अभी पढ़िए, पैसे बाद में दीजिए: डेटा साइंस के कोर्स से देश में स्किल लोगों की कमी को पूरा करना चाहता है यह एडटेक स्टार्टअप

अभी पढ़िए, पैसे बाद में दीजिए: डेटा साइंस के कोर्स से देश में स्किल लोगों की कमी को पूरा करना चाहता है यह एडटेक स्टार्टअप

Wednesday September 01, 2021,

7 min Read

कोलकाता के उद्यमी निर्पेक्ष कुंभट ने 2019 में अपना स्टार्टअप शुरू करने से पहले ही एजुकेशन सेक्टर में काम करते थे।


वह "यूनाइटेड किंगडम में उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा के संपर्क में" रहे हैं, जहां पहले उन्होंने यूनिवर्सिटी ऑफ वारविक, और बाद में लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स से कोर्स किए। वह जानता थे कि अच्छी शिक्षा संभावनाओं की नई दुनिया खोल सकती है। जब वे 2017 में भारत लौटे तो उन्होंने कॉलेजों के साथ काम करना शुरू किया ताकि उन्हें अपने पाठ्यक्रम ऑनलाइन लाने में मदद मिल सके।


उन्होंने पाया कि भारत में अधिकांश शैक्षणिक संस्थानों में दो बड़ी दिक्कते थीं। पहला, उनके पास अपने पुराने पाठ्यक्रम को जॉब मार्केट की आधुनिक जरूरतों के हिसाब अपग्रेड करने के लिए संसाधन नहीं थे। दूसरा, वे लर्निंग से होने वाले फायदों पर ज्यादा जोर नहीं देते थे। इसलिए, अच्छी डिग्री वाले उम्मीदवार भी अक्सर बेरोजगार होते थे क्योंकि उनके कौशल इंडस्ट्री की आवश्यकताओं से मेल नहीं खाते थे।

k

टीम SkillEnable

इसे इन आंकड़ों से भी समझा जा सकता है: अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन के अनुसार 2019 में, 53 प्रतिशत भारतीय कंपनियां भविष्य की जरूरतों के मुताबिक नौकरी कौशल न होने के चलते उम्मीदवारों को नियुक्त करने में असमर्थ थी अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन के का अनुमान है कि भारत में 2030 तक 2.9 करोड़ प्रशिक्षित कौशल वाले लोगों की कमी होगी।

कौशल क्षमता की कमी को कम करना

निर्पेक्ष ने छात्रों को भविष्य के मुताबिक कौशल का प्रशिक्षण देने और इंडस्ट्री व शिक्षा के बीच इस व्यापक अंतर को पाटने में मदद करने के लिए स्किलएनेबल की स्थापना की। वह छात्रों को अपने करियर की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए सही पाठ्यक्रम चुनने में मदद करना चाहते थे।


वह योरस्टोरी को बताते हैं, “भारत में अधिकांश संस्थान का ध्यान केवल डिग्री देने पर है। प्लेसमेंट पर ध्यान नहीं है। लगभग 99 प्रतिशत संस्थान उम्मीदवारों के करियर को लेकर चिंतित नहीं हैं। साथ ही छात्रों को करियर काउंसलर द्वारा गुमराह किया जाता है। काउंसलर को जिस भी कोर्स के लिए उन्हें सबसे ज्यादा मार्जिन मिलता है, वे उन्हें छात्रों को बेच देते हैं।"


उन्होंने बताया, "हमने महसूस किया कि छात्रों को निर्णय लेने की प्रक्रिया में मदद की जरूरत है। हम एक ऐसा मंच बनाना चाहते हैं जो इन सभी मुद्दों को हल कर सके।"

क


छात्रों और कंपनियों दोनों के लिए फायदेमंद मॉडल बनाने के लिए करीब एक साल बाजार अनुसंधान के बाद, स्किलएनेबल ने जनवरी में अपना पहला कोहर्ट-आधारित पाठ्यक्रम शुरू किया। तब से इसने चार और समूह शुरू किए हैं, जिनमें से पहले बैच ने पिछले महीने स्नातक किया है।

यह ऑफर करता है, नौकरियों के लिए कोहर्ट-आधारित पाठ्यक्रम

स्किलएनेबल तकनीकी प्रतिभा को भविष्य के लिए तैयार करने के उद्देश्य रोजगार-केंद्रित डेटा साइंस कोर्स ऑफर करता है। कोर्स को विभिन्न इंडस्ट्री की मांगों को पूरा करने के लिए तैयार किए गया है।


उम्मीदवार तीन कार्यक्रमों में से चुन सकते हैं:

