दुनिया के सबसे स्वच्छ समुद्र तटों की लिस्ट में शामिल हुए भारत के दो और बीच

दुनिया के सबसे स्वच्छ समुद्र तटों की लिस्ट में शामिल हुए भारत के दो और बीच

Friday October 28, 2022,

2 min Read

लक्षद्वीप में दो समुद्र तटों – ‘मिनिकॉय थुंडी’ बीच और ‘कदमत’ बीच- दोनों को विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त और प्रतिष्ठित अंतर्राष्ट्रीय इको-लेबल "ब्लू फ्लैग" प्रदान किया गया है. इसके साथ ही देश में ‘ब्लू फ्लैग’ सर्टिफिकेशन के तहत प्रमाणित समुद्र तटों की संख्या 12 हो गई है. 


दुनिया के सबसे स्वच्छ समुद्र तटों को फाउंडेशन फॉर एनवायरनमेंटल एजुकेशन द्वारा 'ब्लू फ्लैग' सर्टिफिकेशन दिया जाता है. दोनों समुद्र तट फाउंडेशन फॉर एनवायरनमेंट एजुकेशन (FEE) द्वारा जारी सभी 33 मानदंडों का पूरा करते हैं.


थुंडी लक्षद्वीप द्वीपसमूह में सबसे प्राचीन और सुरम्य समुद्र तटों में से एक है, जहां सफेद रेत लैगून के फिरोजा नीले पानी से घिरा हुआ है. सफेद मोतियों सी रेत, खाड़ी का नीला पानी, मध्यम जलवायु और मैत्रीपूर्ण स्थानीय लोगों वाला यह तट प्रकृति प्रेमियों के लिए स्वर्ग की तरह लगता है.


कदमत 8 किमी लंबा और 550 मीटर चौड़ा रेतीले समुद्र तट है जो बीच वाटर स्पोर्टिंग के लिए आदर्श है. कदमत भारत में सबसे सुंदर गोता केंद्रों में से एक के रूप में भी उभरा है जिसमे 20-50 मीटर की दृश्यता के साथ किरणों, शार्क और साफ पानी जैसी मछलियों की विविधता उसे स्कूबा गोताखोरों के लिए एक अद्वितीय जगह बनाती है. दोनों समुद्र तटों की सफाई और रखरखाव के लिए नामित कर्मचारी हैं और तैराकों की सुरक्षा और सुरक्षा के लिए सुरक्षाकर्मी हैं.

क्या है Blue Flag Certificate?

डेनमार्क में फाउंडेशन फॉर एनवायरमेंट एजुकेशन (FEE) वर्ल्ड लेवल पर मान्यता प्राप्त इको लेबल ‘ब्लू फ्लैग’ सर्टिफिकेट देता है. इस प्रतिष्ठित पुरस्कार को पाने के लिए कड़े पर्यावरण, शैक्षिक, सुरक्षा-संबंधी और पहुंच-संबंधी मानदंडों की एक श्रृंखला को पूरा करना पड़ता है. इसके लिए 33 अनिवार्य मानदंडों जैसे पर्यावरण, सुरक्षा संबंधी, शैक्षिक इत्यादि को पूरा करना होता है. इन मानदंडों को भारत के थुंडी और कदमत बीच ने सफलतापूर्वक पूरा किया है, जिसके बाद उन्हें ‘ब्लू बीच’ की लिस्ट में जगह मिली है. ‘ब्लू फ्लैग’ का मिशन पर्यावरण शिक्षा, पर्यावरण संरक्षण और अन्य सतत विकास प्रथाओं के माध्यम से पर्यटन क्षेत्र में स्थिरता को बढ़ावा देना है.


नीली सूची में शामिल अन्य भारतीय समुद्र तट हैं- शिवराजपुर (गुजरात), घोघला (दीव), कासरकोड और पादुबिद्री (कर्नाटक), कप्पड (केरल), रुशिकोंडा (आंध्र प्रदेश), गोल्डन (ओडिशा), राधानगर (अंडमान और निकोबार), कोवलम (तमिलनाडु) और ईडन (पुडुचेरी).