शेयर बाजारों में रौनक लौटी, सेंसेक्स 684 अंक उछलकर बंद

By Ritika Singh
October 14, 2022, Updated on : Fri Oct 14 2022 11:41:43 GMT+0000
शेयर बाजारों में रौनक लौटी, सेंसेक्स 684 अंक उछलकर बंद
शुक्रवार सुबह सेंसेक्स 58,162.74 पर खुला. पूरे दिन में इसने 58,435.12 का उच्च स्तर और 57,848.23 का निम्न स्तर छुआ.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

घरेलू शेयर बाजारों (Stock Markets) में शुक्रवार को तेजी लौटी और BSE Sensex में 684 अंक से अधिक की मजबूती आई. वैश्विक शेयर बाजारों में तेजी के बीच इन्फोसिस (Infosys) और बैंक शेयरों में भारी लिवाली से बाजार बढ़त में रहा. तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 684.64 अंकों की तेजी के साथ 57,919.97 पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान एक समय यह 1,199.79 अंक तक चढ़ गया था. शुक्रवार सुबह सेंसेक्स 58,162.74 पर खुला. पूरे दिन में इसने 58,435.12 का उच्च स्तर और 57,848.23 का निम्न स्तर छुआ.


सेंसेक्स के शेयरों में इन्फोसिस सबसे ज्यादा करीब चार प्रतिशत मजबूत हुआ. इसके अलावा HDFC बैंक, HDFC लि., HCL टेक्नोलॉजीज, लार्सन एंड टुब्रो, ICICI बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, बजाज फाइनेंस और भारतीय स्टेट बैंक में भी तेजी रही. सेंसेक्स पर लिस्टेड 30 कंपनियों में से 10 कंपनियों के शेयर गिरावट के साथ बंद हुए हैं. नुकसान में रहने वाले शेयरों में महिंद्रा एंड महिंद्रा, एशियन पेंट्स, रिलायंस इंडस्ट्रीज, विप्रो, भारती एयरटेल और पावरग्रिड शामिल हैं. सबसे ज्यादा 1.40 प्रतिशत महिन्द्रा एंड महिन्द्रा टूटा.


इन्फोसिस के शेयरों में आई तेजी की वजह इसका दूसरी तिमाही परिणाम और शेयर बायबैक की घोषणा है. जुलाई-सितंबर 2022 तिमाही में इन्फोसिस का एकीकृत शुद्ध लाभ 11 प्रतिशत बढ़कर 6,021 करोड़ रुपये रहा. कंपनी ने 9,300 करोड़ रुपये मूल्य के शेयरों की पुनर्खरीद की घोषणा की है.

Nifty50 की स्थिति

इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 171.35 अंकों की बढ़त के साथ 17,185.70 पर बंद हुआ. एनएसई के सेक्टोरल इंडेक्स में गिरावट और तेजी का मिलाजुला रुख रहा है. इन्फोसिस, एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी, एचसीएल टेक्नोलॉजीस, आईसीआईसीआई बैंक टॉप गेनर्स रहे. दूसरी ओर ओएनजीसी, जेएसडब्ल्यू स्टील, महिन्द्रा एंड महिन्द्रा, बजाज ऑटो और अडानी एंटरप्राइजेस टॉप लूजर्स रहे.

वैश्विक बाजारों की कैसी रही चाल

एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का निक्केई, चीन का शंघाई कंपोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग लाभ में रहे. यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में तेजी का रुख रहा. अमेरिकी शेयर बाजार वॉल स्ट्रीट में गुरुवार को बड़ी तेजी रही. इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.81 प्रतिशत की गिरावट के साथ 93.80 डॉलर प्रति बैरल पर रहा.

रुपये में गिरावट जारी

अमेरिकी मुद्रा की तुलना में रुपया शुक्रवार को आठ पैसे फिसलकर 82.32 प्रति डॉलर (अस्थायी) पर बंद हुआ. अमेरिकी मुद्रा में मजबूती और निवेशकों के जोखिम लेने से बचने के कारण रुपये के मूल्य में गिरावट आई. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 82.26 पर खुला और कारोबार के दौरान 82.12 के उच्च स्तर तक गया और 82.43 के निचले स्तर तक आया. अंत में रुपया पिछले बंद भाव के मुकाबले आठ पैसे की गिरावट लेकर 82.32 प्रति डॉलर पर बंद हुआ.