'बुराई के खिलाफ लोगों की एकता का प्रतीक': यूपी के गोरखपुर में नवजात बच्ची का नाम रखा गया कोरोना

By yourstory हिन्दी
March 25, 2020, Updated on : Wed Mar 25 2020 10:31:30 GMT+0000
'बुराई के खिलाफ लोगों की एकता का प्रतीक': यूपी के गोरखपुर में नवजात बच्ची का नाम रखा गया कोरोना
नवजात बच्ची के चाचा, नितेश त्रिपाठी ने कहा कि उन्होंने घातक वायरस के बाद बच्चे का नाम रखने का फैसला किया क्योंकि कोरोना ने इस मुद्दे पर पूरी दुनिया को एकजुट किया है।
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

बीते रविवार, 22 मार्च को 'जनता कर्फ्यू' के दिन गोरखपुर में एक नवजात बच्ची का जन्म हुआ जिसके बाद बच्ची के चाचा ने नवजात का नाम कोरोना रखा है।


k

सांकेतिक चित्र (फोटो क्रेडिट: shutterstock)



नवजात बच्ची के चाचा, नितेश त्रिपाठी ने कहा कि उन्होंने घातक वायरस के बाद बच्चे का नाम रखने का फैसला किया क्योंकि कोरोना ने इस मुद्दे पर दुनिया को एकजुट किया है।


सोहगौरा गाँव में पैदा हुई यह नवजात बच्ची पहले ही पूरे कस्बे में चर्चा का विषय बन चुकी है।


त्रिपाठी ने कहा कि उन्होंने बच्चे के नामकरण से पहले नवजात की मां रागिनी त्रिपाठी से अनुमति ली थी।


उन्होंने आगे कहा,

"वायरस कोई संदेहजनक खतरनाक नहीं है और इसने दुनिया में इतने सारे लोगों को मार दिया है, लेकिन इसने हम में कई अच्छी आदतों को भी शामिल किया है और दुनिया को करीब लाया है। यह बच्ची बुराई से लड़ने के लिए लोगों की एकता का प्रतीक होगी।"


आपको बता दें कि स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा मंगलवार सुबह जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार देश भर में COVID-19 संक्रमित लोगों की संख्या 500 के पार पहुँच गई है।


(Edited by रविकांत पारीक )