केरल की इस महिला ने अपने नाम किया मेहंदी आर्ट का गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड! एक घंटे में लगाई इतनी मेहंदी

केरल की इस महिला ने अपने नाम किया मेहंदी आर्ट का गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड! एक घंटे में लगाई इतनी मेहंदी

Wednesday January 05, 2022,

3 min Read

भारत में शादी और अन्य त्योहारों जैसे शुभ अवसरों पर महिलाएं अपने हाथों में मेहंदी रखवाती है और बीते कुछ सालों से मेहंदी आर्ट बतौर एक प्रोफेशन सामने आया है, जहां बड़ी संख्या में युवा अपना करियर इस क्षेत्र में बना रहे हैं। हालांकि मेहंदी आर्ट से जुड़े विश्व रिकॉर्ड की बात करें तो इसका विचार भी अधिक तक शायद ही किसी के दिमाग में आया होगा। हालांकि अब केरल की एक महिला ने अपनी इस खास कला के जरिये गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है।

कोझीकोड के कदलुंडी की रहने वाली 25 साल की आदित्या निधिन ने एक घंटे में लोगों के हाथों पर सबसे ज्यादा मेहंदी डिजाइन बनाने का रिकॉर्ड बनाया है। गौरतलब है कि यह इवेंट विशेष रूप से उनके लिए ही आयोजित किया गया था।

k

मालूम हो कि इसके पहले यह विश्व रिकॉर्ड समीना हुसैन के नाम पर था, जिन्होने यूनाइटेड किंगडम में आयोजित हुए कार्यक्रम में एक घंटे के भीतर 600 हाथों में मेहंदी लगाकर विश्व रिकॉर्ड अपने नाम किया था।

एक घंटे में लगाई 910 हाथों में मेहंदी

कार्यक्रम का आयोजन नए साल के दिन कदलुंडी के सीएमएचएस मैदान में सुबह 10 बजे से 11 बजे तक हुआ था। आदित्या ने महज एक घंटे के भीतर 910 हाथों में मेहंदी लगाकर यह विश्व रिकॉर्ड अपने नाम किया है।

आदित्या के इस विश्व रिकॉर्ड को बनते हुए देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग तब मैदान में मौजूद थे। आदित्या के अनुसार विश्व रिकॉर्ड की खातिर हिस्सा लेने के लिए उन्हें उनके पति ने प्रोत्साहित किया था। इस कार्यक्रम में उनके रिकॉर्ड को परखने के लिए मौके पर जज भी मौजूद थे।

इसी के साथ रिकॉर्ड की जांच करने के लिए दो कैमरों का सहारा भी लिया गया था। इस दौरान आदित्या को बीच-बीच में बीतते समय की भी जानकारी लगातार दी जा रही थी।

तोड़ा पुराना विश्व रिकॉर्ड

आदित्या ने अपने नए कीर्तिमान को स्थापित करते हुए पुराना विश्व रिकॉर्ड महज 37वें मिनट में ही तोड़ दिया था। मालूम हो कि इसके पहले यह विश्व रिकॉर्ड समीना हुसैन के नाम पर था, जिन्होने यूनाइटेड किंगडम में आयोजित हुए कार्यक्रम में एक घंटे के भीतर 600 हाथों में मेहंदी लगाकर विश्व रिकॉर्ड अपने नाम किया था।

मीडिया से बात करते हुए आदित्या ने बताया है कि उन्हें बहुत कम उम्र से ही मेहंदी लगाने का शौक रहा है और वे हमेशा से ही अपनी इस मेहंदी आर्ट को लेकर कुछ बड़ा करना चाहती थीं।

आदित्या इसके लिए मेहंदी से जुड़ी प्रतियोगिताओं के बारे में इंटरनेट पर सर्च किया करती थीं, इसी बीच उन्हें मेहंदी आर्ट से जुड़े कुछ रिकॉर्डधारकों के बारे में पढ़ने का मौका मिला। तब आदित्या ने यह फैसला किया कि वे पिछले रिकॉर्डधारक से बेहतर प्रदर्शन करेंगी और नया विश्व रिकॉर्ड अपने नाम करेंगी।

ऐसे हुआ फैसला

आदित्या ने गिनीज़ विश्व रिकॉर्ड अपने नाम किया है या नहीं इसके लिए गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड के नियमों के अनुसार कार्यक्रम में मौके पर मौजूद जजों द्वारा एक रिपोर्ट के साथ ही कार्यक्रम का वीडियो, फोटो व मीडिया रिपोर्ट्स को अब गिनीज़ विश्व रिकॉर्ड के अधिकारियों को भेजा जा रहा है।

गौरतलब है कि यह आदित्या के लिए पहला रिकॉर्ड नहीं है, इसके पहले उन्होने महज 12 मिनट के भीतर दुनिया के साथ अजूबों को मेहंदी के जरिये प्रदर्शित किया था। तब उनका नाम एशियन बुक ऑफ रिकॉर्ड्स और इंडियन बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज़ हुआ था।


Edited by Ranjana Tripathi

हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें