ड्राइवरों का वेरिफिकेशन, अल्कोहल लेवल... दिल्ली पुलिस ने Uber को क्या-क्या चेतावनी दी?

By yourstory हिन्दी
November 29, 2022, Updated on : Wed Nov 30 2022 06:45:51 GMT+0000
ड्राइवरों का वेरिफिकेशन, अल्कोहल लेवल... दिल्ली पुलिस ने Uber को क्या-क्या चेतावनी दी?
दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त आयुक्त महेश चंद्र भारद्वाज ने उबर के सुरक्षा उपायों को शुरू करने से जुड़े एक कार्यक्रम में कहा कि शराब पीकर गाड़ी चलाना नियमों के उल्लंघन के मामले में एक प्रमुख कारक रहा है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को कैब सेवा देने वाली कंपनी Uber से चालकों को सेवा पर रखने से पहले उनके पिछले रिकॉर्ड का सत्यापन करने को कहा और सुझाव दिया कि कंपनी को कैब में ऐसा तंत्र अपनाना चाहिए कि शराब के सेवन की जांच हो हो सके. दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त आयुक्त महेश चंद्र भारद्वाज ने उबर के सुरक्षा उपायों को शुरू करने से जुड़े एक कार्यक्रम में कहा कि शराब पीकर गाड़ी चलाना नियमों के उल्लंघन के मामले में एक प्रमुख कारक रहा है.


भारद्वाज ने कहा, “यदि कोई ड्राइवर नशे में है तो आपके पास यह जानने के लिए किसी प्रकार का तंत्र होना चाहिए कि आपका ड्राइवर नशे में है. हम शराब के नशे के लिए ‘अल्कोहल मीटर’ के माध्यम से चालकों की जांच करते हैं. क्या उबर स्टीयरिंग के करीब ऐसा कोई उपकरण लगा सकती है ताकि अगर ड्राइवर नशे में हो तो आपको सूचना मिल सके. नशे में वाहन चलाने वालों की जांच के लिए कृपया कोई तंत्र खोजें.”


उन्होंने उबर से चालकों की सेवाएं लेने से पहले उनके पूर्व रिकॉर्ड के सत्यापन करने को भी कहा. भारद्वाज ने कहा, “उबर को अपने साझेदार चालक द्वारा यातायात नियमों के उल्लंघन के बारे में अधिसूचित करने के लिए एक प्रणाली स्थापित करने का प्रयास करना चाहिए, जिसे दिल्ली यातायात पुलिस के साथ साझा किया जा सकता है.”


भारत एवं दक्षिण एशिया के लिए उबर के ‘सेफ्टी ऑपरेशन्स’ प्रमुख सूरज नायर ने कहा कि कंपनी ने फीडबैक नोट कर लिया है और सिस्टम में फीचर्स की व्यवहार्यता की जांच के लिए अध्ययन जारी रखेगी.


इस मौके पर, उबर ने मंगलवार को नई तकनीकी रूप से संचालित सेफ्टी फीचर्स का अनावरण किया, जिसमें ऑडिएबल रियर सीट बेल्ट रिमाइंडर, प्रोएक्टिव ट्रिप एनोमली डिटेक्शन, स्थानीय अधिकारियों के साथ कस्टमर SoS इंटीग्रेशन और बहुत कुछ शामिल हैं.


उबर ने उपयोगकर्ताओं को अपनी यात्रा समाप्त करने के 30 मिनट बाद भी उनकी हेल्पलाइन पर कॉल करने के लिए एक्सटेंडेड सपोर्ट की भी घोषणा की. भारत और दक्षिण एशिया के लिए उबर की निदेशक, (ग्राहक अनुभव), मानसी चड्ढा ने कहा कि विस्तारित समय की सुविधा सिर्फ भारत में शुरू की गई है.


अब, उबर के यात्री यह पता लगा सकेंगे कि कब कोई ट्रिप निर्धारित रूट से अलग चलती है या जब कोई ट्रिप राइडर के फाइनल डेस्टिनेशन से पहले अप्रत्याशित रूप से समाप्त हो जाती है. उबर ने लाइव लोकेशन सहित महत्वपूर्ण जानकारी साझा करने के लिए स्थानीय पुलिस के साथ SoS इंटीग्रेशन भी शुरू किया है. यह सुविधा पहले से ही हैदराबाद में शुरू हो चुकी है, और कंपनी प्रमुख मेट्रो शहरों में शुरू करने के लिए चर्चा कर रही है.


Edited by Vishal Jaiswal