BugBase स्टार्टअप लाएगा साइबर सिक्योरिटी में नई क्रांति, हैकिंग की फ़िक्र ख़त्म

BugBase एक ऐसे प्लेटफ़ॉर्म की तरह काम करता है जो कंपनियों को एथिकल हैकर्स और साइबर सिक्योरिटी में रुचि रखने वालों से जोड़ता है.

BugBase स्टार्टअप लाएगा साइबर सिक्योरिटी में नई क्रांति, हैकिंग की फ़िक्र ख़त्म

Thursday February 09, 2023,

3 min Read

अगर आपको याद हो, कुछ ही समय पहले देश के सबसे बड़े मेडिकल साइंस इंस्टिट्यूट और अस्पताल AIIMS दिल्ली के सर्वर हैक हो गए थे. जिसके चलते आउटपेशेंट और इनपेशेंट, लैब्स, बिलिंग, रिपोर्ट्स और अपॉइंटमेंट सिस्टम, सैप पर गहरा असर पड़ा था. उस वक़्त कई लोगों ने ये सवाल उठाया कि अगर ऐसे ही चलता रहा तो इंडिया का मेडिकल सिस्टम डिजिटाइज़ कैसे हो पाएगा.

अब जैसे-जैसे मेडिकल सिस्टम डिजिटाइज़ होने जा रहा है, वैसे-वैसे इसकी सेफ्टी और सिक्योरिटी के मुद्दे बढ़ते जा रहे हैं. ऐसे में एक स्टार्टअप है जो साइबर सिक्योरिटी के फील्ड में काम कर रहा है.

ये स्टार्टअप है BugBase

BugBase के फाउंडर ध्रुव गोयल एक ओफेंसिव सिक्योरिटी सर्टिफाइड प्रोफेशनल और एक एथिकल हैकर हैं. ध्रुव मनीपाल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी से बीटेक कर रहे थे. मगर सेकंड इयर में उन्होंने कॉलेज ड्रॉप कर दिया. वहीं उनके को-फाउंडर और सीओओ कथन देसाई भी मनिपाल यूनिवर्सिटी जयपुर के ड्रॉपआउट हैं.

बग बेस एक ऐसे प्लेटफ़ॉर्म की तरह काम करता है जो कंपनियों को एथिकल हैकर्स और साइबर सिक्योरिटी में रुचि रखने वालों से जोड़ता है. इस प्लेटफ़ॉर्म की मदद से कंपनियां अपने डिजिटल सिस्टम की कमियों को पहले ही खोज सकती हैं और उन्हें ठीक कर सकती हैं.

बगबेस के ज़रिये साइबर सिक्योरिटी के फील्ड में काम करने वालों को अपनी आर्ट को मज़बूत करने, प्रैक्टिस करने कुछ नया सीखने और प्रोफेशनली ग्रो करने का मौका मिलता है.

आपको बता दें कि हैकिंग एक नेटवर्क या सिस्टम में कमजोरियों का फायदा उठाने की एक प्रक्रिया है, जिसमें दुर्भावनापूर्ण गतिविधियों को अंजाम देने के लिए सिस्टम में अनधिकृत पहुंच प्राप्त करना, जिसमें जानकारी की चोरी करना, सिस्टम को नुकसान पहुंचाना या सिस्टम फाइलों को हटाना शामिल है.

दूसरी ओर, एथिकल हैकिंग एक कानूनी प्रथा है और कंपनियों द्वारा पेशेवरों को एक नेटवर्क में कमजोरियों को इंगित करने और इसे सुरक्षित बनाने में मदद करने के लिए काम पर रखा जाता है. एथिकल हैकिंग उन हमलों को रोकने के लिए एक अभ्यास है जो किसी कंपनी या व्यक्ति को नुकसान पहुंचा सकते हैं. प्रसिद्ध एथिकल हैकर्स की बहुत मांग है और उन्हें प्रशिक्षित करने के लिए विभिन्न एथिकल हैकिंग कोर्स उपलब्ध हैं.

यह स्टार्टअप YourStory की साल 2022 की Tech30 लिस्ट का हिस्सा है.

YourStory हर साल अपने सिग्नेचर इवेंट TechSparks में आपके लिए कई हज़ारों में से चुनकर लाता है Tech30 लिस्ट में ऐसे 30 स्टार्टअप जो देश को बदल देने के साथ साथ अरबों की कंपनियां बनने की ताकत रखते हैं.

Tech30 ने बीते 11 साल में 330 से ज्यादा स्टार्टअप्स को प्रोफाइल कर उनके बारे में दुनिया को बताया है, 35,000 से ज्यादा नौकरियां देने में मदद की है, 300 करोड़ डॉलर से भी ज्यादा की फंडिंग इसकी मदद से आई है और 675 से भी ज्यादा युवा फाउंडर्स को हमने कुछ कर दिखाने की ताकत दी है. Tech30 लिस्ट का हिस्सा रहे 5 ऐसे स्टार्टअप हैं जो यूनिकॉर्न बन चुके हैं. यानी उनका वैल्यूएशन 100 करोड़ डॉलर से ज्यादा है और ये सिलसिला अभी रुका नहीं है.

यह भी पढ़ें
Covid 19 जैसे बुरे दिन कभी नहीं आने देगा ये स्टार्टअप


Edited by Prateeksha Pandey