1. एआई और एमएल में डेटा साइंस में डीप डाइव (प्रमुख कोर्ट)


2. डेटा साइंस के फंडामेंटल


3. डेटा साइंस में फाउंडेशन कोर्स (दसवीं-बारहवीं कक्षा के छात्रों को ध्यान में रखकर)


संस्थापक बताते हैं, "फ्रेशर्स सबसे बड़ा टारगेट बाजार है, जिसे अधिकतम मदद की जरूरत होती है। यह एक गलत धारणा है कि केवल कुछ लोग ही डेटा साइंस का कोर्स कर सकते हैं। हम कह रहे हैं कि क्वांटेटिव योग्यता और सीखने की इच्छा रखने वाला कोई भी व्यक्ति हमारा पाठ्यक्रम ले सकता है। हम अर्थशास्त्र, बीकॉम और प्रबंधन के छात्रों को भी टारगेट करने की योजना बना रहे हैं। जिन्हें भी नंबरों की आदत है, वह कार्यक्रम में भाग ले सकते हैं।"

क

निर्पेक्ष कुंभट

प्रत्येक कार्यक्रम में नौकरी से संबंधित ट्रेनिंग, मॉक इंटरव्यू, , सॉफ्ट स्किल इनहांसमेंट, गिटहब सेशन, लिंक्डइन नेटवर्किंग, सीवी बिल्डिंग टिप्स और अन्य रोजगार-केंद्रित पहल शामिल हैं। छह महीने का यह कोर्स पूरी तरह से लाइव हैं, जिसमें प्रत्येक बैच का आकार 25 छात्रों का होता है।


निर्पेक्ष बताते हैं,

“हमारा कार्यक्रम इतना गहन है कि उम्मीदवारों को कठिन वातावरण में काम करने की आदत हो जाती है। उनकी रोजाना दो घंटे की क्लास होती है। शनिवार को उनका असेसमेंट होता है। हम उनके सीखने के डेटा को ट्रैक करते हैं और उन्हें कंपनियों को उम्मीदवारों के कौशल सेट का आकलन करने में मदद करने के लिए प्रदान कर सकते हैं।”

क

प्रत्येक कार्यक्रम में नौकरी से संबंधित ट्रेनिंग, मॉक इंटरव्यू, , सॉफ्ट स्किल इनहांसमेंट, गिटहब सेशन, लिंक्डइन नेटवर्किंग, सीवी बिल्डिंग टिप्स और अन्य रोजगार-केंद्रित पहल शामिल हैं।

स्किलएनेबल का दावा है कि उसके पास चयन के कड़े मानदंड हैं और वह दो प्रतिशत से भी कम आवेदकों का नामांकन करता है। अब तक, इसके समूह में 91 प्रतिशत प्लेसमेंट दर है। अल्गोस्केल, क्रेडिटबी, द मैथकंपनी, श्बैंग, ब्रिजी2आई, उगाम, कार्टेशियन कनसल्टिंग, जी-स्क्वायर सहित दूसरी ऐसी कंपनियां उम्मीदवारों को नौकरी की पेशकश करती हैं।

आय-साझा करने वाला एग्रीमेंट मॉडल

'स्टडी नाउ, पे लेटर' मॉडल पर आधारित दूसरे स्टार्टअप्स की तरह स्किलएनेबल भी एक आय-साझा करने वाले एग्रीमेंट (आईएसए) मॉडल पर काम करता है।


उम्मीदवार कोर्स की फीस (2.5 लाख रुपये) का भुगतान तभी करते हैं, जब वे न्यूनतम गारंटीकृत सीटीसी (नए लोगों के लिए 5-18 लाख सालाना और पेशेवरों के लिए 7-22 लाख सालाना) या अधिक कमाना शुरू करते हैं। स्किलएनेबल उनसे सीटीसी का पूर्वनिर्धारित प्रतिशत वसूल करती है।


निर्पेक्ष का मानना है कि यह मॉडल छात्रों के तनाव को कम करने में मदद करता है। साथ ही यह कोर्स को सभी तरह के उम्मीदवारों के लिए सुलभ बनाता है क्योंकि यहां कोर्स करने के लिए एडवांस में कोई पेमेंट नहीं देना होता है।" वे कहते हैं, "यह छात्रों को यह विश्वास भी देता है कि हम उनमें निवेश कर रहे हैं।"


हालांकि, स्टार्टअप अपने हायरिंग पार्टनर्स से कोई शुल्क नहीं लेता है। नौकरी के लिए तैयार उम्मीदवारों को उन्हें मुफ्त में ऑफर किया जाता है। संस्थापक कहते हैं, “हम एक एडटेक कंपनी हैं, एचआर कंपनी नहीं। हमारा एकमात्र लक्ष्य छात्रों को नौकरी पाने के लिए प्रशिक्षित करना है।”

क

स्किलएनेबल भी एक आय-साझा करने वाले एग्रीमेंट (आईएसए) मॉडल पर काम करता है।


वर्तमान में, इसके प्लेटफॉर्म पर प्रति माह 4,000 आवेदन आ रहे हैं और यह 2022 के अंत तक 300 से अधिक छात्रों को ग्रैजुएट करने की तैयारी में है। स्किलएनेबल ने 30-40 लाख रुपये का मंथली रन रेट छू लिया है और मार्च 2022 तक इसे 1 करोड़ रुपये तक बढ़ाने का लक्ष्य है।

विकास योजनाएं और भविष्य का रोडमैप

स्किलएनेबल की योजना हर महीने दो से तीन समूह लॉन्च करने की है। यह शैक्षणिक संस्थानों और परामर्श कंपनियों के साथ सह-ब्रांडेड पाठ्यक्रम विकसित करने पर भी विचार कर रहा है।


निर्पेक्ष कहते हैं,

"हम उनके लिए आधिकारिक डेटा साइंस पार्टनर बन जाएंगे। उनके नामों को हमारे साथ जोड़ने से हमें विश्वसनीयता हासिल करने में मदद मिलेगी।"


इस स्टार्टअप को संस्थापक ने अपने पैसे निवेश करके शुरू किया है। अब यह स्टार्टअप नए पाठ्यक्रम शुरू करने और प्रशिक्षकों की अपनी टीम को तैयार करने के लिए इस साल अंत तक अपने पहले दौर की फंडिंग जुटाना चाहती है।


यह कुछ छात्रों से एडवांस फीस लेने के लिए कुछ एजुकेशन फाइनेंस कंपनियों से साझेदारी कर रही है, जिसमें एनेबलकैप, प्रॉपल्ड, फाइनंसपीयर, एडवैंज जैसी कंपनियों शामिल हैं। स्किलएनेबल का व्यापक लक्ष्य एप्लिकेशन-टू-प्लेसमेंट चक्र में वन-स्टॉप समाधान बनना और उद्योग-अकादमिक गठबंधन को मजबूत करना है। अपने सेगमेंट में यह स्टार्टअप अल्माबेटर, स्किल-लिंक, ब्रिजलैबज, न्यूटन स्कूल, नॉलेजहट (हाल ही में अपग्रेड द्वारा अधिग्रहित), एक्ससेलेरो, स्किलेंजा जैसी कंपनियों के साथ मैदान में है। यह मार्केट काफी कड़ी प्रतिस्पर्धा वाला है, जहां अपस्किलिंग और हायरिंग पर केंद्रित है।


फिर इसकी खासितय क्या है?

निर्पेक्ष कहते हैं, ''पूर्वी भारत में हमारा कोई प्रतिस्पर्धी नहीं है।" वह कहते हैं, "हम बहुत से सिटी कॉलेजों के जरिए करते हैं, जिनके पास कोई साझेदार नहीं है। अधिकतर कंपनियां शहर में मौजूद टैलेंट को हायर करना चाहती हैं।"


आज एडटेक में बढ़ती प्रतिस्पर्धा (और अधिग्रहण) के बावजूद, स्किलएनेबल को पक्का भरोसा है कि भारत की विशाल युवा आबादी हर किसी के विकास के लिए जगह बनाएगी।


संस्थापक कहते हैं, "भारत में अभी 10 और बॉयजू हो सकते हैं।"



YourStory की फ्लैगशिप स्टार्टअप-टेक और लीडरशिप कॉन्फ्रेंस 25-30 अक्टूबर, 2021 को अपने 13वें संस्करण के साथ शुरू होने जा रही है। TechSparks के बारे में अधिक अपडेट्स पाने के लिए साइन अप करें या पार्टनरशिप और स्पीकर के अवसरों में अपनी रुचि व्यक्त करने के लिए यहां साइन अप करें।


TechSparks 2021 के बारे में अधिक जानकारी पाने के लिए यहां क्लिक करें।


Tech30 2021 के लिए आवेदन अब खुले हैं, जो भारत के 30 सबसे होनहार टेक स्टार्टअप्स की सूची है। Tech30 2021 स्टार्टअप बनने के लिए यहां शुरुआती चरण के स्टार्टअप के लिए अप्लाई करें या नॉमिनेट करें।



 


Edited by Ranjana Tripathi