भारत के मोस्ट वैल्युएबल ब्रांड की पोजिशन पर टाटा ग्रुप बरकरार

By Ritika Singh
June 02, 2022, Updated on : Fri Jun 03 2022 05:26:18 GMT+0000
भारत के मोस्ट वैल्युएबल ब्रांड की पोजिशन पर टाटा ग्रुप बरकरार
ताज AAA ब्रांड स्ट्रेंथ रेटिंग के साथ देश का सबसे मजबूत ब्रांड है. ताज होटल्स की ब्रांड वैल्यू 6% बढ़कर 31.4 करोड़ अमेरिकी डॉलर हो गई है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

टाटा समूह (Tata Group) 24 अरब अमेरिकी डॉलर के साथ सबसे मूल्यवान भारतीय ब्रांड (Most Valuable Indian Brands) के रूप में टॉप पोजिशन पर कायम है. पिछली बार के मुकाबले यह ब्रांड वैल्यू 12 फीसदी ज्यादा है. यह जानकारी Brand Finance India 100 रैंकिंग से सामने आई है. टाटा ब्रांड ने दुनिया भर में ब्रांड निर्माण गतिविधियों के साथ अपने स्ट्रैटेजिक बिजनेस और नेतृत्व की पहल को मजबूत किया. टिकाऊ और समावेशी एक्शंस के साथ ब्रांड की ग्रोथ के इसके मूल में होना ही ब्रांड टाटा के पीछे की ड्राइविंग फोर्स है.


ताज एएए ब्रांड स्ट्रेंथ रेटिंग के साथ देश का सबसे मजबूत ब्रांड है. ताज होटल्स की ब्रांड वैल्यू 6% बढ़कर 31.4 करोड़ अमेरिकी डॉलर हो गई है. यह Brand Finance रैंकिंग में सबसे मजबूत ब्रांड है. ब्रांड स्ट्रेंथ इंडेक्स (बीएसआई) पर इसका स्कोर 100 में से 88.9 है और एएए ब्रांड रेटिंग है. महामारी और उसके बाद के राष्ट्रीय लॉकडाउन ने आतिथ्य क्षेत्र को सबसे अधिक प्रभावित किया, ब्रांड्स को पर्यटकों की जरूरत के हिसाब से प्रासंगिक बने रहने के लिए अपनी रणनीतियों को री-इन्वेंट करना पड़ा. हेल्थकेयर सेक्टर को सहायता प्रदान करते हुए ताज इसमें सबसे आगे था. 

टॉप 4 में और कौन

भारत के दूसरे सबसे ज्यादा वैल्युएबल ब्रांड की पोजिशन पर इन्फोसिस है. इन्फोसिस की ब्रांड वैल्यू 52 फीसदी बढ़कर 12.8 अरब डॉलर हो गई है. इसके बाद LIC है, जिसकी ब्रांड वैल्यू 28 फीसदी बढ़कर 11.1 अरब डॉलर हो गई है. चौथे नंबर पर रिलायंस इंडस्ट्रीज है, जिसकी ब्रांड वैल्यू 5 फीसदी बढ़कर 8.6 अरब डॉलर हो गई है.

SBI दक्षिण एशिया में शीर्ष बैंकिंग ब्रांड

बैंकिंग के मामले में State Bank of India (SBI), साउथ एशिया में टॉप बैंकिंग ब्रांड है. इसकी ब्रांड वैल्यू में 29 फीसदी का इजाफा हुआ है और यह 7.5 अबर डॉलर हो गई है. SBI भारत में छठां सबसे वैल्युएबल ब्रांड है. भारतीय टेलिकॉम सेक्टर की बात करें तो एयरटेल, देश के टेलिकम्युनिकेशन सेक्टर में सबसे वैल्युएबल ब्रांड है. इसकी ब्रांड वैल्यू 28 फीसदी बढ़कर 7.7 अरब डॉलर हो गई है. दूसरी पोजिशन पर जियो है, जिसकी ब्रांड वैल्यू 5 फीसदी बढ़कर 5.1 अरब डॉलर हो गई है. वोडाफोन आइडिया की ब्रांड वैल्यू 76.7 करोड़ डॉलर है.

5000 सबसे बड़े ब्रांडों का परीक्षण करती है 'Brand Finance'

हर साल अग्रणी ब्रांड वैल्यूएशन कंसल्टेंसी 'Brand Finance' दुनिया के 5000 सबसे बड़े ब्रांडों का परीक्षण करती है. लगभग 100 रिपोर्ट प्रकाशित करती है और सभी क्षेत्रों व देशों में ब्रांड्स की रैंकिंग करती है. भारत के शीर्ष 100 सबसे मूल्यवान और मजबूत ब्रांड वार्षिक Brand Finance India 100 रैंकिंग में शामिल हैं. ब्रांड वैल्यू के अलावा Brand Finance मार्केटिंग इन्वेस्टमेंट, स्टेकहोल्डर इक्विटी और व्यावसायिक प्रदर्शन का मूल्यांकन करने वाले मैट्रिक्स के संतुलित स्कोरकार्ड के माध्यम से ब्रांड्स की स्ट्रेंथ निर्धारित करती है. आईएसओ 20671 के अनुरूप, Brand Finance के स्टेकहोल्डर इक्विटी के मूल्यांकन में 35 से अधिक देशों और लगभग 30 क्षेत्रों में 100,000 से अधिक उत्तरदाताओं के ओरिजिनल मार्केट रिसर्च डेटा शामिल हैं.