सात हज़ार भारतीयों को मिली मलेशिया की नागरिकता

9th Aug 2016
  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

मलाया को ब्रिटेन से आज़ादी मिलने से पहले वहां जन्मे लगभग 7,000 भारतीयों को अफसरशाही से कई साल तक लड़ने के बाद अंतत: मलेशियाई नागरिकता मिल गई है।

मलेशियन इंडियन कांग्रेस (एमआईसी) के अध्यक्ष एस सुब्रमण्यम ने कहा कि अब तक लगभग 7,000 भारतीयों को नागरिकता मिल गई है, लेकिन बहुत से लोगों का पंजीकरण अभी बाकी है।

image


उन्होंने कहा, ‘‘औसत तौर पर, नागरिकता हासिल करने के लिए संभवत: 15 हजार से ज्यादा भारतीयों का पंजीकरण अभी बाकी है। इस मुद्दे के हल तक यह प्रक्रिया जारी रहेगी।’’ कल यहां श्री मुरूगन सेंटर द्वारा आयोजित धार्मिक उत्सव ‘‘कल्वी यथिरई’’ में शामिल होने के बाद उन्होंने कहा, ‘‘हम इसे तत्काल सुलझाने के तरीके खोजेंगे।’’ प्रधानमंत्री नजीब रजाक ने हाल ही में कहा था कि जिन्हें अभी नागरिकता नहीं मिली है, उन्हें अपना अधिकार प्राप्त करना चाहिए।

image


सुब्रमण्यम ने उम्मीद जताई के सरकार जातीय भारतीयों के लिए नागरिक पंजीकरण प्रक्रिया को आसान बनाएगी। इसके लिए वह मौजूदा प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए मौजूदा लालफीताशाही को कम करेगी।

उन्होंने कहा, ‘‘कई लोगों ने बार-बार आवेदन किया लेकिन लालफीताशाही के कारण वे विफल हो गए। मैं यह मानता हूं कि मुख्य समस्या दस्तावेजों की है क्योंकि उनके जन्म संबंधी रिकॉर्ड गायब हैं। यदि लालफीताशाही घटा दी जाती है तो यह मुद्दा इस साल तक हल हो जाएगा।’’ मलाया वर्ष 1957 में ब्रिटेन से आजाद हुआ था।-पीटीआई

  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close
Report an issue
Authors

Related Tags

Our Partner Events

Hustle across India