Vistara और AirAsia को Air India में मिलाना चाहता है टाटा ग्रुप! ये चल रही है प्लानिंग

By yourstory हिन्दी
September 22, 2022, Updated on : Thu Sep 22 2022 07:15:06 GMT+0000
Vistara और AirAsia को Air India में मिलाना चाहता है टाटा ग्रुप! ये चल रही है प्लानिंग
टाटा ग्रुप ने इस साल जनवरी में एयर इंडिया का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया था.
Clap Icon0 claps
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 claps
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

टाटा ग्रुप (Tata Group) ने एयर एशिया (AirAsia) और विस्तारा (Vistara) को एयर इंडिया (Air India) में मिलाने के विकल्पों पर काम करना शुरू कर दिया है. न्यूज एजेंसी PTI भाषा की एक रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि तीनों एयरलाइन के बीच बेहतर परिचालन तालमेल बैठाने के लिए यह फैसला लिया गया है. टाटा ग्रुप ने इस साल जनवरी में एयर इंडिया का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया था. पिछले वर्ष अक्टूबर में टाटा समूह ने 18 हजार करोड़ रुपये में सरकार से एयर इंडिया का अधिग्रहण किया था.


पूरे घटनाक्रम से परिचित सूत्रों का कहना है कि एयर इंडिया के परिचालन निदेशक आर एस संधू के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया है. रिपोर्ट के मुताबिक, एक सूत्र ने कहा है, ‘एयर इंडिया के सीईओ और प्रबंध निदेशक कैंपबेल विल्सन ने इस टीम का गठन किया है. यह टीम एयर इंडिया एक्सप्रेस और एयर एशिया इंडिया के साथ-साथ एयर इंडिया और विस्तारा के बीच बेहतर तालमेल कायम करने के उपायों पर विचार करेगी. साथ ही विलय के लक्ष्य को हासिल करने के बारे में विचार विमर्श होगा.’

एक साल के अंदर देना होगा प्लान

आगे कहा कि टीम को एक साल के अंदर अपनी योजना सौंपने को कहा गया है. माना जा रहा है कि समूह की योजना एक साल में एयरएशिया इंडिया को एयर इंडिया एक्सप्रेस में मिलाने की है. समूह का सभी एयरलाइंस कारोबारों को 2024 तक एयर इंडिया के तहत लाने का लक्ष्य है.

दोनों कंपनियों में कितनी है टाटा की हिस्सेदारी

टाटा समूह ने जनवरी 2022 में सरकार से एयर इंडिया और इसकी लो-कॉस्ट अंतरराष्ट्रीय इकाई एयर इंडिया एक्सप्रेस का नियंत्रण ले लिया था. इसके अलावा एयर एशिया इंडिया में उसकी 83.67 प्रतिशत हिस्सेदारी है. शेष 16.33 प्रतिशत हिस्सेदारी मलेशियाई समूह एयर एशिया के पास है. टाटा समूह, एयर एशिया से बाकी की हिस्सेदारी खरीदने पर भी विचार कर रहा है. विस्तारा में टाटा संस की हिस्सेदारी 51 प्रतिशत है.बाकी 49 फीसदी हिस्सेदारी सिंगापुर एयरलाइंस के पास है. विस्तारा ने अपनी सेवाएं जनवरी 2015 से शुरू की थीं.

5 साल में 30% बाजार हिस्सेदारी का लक्ष्य

हाल ही में खबर आई थी कि एयर इंडिया ने अगले पांच साल में घरेलू विमानन बाजार में 30 प्रतिशत हिस्सेदारी हासिल करने के साथ ही अपने अंतरराष्ट्रीय परिचालन को भी मजबूत करने की महत्वाकांक्षी योजना बनाई है. ‘विहान.एआई’ नाम से एक समग्र योजना के जरिये अगले पांच वर्षों में एयरलाइन का पूरी तरह कायाकल्प करने का खाका तैयार किया गया है, जिसमें घरेलू एवं विदेशी दोनों ही बाजारों पर जोर दिया जाएगा. इस योजना के तहत एयर इंडिया अपने बेड़े में 30 नए विमानों को भी शामिल करेगी. उसका जोर अपना नेटवर्क एवं विमान बेड़ा दोनों बढ़ाने पर रहेगा. इसके अलावा उपभोक्ताओं के संदर्भ में एयर इंडिया के रवैये को पूरी तरह बदलने, विश्वसनीयता और समय पर परिचालन बढ़ाने के साथ ही प्रौद्योगिकी एवं इनोवेशन के मामले में अग्रणी स्थान हासिल करने पर जोर रहेगा.


Edited by Ritika Singh

हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें