The 4-Hour WorkWeek: फाइनेंशियल फ्रीडम जल्दी हासिल करने की अहमियत और तरीके बताती ये किताब

By yourstory हिन्दी
January 21, 2023, Updated on : Sat Jan 21 2023 08:33:45 GMT+0000
The 4-Hour WorkWeek: फाइनेंशियल फ्रीडम जल्दी हासिल करने की अहमियत और तरीके बताती ये किताब
Timothy Ferris की किताब The 4 Hour Work a Week की 1.3 मिलियन कॉपी बिक चुकी हैं. 35 से ज्यादा भाषाओं में अनुवाद हो चुका है. किताब ने लगातार चार सालों तक न्यू यॉर्क टाइम्स की बेस्टलेसलर्स किताबों में जगह बनाई है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

इस भागदौड़ भरी जिंदगी में सभी चीजों के लिए टाइम निकालना बहुत मुश्किल हो जाता है. फिर हम परेशान होकर अपनी लाइफस्टाइल को बदलने का मोर्चा उठाते हैं. समझ नहीं आता कहां से शुरुआत करें, किस आदत को छोड़ें और किसे शुमार करें.


ऐसे ही लोगों की मदद करने के इरादे से टिम फेरिस ने The 4-Hour WorkWeek नाम कि किताब लिखी है. इस किताब की 1.3 मिलियन कॉपी बिक चुकी हैं. 35 से ज्यादा भाषाओं में अनुवाद हो चुका है. किताब ने लगातार चार सालों तक न्यू यॉर्क टाइम्स की बेस्टलेसलर्स किताबों में जगह बनाई है.


टिम फेरिस तीन #1 NYT/WSJ बेस्टसेलर किताबोंः The 4-Hour Workweek, The 4-Hour Body, और The 4-Hour Chef के ऑथर हैं. फेरिस एक स्टार्टअप में एडवाइजर भी हैं.


इस किताब में टिम फेरिस फाइनैंशियल फ्रीडम हासिल करने के लिए जरूरी तरीके और माइंडसेट के बारे में बात करते हैं. गेटिंग थिंग्स डन यानी किसी काम को पूरा करने और ज्यादा से ज्यादा से टाइम अपने लिए निकालने के तरीकों के बारे में बात करते हैं.

किताब को पढ़ते हुए मन में मिले जुले ख्याल आते हैं.


किताब में ऐसे ढेरों टूल्स दिए हुए हैं जिन्हें देखकर लगता है कि आपके पास जिंदगी को ट्रैक पर लाने के लिए ऑर्गनाइज्ड करने के लिए सारे टूल्स हैं.


लेकिन दूसरी तरफ टिम फेरिस जिस लाइफस्टाइल की बात कर रहे होते हैं उससे थोड़ी निराशा भी हो जाती है कि आप उस लाइफस्टाइल से कितनी दूर हैं. मन में ये भी ख्याल आते हैं कि ये लाइफस्टाइल मेरे लिए है भी या नहीं, कभी-कभी ये भी लग जाता है कि मुझे शायद इतना भी परफेक्ट नहीं होना.


लेकिन सभी तरह के ख्याल आना बिल्कुल जायज है. क्योंकि सबसे अहम चीज यही है कि आप सोच रहे हैं. ये किताब आपको अपनी मौजूदा लाइफस्टाइल, जिंदगी के बारे में सोचने पर मजबूर करती है. कौन सी गलतियां आप कर रहे हैं, उन्हें सही करने के लिए आपको क्या कदम उठाने चाहिए.


हालांकि इसका मतलब ये नहीं कि ये किताब हर किसी के लिए बनी है. बहुत मुमकिन है कि आपके मन में सवाल उठे कि टिम फेरिस की लाइफस्टाइल को कॉपी क्यों करना. इसलिए आप इस किताब को पढ़ सकते हैं लेकिन अगर इसे लेकर मन में मिले जुले ख्याल आ रहे हैं तो कोई बिल्कुल आने दीजिए. उन्हीं टूल्स को ट्राई कीजिए जिनसे आपको लगता है कि आपकी जिंदगी में कुछ बेहतर चेंजेज होंगे.

किस बारे में बात करती है किताब?

  • अपने गोल्स और ऑब्जेक्टिव्स को कैसे डिफाइन करें?
  • जिंदगी से डिस्ट्रैक्शन कैसे दूर करें और ज्यादा से ज्यादा फ्री टाइम कैसे बचाएं?
  • इफेक्टिव और एफिशिएंट होने में फरक को पहचानें?
  • बेकाम की चीजों पर से फोकस करने और काम की चीजों पर फोकस बढ़ाने के लिए परेटोज रूल को कैसे अपनाएं?
  • ना कहना कैसे सीखें?
  • हल्के फुल्के कामों के लिए वर्चुअल असिस्टेंट का यूज कैसे बढ़ाएं?
  • प्रोडक्टिविटी के लिए बेस्ट ऑनलाइन टूल डिस्कवर करें?

Edited by Upasana

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close