मेघालय में एशिया का पहला ड्रोन डिलीवरी हब शुरू, राज्य के लोगों को ऐसे होगा फायदा

By yourstory हिन्दी
December 07, 2022, Updated on : Wed Dec 07 2022 06:09:29 GMT+0000
मेघालय में एशिया का पहला ड्रोन डिलीवरी हब शुरू, राज्य के लोगों को ऐसे होगा फायदा
अपनी पहली फ्लाइट में TechEagle के वर्टिप्लेन X3 ड्रोन ने विभिन्न हेल्थकेयर प्रॉडक्ट्स की डिलीवरी की.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

मेघालय सरकार ने ‘टेक ईगल’ (TechEagle) नाम के स्टार्टअप के साथ साझेदारी में एशिया के पहले ड्रोन डिलीवरी केंद्र एवं नेटवर्क की शुरुआत की है. इसका उद्देश्य राज्यभर के लोगों को स्वास्थ्य देखभाल तक पहुंच देना है. जारी किए गए एक बयान में बताया गया कि इस परियोजना का उद्देश्य ड्रोन डिलीवरी नेटवर्क के जरिए राज्य के विभिन्न हिस्सों में दवा, जांच के नमूने, टीके जैसी जरूरी चीजों की आपूर्तियों को सुरक्षित तरीके से एवं जल्द से जल्द पहुंचाना है.


टेक-ईगल का कहना है कि इस सेवा के लिए एक केंद्र के तौर पर काम करने वाले जांगजेल सब डिवीजनल हॉस्पिटल से सोमवार को पहली आधिकारिक ड्रोन उड़ान रवाना हुई. इसके जरिए 30 मिनट से भी कम वक्त में एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तक दवाओं की डिलीवरी की गई. सड़क मार्ग से यहां तक पहुंचने में 2.5 घंटे का वक्त लगता. अपनी पहली फ्लाइट में TechEagle के वर्टिप्लेन X3 ड्रोन ने विभिन्न हेल्थकेयर प्रॉडक्ट्स की डिलीवरी की.

27 लाख लोगों तक स्वास्थ्य सेवा की यूनिवर्सनल एक्सेस

TechEagle के अनुसार, मेघालय ड्रोन डिलीवरी नेटवर्क (MDDN) और हब, फेज 1 में 50 किलोमीटर के दायरे में एक केंद्रीय हब और 25 स्पोक्स (सप्लाई चेन नोड्स) का एक कॉम्बिनेशन है, जहां जेंगल अस्पताल में ड्रोन हब सेंटर पॉइंट के रूप में कार्य करेगा. एमडीडीएन मेघालय के 27 लाख लोगों के लिए स्वास्थ्य सेवा तक यूनिवर्सनल एक्सेस मुहैया कराएगा. एशिया के पहले ड्रोन डिलीवरी नेटवर्क के साथ यह समाधान, विजिबिलिटी की कमी, उच्च वितरण लागत, पुरानी तकनीक और सड़क व रेलवे नेटवर्क के माध्यम से दुर्गमता की समस्या पर काबू पाता है.

ड्रोन, छोटे क्षेत्रों से वर्टिकल टेकऑफ़ और लैंडिंग में सक्षम

TechEagle के ड्रोन छोटे क्षेत्रों से वर्टिकल टेकऑफ़ और लैंडिंग करने में सक्षम हैं, जो कंपनी के अनुरूप नेटवर्क में स्वास्थ्य संबंधी उत्पादों के फॉरवर्ड और रिवर्स लॉजिस्टिक्स दोनों को सक्षम बनाता है. TechEagle के संस्थापक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी विक्रम सिंह ने कहा,‘‘मेघालय ड्रोन डिलीवरी नेटवर्क (एमडीडीएन) एवं हब की शुरुआत दुनियाभर में स्वास्थ्य देखभाल एवं लॉजिस्टिक्स तक यूनिवर्सल एक्सेस के लक्ष्य को हासिल करने की दिशा में पहला बड़ा कदम है.’’


Edited by Ritika Singh