Tata Motors बनाएगी EV के लिए बैटरी सेल, भारत और यूरोप में प्लांट लगाने का प्लान

By yourstory हिन्दी
January 13, 2023, Updated on : Fri Jan 13 2023 06:59:27 GMT+0000
Tata Motors बनाएगी EV के लिए बैटरी सेल, भारत और यूरोप में प्लांट लगाने का प्लान
टाटा योजनाओं को अंतिम रूप दे रही है और जल्द ही डिटेल्स की घोषणा की जाएगी.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

टाटा मोटर्स (Tata Motors) इलेक्ट्रिक वाहनों (EV) के लिए बैटरी सेल का उत्पादन करने के लिए भारत और यूरोप में संयंत्र स्थापित करने पर विचार कर रही है. रॉयटर्स के मुताबिक, अब तक 50,000 इलेक्ट्रिक कारों की कुल बिक्री के साथ टाटा मोटर्स भारत के ईवी बाजार पर हावी है. कंपनी ने मार्च 2026 तक 10 इलेक्ट्रिक मॉडल लॉन्च करने की योजना की रूपरेखा तैयार की है. ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक, टाटा मोटर्स के चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर पी.बी. बालाजी ने कहा है कि JLR और टाटा मोटर्स, यूरोप फैसिलिटी के लिए एंकर कस्टमर्स होंगे, जो व्यापक बाजार में बैटरी सेल भी बेचेंगे.

बालाजी ने ग्रेटर नोएडा में ऑटो एक्सपो 2023 के दौरान कहा कि ईवी बैटरियों के लिए सेल मैन्युफैक्चरिंग की लोकलाइजिंग, इलेक्ट्रिक कारों में लोकल कंपोनेंट्स को बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण है और ऑटोमेकर को एक स्थानीय आपूर्ति श्रृंखला भी विकसित करने में मदद करेगी. यूरोप की फैसिलिटी जेएलआर की बैटरी सेल जरूरतों को पूरा करने में मदद करेगी.

डिटेल्स का जल्द होगा खुलासा

टाटा योजनाओं को अंतिम रूप दे रही है और जल्द ही डिटेल्स की घोषणा की जाएगी. हालांकि उन्होंने यूरोप फैसिलिटी की लोकेशन और टाइम फ्रेम का खुलासा करने से इनकार कर दिया. लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि बहुत सारे निवेश होंगे. आगे कहा कि 'इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी हैवी फैसिलिटी दो सेल केमिस्ट्री का उत्पादन करेगी- टाटा मोटर्स ईवी के लिए लीथियम आयरन फॉस्फेट और टाटा मोटर्स के साथ-साथ जेएलआर के लिए निकल मैंगनीज कोबाल्ट.

इस योजना से कंपनी को आपूर्ति श्रृंखला के महत्वपूर्ण हिस्सों को बेहतर ढंग से नियंत्रित करने में मदद मिलेगी. आपूर्ति श्रृंखला ने COVID महामारी के दौरान विश्व स्तर पर व्यवधानों का सामना किया है. जेएलआर ने पहले कहा था कि उसके दो ब्रांड्स में से छोटा जगुआर, 2025 तक पूरी तरह से इलेक्ट्रिक हो जाएगा, जबकि लैंड रोवर को 2024 में अपना पहला पूर्ण-इलेक्ट्रिक मॉडल मिलेगा.

कड़ा हो रहा है कॉम्पिटीशन

टाटा के नए मॉडलों में एक व्यापक ड्राइविंग रेंज और हायर प्राइस पॉइंट्स शामिल होंगे क्योंकि टाटा मोटर्स ऐसे समय में अपनी बढ़त को मजबूत करना चाहती है, जब महिंद्रा एंड महिंद्रा, वॉरेन बफे के निवेश वाली BYD और एमजी मोटर्स जैसे प्रतिद्वंद्वियों के ईवी लॉन्च, लाइन में हैं.


Edited by Ritika Singh