25 माह बाद सेंसेक्स ने झेली एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट, Wipro 6% से ज्यादा टूटा

By Ritika Singh
May 19, 2022, Updated on : Thu May 19 2022 12:13:45 GMT+0000
25 माह बाद सेंसेक्स ने झेली एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट, Wipro 6% से ज्यादा टूटा
BSE पर ITC, डॉ. रेड्डीज और पावरग्रिड को छोड़कर अन्य सभी शेयर गिरावट के साथ बंद हुए हैं.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

गुरुवार को भी शेयर बाजार (Stock Market) लाल निशान में बंद हुआ और सेंसेक्स (BSE Sensex) में बड़ी गिरावट दर्ज की गई. वैश्विक बाजारों में भारी बिकवाली के बीच बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 1,416.30 अंकों का गोता लगाकर 52,792.23 पर आ गया. यह मार्च 2020 के बाद सेंसेक्स में किसी एक दिन में आई सबसे बड़ी गिरावट है. दिन में कारोबार के दौरान यह एक समय 1,539.02 अंकों की बड़ी गिरावट के साथ 52,669.51 के स्तर तक चला गया था लेकिन बाद में संभल गया. पूरे दिन के दौरान सेंसेक्स ने 53,356.04 का उच्च स्तर छुआ.


बीएसई पर आईटीसी, डॉ. रेड्डीज और पावरग्रिड को छोड़कर अन्य सभी शेयर गिरावट के साथ बंद हुए हैं. विप्रो और एचसीएल टेक्नोलॉजी के शेयरों में 6 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई. सेंसेक्स पर आई इस बड़ी गिरावट की वजह से निवेशकों को 6 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हो गया

Nifty50 में कितनी गिरावट

बिकवाली के व्यापक रुख के बीच सेंसेक्स और निफ्टी दोनों 2.60 प्रतिशत से अधिक के नुकसान में रहे. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 430.90 अंकों की बड़ी गिरावट के साथ 15,809.40 पर बंद हुआ. निफ्टी पर सभी सेक्टोरल इंडेक्स गिरावट के साथ बंद हुए हैं. सबसे ज्यादा 5.74 फीसदी की गिरावट आईटी शेयरों में रही. निफ्टी पर आईटीसी, डॉ. रेड्डीज, पावरग्रिड टॉप गेनर्स रहे, वहीं एचसीएल टेक्नोलॉजी, विप्रो, इन्फोसिस, टीसीएस और टेक महिन्द्रा टॉप लूजर्स रहे.

वैश्विक बाजारों में क्या रहा हाल

एशिया के अन्य बाजारों में चीन के शंघाई को छोड़कर हांगकांग का हैंगसेंग, दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और जापान का निक्की गिरावट में रहा. यूरोपीय बाजार भी दोपहर के सत्र के दौरान लाल निशान में कारोबार कर रहे थे. अमेरिकी बाजारों में बुधवार को गिरावट रही थी.

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close