजार (Stock Markets) शुक्रवार को औंधे मुंह लुढ़क गया. BSE Sensex में 1,000 अंकों की तगड़ी गिरावट दर्ज की गई. वैश्विक बाजारों में तेज बिकवाली के बीच सूचना प्रौद्योगिकी (IT), वित्त, बैंक और ऊर्जा शेयरों में नुकसान के साथ बाजार में गिरावट रही. कारोबारियों के अनुसार, रुपये की विनिमय दर में गिरावट, कच्चे तेल की कीमतों में तेजी और विदेशी संस्थागत निवेशकों की लगातार पूंजी निकासी का भी बाजार धारणा पर असर पड़ा.


शुक्रवार को बीएसई सेंसेक्स 1,016.84 अंकों की बड़ी गिरावट के साथ 54,303.44 पर आ गया. पूरे दिन के कारोबार में सेंसेक्स ने 54,780.78 का उच्च स्तर और 54,205.99 का निचला स्तर छुआ. सेंसेक्स की कंपनियों में कोटक बैंक के शेयर में सबसे ज्यादा 4 प्रतिशत से अधिक की गिरावट रही. बजाज फाइनेंस, HDFC बैंक, HDFC लिमिटेड, रिलायंस इंडस्ट्रीज, विप्रो, इंफोसिस, टेक महिंद्रा, टाटा स्टील और TCS के शेयर भी प्रमुख रूप से नुकसान में रहे. वहीं, दूसरी तरफ लाभ में रहने वाले शेयरों में एशियन पेंट्स, अल्ट्राटेक सीमेंट, डॉ रेड्डीज, टाइटन और इंडसइंड बैंक शामिल हैं. इसके अलावा, BSE के मिडकैप, लार्जकैप और स्मॉलकैप सूचकांक में 1.72 फीसदी की भारी गिरावट आई.

Nifty50 का हाल

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी (NSE Nifty) भी 276.30 अंक टूटकर 16,201.80 पर बंद हुआ. निफ्टी पर सभी सेक्टोरल इंडेक्स लाल निशान में बंद हुए हैं. सबसे ज्यादा 2.24 फीसदी की गिरावट फाइनेंशियल सर्विसेज इंडेक्स में दर्ज की गई. निफ्टी पर ग्रासिम, अपोलो हॉस्पिटल्स, एशियन पेंट्स, डिविसलैब, डॉ. रेड्डीज टॉप गेनर्स रहे. वहीं दूसरी ओर बजाज फाइनेंस, कोटक महिन्द्रा बैंक, एचडीएफसी, हिंडाल्को और रिलायंस टॉप लूजर्स रहे.

वैश्विक बाजारों की स्थिति

अमेरिकी शेयर बाजारों में भारी बिकवाली के चलते एशिया के अन्य बाजारों में हांगकांग का हैंगसेंग और दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का निक्की नुकसान में रहे. चीन का शंघाई कंपोजिट बढ़त के साथ बंद हुआ. यूरोप के प्रमुख बाजारों में दोपहर के कारोबार में जबरदस्त बिकवाली का रुख था.