नेटफ्लिक्स को पीछे छोड़ टिंडर बना सबसे ज्यादा कमाने वाला ऐप, टिकटॉक को मिली बढ़त

By Sohini Mitter
April 15, 2019, Updated on : Thu Sep 05 2019 07:32:06 GMT+0000
नेटफ्लिक्स को पीछे छोड़ टिंडर बना सबसे ज्यादा कमाने वाला ऐप, टिकटॉक को मिली बढ़त
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

सांकेतिक तस्वीर

डिजिटल मीडिया की दुनिया में सबसे ज्यादा कमाई करने वाले वीडियो स्ट्रीमिंग एंटरटेनमेंट ऐप नेटफ्लिक्स से यह ताज छिन चुका है। 2019 की पहली तिमाही में डेटिंग ऐप टिंडर ने नेटफ्लिक्स को कमाई के मामले में पीछे छोड़ दिया है। ऐप इंटेलिजेंस फर्म 'सेंसर टॉवर' ने एक स्टडी में खुलासा किया कि डेटिंग ऐप टिंडर गूगल प्ले स्टोर और ऐप्पल ऐप स्टोर से 260.7 मिलियन डॉलर की कमाई करता है, जबकि नेटफ्लिक्स का रेवेन्यू पिछली तिमाही के मुकाबले 15 प्रतिशत कम हो गया है। इस बीच, टिंडर ने अपने तिमाही-दर-तिमाही रेवेन्यू में 42 प्रतिशत की वृद्धि की।


 दरअसल इस साल नेटफ्लिक्स ने 'ऐपल टैक्स' का भुगतान करने से इंकार कर दिया था इस वजह से उसकी कमाई में गिरावट आ गई। ऐपल टैक्स एक ऐसा टैक्स है जो iOS प्लेटफॉर्म पर भुगतान करना पता है। नेटफ्लिक्स को 853 लाख डॉलर की आमदनी हुई थी, जिसका एक हिस्सा ऐपल को भी मिलना था, लेकिन नेटफ्लिक्स ने इस टैक्स को देने से इंकार कर दिया था।


वहीं दूसरी ओर टिंडर ने भारत सहित दुनिया के सभी उभरते बाजारों में तेजी से बढ़त हासिल की है। यह प्लेस्टोर इंडिया पर सबसे अधिक कमाई करने वाला ऐप है। इसके द्वारा प्रदान की जाने वाली टिंडर गोल्ड जैसी सेवाओं ने भारतीयों को लुभाने में कामयाबी हासिल की है। हालांकि टिंडर हर देश का अलग-अलग डेटा नहीं साझा करता है, लेकिन इसकी गोल्ड सर्विस लेने वालों में दुनिया के 30 लाख से भी अधिक लोग हैं। इसमें से 17 लाख लोगों ने अकेले 2018 में यह सर्विस ली है।


टिंडर और नेटफ्लिक्स के अलावा, अन्य शीर्ष कमाई वाले ऐप्स में Tencent वीडियो, iQIYI, YouTube, Pandora, क्वाई, लाइन, लाइन मैंगा और Youku शामिल हैं। अगर इस लिस्ट पर नजर डालें तो पता चलता है कि कमाई के मामले में वीडियो स्ट्रीमिंग ऐप्स का दबदबा है और लोगों में पैसे खर्च करके अच्छी क्वॉलिटी में कॉन्टेंट देखने की प्रवृत्ति बढ़ रही है।


नॉन पेड ऐप में टिक-टॉक तेजी से बढ़ रहा

अगर नॉन पेड यानी मुफ्त में इस्तेमाल किए जाने वाले ऐप्स पर नजर दौड़ाएं तो वॉट्सऐप अभी भी नंबर वन पर बना है। उसके बाद फेसबुक मैसेंजर,टिकटॉक. फेसबुक और इंस्टाग्राम का नंबर आता है। इनके बाद शेयरइट, यूट्यूब, लाइक वीडियो, नेटफ्लिक्, और स्नैपचैट हैं। 2019 की पहली तिमाही में टिकटॉक यूजर्स की संख्या में सबसे ज्यादा इजाफा हुआ। सेंसर टॉवर की रिपोर्ट के मुताबिक, "2018 के मुकाबले इस साल की पहली तिमाही में 70 प्रतिशत अधिक वृद्धि हुई है। 2018 में इस ऐप को 1 करोड़ दस लाख लोगों ने इंस्टॉल किया था।'


इसमें भी भारत में सबसे ज्यादा टिकटॉक यूजर्स की संख्या बढ़ रही है। पिछले तीन महीने में 8.8 करोड़ यूजर्स ने इस प्लेटफॉर्म पर अकाउंट बनाया है। हालांकि भारत में हाल ही में मद्रास हाई कोर्ट ने इस ऐप पर पाबंदी लगाने के आदेश दिए थे। कुलमिलाकर देखें तो गूगल ऐप स्टोर पर टिकटॉक को 1.1 बिलियन से भी ज्यादा लोगों ने इंस्टॉल किया है। ऐपस्टोर के माध्यम से टिकटॉक ने 8 करोड़ डॉलर की कमाई की।


यह भी पढ़ें: गर्मी की तपती धूप में अपने खर्च पर लोगों की प्यास बुझा रहा यह ऑटो ड्राइवर