इस युगल ने अपनी शादी से 37 लाख रुपये बचाकर कोरोना रिलीफ़ फंड में दिए दान, सादे ढंग से की मंदिर में शादी

ऐसा करने वाले अनु और अरुल तमिलनाडु के तिरुपुर के निवासी हैं, जिनकी शादी इसी महीने यानी 14 जून को सम्पन्न हुई थी।

इस युगल ने अपनी शादी से 37 लाख रुपये बचाकर कोरोना रिलीफ़ फंड में दिए दान, सादे ढंग से की मंदिर में शादी

Friday June 25, 2021,

3 min Read

"तिरुपुर वेस्ट रोटरी क्लब के सदस्य होने के नाते अनु और अरुल के परिवार ने संगठन द्वारा चलाए जा रहे तमाम नेक कामों के लिए भी पैसे दान किए हैं। यह मामला सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद अब देश भर में लोग अनु और अरुल के इस कदम की प्रशंसा कर रहे हैं।"

k

फोटो साभार : Sutram Arivom

भारत में एक मध्यमवर्गीय परिवार आमतौर पर अपने घर की शादियों पर लाखों रुपये खर्च करता है, हालांकि यह बात हमेशा से उठती रही है कि किस तरह इन शादियों को सामान्य ढंग से सम्पन्न कर खर्चों में कटौती कर पैसों की बचत की जा सकती हैं।


इस बीच एक नवविवाहित जोड़े ने कुछ इसी तरह का सराहनीय काम कर एक मिसाल हम सभी के सामने पेश की है।


मालूम हो कि इस नवविवाहित जोड़े ने अपनी शादी में खर्चों में भारी कटौती करते हुए करीब 37 लाख रुपये बचाए और फिर उन पैसों को कोरोना रिलीफ़ फंड में दान कर दिया।

तय था लाखों का बजट

ऐसा करने वाले अनु और अरुल तमिलनाडु के तिरुपुर के निवासी हैं, जिनकी शादी इसी महीने यानी 14 जून को सम्पन्न हुई थी। आम जोड़े की तरह अनु और अरुल भी शुरुआत में अपनी शादी को धूमधाम से सम्पन्न करने की योजना तैयार कर रहे थे और इसके लिए दोनों ने मिलकर करीब 50 लाख रुपये का बजट तय किया था।


जारी कोरोना महामारी को देखते हुए यूं तो शादी में कम मेहमानों को ही आमंत्रित किया गया था और इसी वजह से अनु और अरुल अपनी शादी के खर्चों में एक बड़ी कटौती भी कर सके और इस तरह उनकी शादी में करीब 13 लाख रुपये का ही खर्च आया।

मंदिर में सम्पन्न हुई शादी

पुस्तैनी व्यापार संभाल रहे अरुल प्रणेश ने मीडिया से बात करते हुए बताया है कि कोरोना महामारी के चलते जारी प्रतिबंधों को देखते हुए कई मेहमानों ने शादी में हिस्सा लेने में असमर्थता जताई थी, इसी के साथ उन्होने शादी के लिए जिस हॉल को बुक किया था उसके मालिक ने भी उन्हें एडवांस किराया वापस कर दिया था।


इस बीच परिवार के बुजुर्गों ने शादी को स्थगित नहीं करने का फैसला किया था, इसलिए अनु और अरुल ने स्थानीय अधिकारियों की अनुमति के साथ कम मेहमानों की उपस्थिती में वट्टमलाई अंगलम्मन मंदिर में शादी की रस्में सम्पन्न की थीं।

दान कर दिये 37 लाख रुपये

अनु और अरुल ने अपनी शादी के खर्चों में इन कटौतियों के चलते करीब 37 लाख रुपये बचाए थे, जिन्हे फिर दोनों ने कोरोना महामारी के दौरान काम कर रही तमाम संस्थाओं को दान करने का निर्णय लिया। अनु और अरुल के इस फैसले को लेकर उनके परिवार के सभी सदस्यों ने खुल कर उनका समथन किया है।


तिरुपुर वेस्ट रोटरी क्लब के सदस्य होने के नाते अनु और अरुल के परिवार ने संगठन द्वारा चलाए जा रहे तमाम नेक कामों के लिए भी पैसे दान किए हैं। यह मामला सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद अब देश भर में लोग अनु और अरुल के इस कदम की प्रशंसा कर रहे हैं। 


गौरतलब है कि तमिलनाडु में कोरोना महामारी को देखते हुए राज्य सरकार ने राज्य में जारी लॉकडाउन को एक बार फिर बढ़ाते हुए इसे फिलहाल 28 जून तक लागू करने का फैसला किया है।


Edited by Ranjana Tripathi