शेयर बाजार लगातार दूसरे दिन लाल निशान में बंद, फोर्टिस हेल्थकेयर 15% गिरा

By Ritika Singh
September 22, 2022, Updated on : Thu Sep 22 2022 12:31:34 GMT+0000
शेयर बाजार लगातार दूसरे दिन लाल निशान में बंद, फोर्टिस हेल्थकेयर 15% गिरा
पूरे दिन में सेंसेक्स ने 59457.58 का उच्च स्तर और 58832.78 का निचला स्तर छुआ.
Clap Icon0 claps
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 claps
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

घरेलू शेयर बाजारों (Stock Markets) में गुरुवार को लगातार दूसरे दिन गिरावट रही और BSE Sensex 337 अंक से अधिक टूटकर बंद हुआ. अमेरिकी फेडरल रिजर्व के नीतिगत दर में वृद्धि करने और वैश्विक स्तर पर कमजोर रुख के बीच बाजार नीचे आया. तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 337.06 अंकों की गिरावट के साथ 59119.72 पर बंद हुआ. पूरे दिन में सेंसेक्स ने 59457.58 का उच्च स्तर और 58832.78 का निचला स्तर छुआ.


सेंसेक्स के शेयरों में पावरग्रिड, HDFC बैंक, HDFC लिमिटेड, एक्सिस बैंक, बजाज फिनसर्व, ICICI बैंक और अल्ट्राटेक सीमेंट प्रमुख रूप से नुकसान में रहे. पावरग्रिड का शेयर 2.80 प्रतिशत टूटा. दूसरी तरफ लाभ में रहने वाले शेयरों में टाइटन, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एशियन पेंट्स, मारुति और ITC शामिल हैं. टाइटन का शेयर 2.73 प्रतिशत की तेजी के साथ बंद हुआ.

Nifty50 की कैसी रही चाल

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी (NSE Nifty) 88.55 अंकों की गिरावट के साथ 17629.80 पर बंद हुआ. निफ्टी के सेक्टोरल इंडेक्सेज में गिरावट और तेजी का मिलाजुला रुख रहा. प्राइवेट बैंक शेयर सबसे ज्यादा 1.42 प्रतिशत गिरे. निफ्टी पर टाइटन, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एशियन पेंट्स, मारुति, आयशर मोटर्स टॉप गेनर्स रहे. दूसरी ओर पावरग्रिड, HDFC बैंक, एक्सिस बैंक, HDFC और ONGC टॉप लूजर्स रहे.

फोर्टिस हेल्थकेयर 15% टूटा

सुप्रीम कोर्ट ने Fortis Healthcare Limited के लिए IHH के ओपन ऑफर पर रोक को बरकरार रखा है. कोर्ट ने IHH हेल्थकेयर को शेयर बिक्री के लिए ट्रांजैक्शन के ऑडिट के लिए फॉरेंसिक जांच का आदेश देने के साथ कहा कि IHH के ओपन ऑफर पर फैसला दिल्ली हाईकोर्ट लेगा. कोर्ट ने दाइची मामले का निपटारा किया और सिंह बंधुओं को 6 महीने जेल की सजा भी सुनाई. इसके बाद फोर्टिस हेल्थकेयर के शेयरों में तगड़ी गिरावट आई. एनएसई पर शेयर लगभग 15 प्रतिशत टूटकर 264.80 रुपये और बीएसई पर 14.75 प्रतिशत गिरकर 265.30 रुपये पर बंद हुआ है. कंपनी का मार्केट कैप बीएसई के मुताबिक, 20029.04 करोड़ रुपये पर आ गया है.

सुजलॉन एनर्जी 14% चढ़ा

सुजलॉन एनर्जी का शेयर बीएसई पर 12.88 प्रतिशत की बढ़त के साथ 9.64 रुपये और एनएसई पर 14.04 प्रतिशत की बढ़त के साथ 9.75 रुपये पर बंद हुआ है. राइट्स इश्यू के लिए मूल्य निर्धारण सहित नियमों व शर्तों पर विचार और अप्रूवल्स को लेकर कंपनी के निदेशक मंडल की बैठक 25 सितंबर को होने की घोषणा के बाद कंपनी के शेयरों में तेजी आई.

वैश्विक बाजारों में कैसा रहा ट्रेंड

शेयर बाजार के आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी संस्थागत निवेशकों ने दो दिन की लिवाली के बाद बुधवार को शुद्ध रूप से 461.04 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे. एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का निक्केई, चीन का शंघाई कंपोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहे. यूरोपीय शेयर बाजारों में शुरुआती कारोबार में गिरावट का रुख था. अमेरिकी बाजार में बुधवार को गिरावट रही. फेडरल रिजर्व ने बेंचमार्क रेट में 0.75 प्रतिशत की बढ़ोतरी की है. फेड रिजर्व ने साल के अंत तक नीतिगत दर बढ़ाकर 4.4 प्रतिशत करने का संकेत दिया है. इसके साथ अमेरिकी-डॉलर सूचकांक 111 से ऊपर चला गया.

रुपया 90 पैसे टूटकर सर्वकालिक निचले स्तर पर

अमेरिका के केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरें बढ़ाने और आगे भी सख्त रुख बनाए रखने के स्पष्ट संकेत से निवेशकों की धारणा प्रभावित हुई, जिसके चलते रुपया 90 पैसे की बड़ी गिरावट के साथ 80.86 प्रति डॉलर (अस्थायी) के अपने सर्वकालिक निचले स्तर पर बंद हुआ. फेडरल रिजर्व के दरों में बढ़ोतरी करने और यूक्रेन में भूराजनीतिक तनाव बढ़ने की वजह से निवेशक जोखिम उठाने से बच रहे हैं. विदेशी बाजारों में अमेरिकी मुद्रा की मजबूती, घरेलू शेयर बाजार में गिरावट और कच्चे तेल के दामों में बढ़ोतरी भी रुपये को प्रभावित कर रही है. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 80.27 पर खुला. दिन में कारोबार के दौरान यह और गिरकर 80.95 के सर्वकालिक निचले स्तर पर पहुंच गया. अंत में यह 80.86 पर बंद हुआ, जो पिछले बंद भाव के मुकबले 90 पैसे की गिरावट दर्शाता है. छह प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर की मजबूती को आंकने वाला डॉलर सूचकांक 0.38 प्रतिशत बढ़कर 110.06 पर पहुंच गया.