Air India पर अमेरिका में 11 करोड़ रुपये से ज्यादा का जुर्माना, जानें क्या है मामला

By yourstory हिन्दी
November 15, 2022, Updated on : Tue Nov 15 2022 08:41:24 GMT+0000
Air India पर अमेरिका में 11 करोड़ रुपये से ज्यादा का जुर्माना, जानें क्या है मामला
रिफंड में देरी के ये मामले टाटा समूह के हाथों एयर इंडिया का अधिग्रहण होने के पहले के हैं.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

अमेरिकी सरकार ने भारत की एयर इंडिया (Air India) पर 14 लाख डॉलर (करीब 1136.25 करोड़ रुपये) का जुर्माना लगाया है. अमेरिकी सरकार ने यह जुर्माना कोविड-19 महामारी के दौरान एयर इंडिया उड़ानों के रद्द होने या उनके शिड्यूल में बदलाव से प्रभावित यात्रियों को टिकट के पैसे लौटाने में हुई देरी के लिए लगाया है. अमेरिकी परिवहन विभाग ने सोमवार को कहा कि एयर इंडिया उन 6 एयरलाइंस में शामिल है, जिन्हें यात्रियों को रिफंड के रूप में कुल 60 करोड़ डॉलर लौटाने का निर्देश दिया गया है. एयर इंडिया को भी 12.15 करोड़ डॉलर लौटाने को कहा गया है.


अधिकारियों ने कहा कि एयर इंडिया का यात्रियों के 'अनुरोध पर रिफंड' करने का प्रावधान, अमेरिकी परिवहन विभाग की नीतियों के विपरीत है. अमेरिकी सरकार ने यह नियम बना रखा है कि उड़ान रद्द होने या उसमें बदलाव होने पर एयरलाइन को यात्रियों के टिकट के पैसे कानूनी तौर पर रिफंड करने होंगे.

टाटा की होने के पहले के हैं ये मामले

रिफंड में देरी के ये मामले टाटा समूह के हाथों एयर इंडिया का अधिग्रहण होने के पहले के हैं. एक विभागीय जांच में यह पाया गया कि एयर इंडिया ने 1900 रिफंड शिकायतों के आधे से अधिक आवेदनों पर कार्रवाई करने में निर्धारित 100 दिनों से अधिक समय लगाया. एयर इंडिया शिकायत दर्ज कराने वाले और सीधे एयरलाइन को रिफंड रिक्वेस्ट भेजने वाले यात्रियों को रिफंड प्रॉसेस करने में लगे समय के बारे में एजेंसी को जानकारी प्रदान नहीं कर सकी. अमेरिकी परिवहन विभाग ने कहा कि एयर इंडिया ने अपनी रिफंड पॉलिसी के अनुरूप समय पर रिफंड नहीं दिया. नतीजतन, उपभोक्ताओं को अपने रिफंड प्राप्त करने में अत्यधिक देरी से काफी नुकसान हुआ.


एयर इंडिया ने सितंबर 2022 में उड़ानों के इकनॉमी क्लास में वरिष्ठ नागरिकों (Senior Citizen) और छात्रों को मूल किराये पर दी जाने वाली छूट को आधा कर दिया था. मूल किराये में संशोधित छूट 29 सितंबर से प्रभावी है. इससे पहले तक एयर इंडिया इकनॉमी क्लास में, सीनियर सिटीजन व छात्र कैटेगरी में चुनिंदा ​बुकिंग श्रेणियों पर ​हवाई टिकट के मूल किराए पर 50 प्रतिशत की छूट दे रही थी.

बाकी एयरलाइंस पर कितना जर्माना

एयर इंडिया के अलावा फ्रंटियर, टीएपी पु्र्तगाल, एयरो मेक्सिको, EI AI और एविएंका एयरलाइंस पर भी अमेरिकी सरकार ने जुर्माना लगाया है. फ्रंटियर को रिफंड में 22.2 करोड़ डॉलर और जुर्माने में 22 लाख डॉलर का भुगतान करने का आदेश दिया गया. टीएपी पुर्तगाल 12.65 करोड़ डॉलर के रिफंड और 11 लाख डॉलर का जुर्माना अदा करेगी, एवियांका 7.68 करोड़ डॉलर के रिफंड देगी और 750,000 डॉलर का जुर्माना भरेगी. EI AI 6.19 करोड़ डॉलर के रिफंड और 900,000 डॉलर का जुर्माना देगी, वहीं एयरो मैक्सिको 1.36 करोड़ डॉलर के रिफंड देगी और 90,000 डॉलर का जुर्माना भरेगी.



Edited by Ritika Singh