यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने स्वीकृत किए 150 एग्री ड्रोन लोन, किसे और कैसे मिलेगा लाभ?

By रविकांत पारीक
January 13, 2023, Updated on : Fri Jan 13 2023 13:46:47 GMT+0000
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने स्वीकृत किए 150 एग्री ड्रोन लोन, किसे और कैसे मिलेगा लाभ?
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने किसान पुष्पक योजना के तहत Garuda Kisan ड्रोन के लिए 150 एग्री ड्रोन लोन स्वीकृत किए हैं.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

ड्रोन स्टार्टअप Garuda Aerospace ने यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Union Bank of India) के साथ अपनी साझेदारी की घोषणा की है. स्टार्टअप को किसान पुष्पक योजना (Kisan Pushpak Scheme) के तहत 150 गरुड़ कृषि किसान ड्रोन (Garuda Agri Kisan drones) के लिए लोन की मंजूरी मिली है. ड्रोन लोन किसानों को ड्रोन की मदद से फसल उत्पादन, उर्वरकों, रसायनों, कीटनाशकों आदि के छिड़काव के लिए भूमि रिकॉर्ड संचालन को डिजिटाइज़ करने में मदद करेगा. यह साझेदारी लीड जनरेशन, कस्टमर एक्विजिशन, एप्लिकेशन सोर्सिंग और क्रेडिट डिप्लॉयमेंट के लिए कस्टमर्स की ड्यू डिलिजेंस के लिए उपयोगी होगी.


गरुड़ किसान ड्रोन जुलाई 2022 में केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से कृषि ड्रोन ऋण प्राप्त करने वाला पहला ड्रोन है.


एग्री इंफ्रा फंड (Agri Infra Fund - AIF) में लगभग 1 लाख करोड़ रुपये हैं, जिसमें से 1000 करोड़ ड्रोन को आवंटित किए गए हैं. AIF लोन कोलैटरल-फ्री हैं और 3 महीने की EMI छूट और युवाओं और किसानों के लिए 5% ब्याज दर के साथ 10 लाख रुपये तक का लोन मिल सकता है.


ताजा साझेदारी युवाओं को ड्रोन खरीदने में मदद करेगी और उन्हें प्रति माह लगभग 75000 रुपये से 1 लाख रुपये तक कमाने में मदद करेगी.

 

साझेदारी पर बोलते हुए Garuda Aerospace के फाउंडर और सीईओ अग्निश्वर जयप्रकाश ने कहा, “जब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फरवरी 2022 में गरुड़ किसान ड्रोन यात्रा को हरी झंडी दिखाई, जहां देश भर के 100 गांवों में 100 कृषि ड्रोन एक साथ उड़े. गरुड़ का लक्ष्य अब अगले 6 महीनों में 100 देशों को 10,000 ड्रोन निर्यात करने का है. जैसा कि यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की पूरे भारत में उपस्थिति है और शाखाओं का एक विस्तृत नेटवर्क है, Garuda Aerospace के साथ साझेदारी कृषि के क्षेत्र में किसान-केंद्रित प्रोडक्ट मुहैया करने में मदद करेगी. एग्री इंफ्रास्ट्रक्चर फंड योजना 150 ड्रोन ऐप्लीकेशंस को फंड्स मुहैया करेगी जो किसान समुदाय को लाभान्वित करेगी और 150 कुशल पायलट बनाएगी जो ऑन्त्रप्रेन्योर बनने और किसानों की आय में सुधार करने के लिए संलग्न होंगे. गरुड़ एयरोस्पेस ने 1 लाख युवाओं को मुफ्त में प्रशिक्षण देना शुरू कर दिया है और 31 मार्च से पहले 5000 ड्रोन बेचने का लक्ष्य रखा है."


इस अवसर पर कच्छिकट्टी शाखा, माधुरी के सीनियर मैनेजर राजेश कुमार ने कहा कि "ड्रोन मैन्युफैक्चरिंग कंपनी गरुड़ एयरोस्पेस के साथ साझेजारी इस इंडस्ट्री में अपनी तरह की पहली साइेदारी है, इस साझेदारी से दोनों संगठनों को लाभ होगा. कृषि क्षेत्र के उपयोग में ड्रोन को बढ़ावा देना और किसान ड्रोन को लोन मिलना सही कदम है. केंद्रीय बजट 2022 में, भारत सरकार ने ड्रोन फाइनेंस के लिए कई प्रोत्साहनों की घोषणा की है, जिसमें किसान/उद्यमी किसान के विकास के लिए ब्याज और लाभ प्राप्त कर सकते हैं."

यह भी पढ़ें
ZebPay के पूर्व CEO अविनाश शेखर ने लॉन्च किया स्टार्टअप 'TaxNodes'