यूज्ड कार मार्केट में उतरी Kia Motors, सस्ते दामों में खरीद सकेंगे Seltos और Sonet जैसी कारें

By yourstory हिन्दी
November 29, 2022, Updated on : Tue Nov 29 2022 11:08:58 GMT+0000
यूज्ड कार मार्केट में उतरी Kia Motors, सस्ते दामों में खरीद सकेंगे Seltos और Sonet जैसी कारें
किया (Kia) ने मंगलवार को बयान में कहा कि उसके प्रमाणित पुरानी कार यानी ‘सेकेंड हैंड’ गाड़ियों का कारोबार ‘Kia CPO’ का मकसद ग्राहकों को अलग तरह का अनुभव प्रदान करना है. यह नई कार खरीदने के जैसा होगा.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

वाहन कंपनी किआ इंडिया Kia Motors प्रमाणित पुरानी गाड़ियों (सेकेंड हैंड) के कारोबार में उतर गई है. कंपनी ने कारोबार बढ़ाने के लिये इस साल के अंत तक 30 बिक्री केंद्र खोलने की योजना बनायी है.


किया (Kia) ने मंगलवार को बयान में कहा कि उसके प्रमाणित पुरानी कार यानी ‘सेकेंड हैंड’ गाड़ियों का कारोबार ‘Kia CPO’ का मकसद ग्राहकों को अलग तरह का अनुभव प्रदान करना है. यह नई कार खरीदने के जैसा होगा. इसके तहत उन्हें पुराने वाहनों को बेचने, खरीदने और पुरानी कार को बदलकर दूसरी गाड़ी लेने की सुविधा होगी. ग्राहकों को इसके लिये स्वामित्व हस्तांतरण और कर्ज की सुविधा भी मिलेगी.


किआ इंडिया (Kia India) के मुख्य बिक्री अधिकारी मायुंग-सिक सोन (Myung-sik Sohn) ने कहा, ‘‘हम किआ सीपीओ के साथ पुरानी कारों के बाजार के लिये व्यवस्था को एक नया रूप देना चाहते हैं. वर्तमान में, भारतीय ग्राहकों के पास पुरानी गाड़ियों के मामले में सही और सत्यापित जानकारी तक पहुंच सीमित है. हम इस धारणा को बदलना चाहते हैं.’’


उन्होंने कहा, ‘‘हमने गौर किया है कि किआ की नई कार के एक-तिहाई ग्राहक वैसे हैं जो पुराने वाहन की जगह कंपनी की कार लेने को इच्छुक हैं. हमारा मकसद अपने इस नये कारोबार के जरिये उन्हें मदद करना है.’’


Kia ने कहा कि उसकी पुराने वाहनों के कारोबार को आक्रामक रूप से आगे बढ़ाने की योजना है. इसके लिये कंपनी साल के अंत तक 30 बिक्री केंद्र खोलेगी.


कंपनी पहले ही 14 शहरों...राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली, बेंगलुरु, अहमदाबाद, हैदराबाद, चंडीगढ़, जयपुर, कोचीन, भुवनेश्वर, कालीकट, अमृतसर, नासिक, बड़ौदा, कन्नूर और मलप्पुरम में 15 बिक्री केंद्र खोल चुकी है.


दक्षिण कोरियाई कारमेकर Kia साल 2019 में सेल्टॉस एसयूवी की लॉन्चिंग के साथ भारतीय मार्केट में उतरी थी. देश में अपना सेल्स ऑपरेशन शुरू करने के तीन सालों के अंदर ही किआ सबसे तेजी से प्रमाणित पुरानी गाड़ियों (सेकेंड हैंड) के कारोबार में उतरने वाली ओरिजिनल इक्विपमेंट मैन्यूफैक्चर (OEM) बन गई है.


Kia CPO के माध्यम से बेची जाने वाली कारों पर 2 साल और 40 हजार किलोमीटर का वारंटी कवरेज और 4 फ्री पीरियॉडिक मेंटेनेंस मिलेगी.


इस कारोबार में शामिल अन्य कारमेकरों में Maruti Suzuki का ट्रू वैल्यू आउटलेट्स, महिंद्रा का फर्स्ट च्वाइस और ह्यूंडई का H-Promise हैं. वहीं, Spinny, Cars24 और OlxAuto जैसी कंपनियां भी इस कारोबार में हैं.


Edited by Vishal Jaiswal