Paytm के बाद अब PolicyBazaar में अपनी 5% हिस्सेदारी बेच रहा है SoftBank Group, क्या है वजह?

By रविकांत पारीक
December 02, 2022, Updated on : Fri Dec 02 2022 06:22:25 GMT+0000
Paytm के बाद अब PolicyBazaar में अपनी 5% हिस्सेदारी बेच रहा है SoftBank Group, क्या है वजह?
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

जापानी समूह सॉफ्टबैंक ग्रुप कॉर्प (SoftBank Group Corp) शुक्रवार को एक ब्लॉक डील के जरिए ऑनलाइन इंश्योरेंस मार्केटप्लेस पॉलिसीबाजार (PolicyBazaar) की पैरेंट कंपनी पीबी फिनटेक (PB Fintech) में 5% हिस्सेदारी बेचने जा रहा है. न्यूज ऐजेंसी रॉयटर्स ने एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए इसकी जानकारी दी. इस डील में Citi एकमात्र ब्रोकर है. इस डील के जरिए सॉफ्टबैंक ग्रुप ₹1,000 करोड़ जुटाना चाहता है.


पीबी फिनटेक के शेयर गुरुवार को एनएसई पर 1.60% बढ़कर ₹460.00 पर बंद हुए. रिपोर्ट के मुताबिक यह डील गुरुवार के बंद भाव से 4.5% की छूट पर ₹440 प्रति शेयर के हिसाब से हो सकती है.


सितंबर 2022 तक के आंकड़ों के मुताबिक, जापानी समूह की दो यूनिट्स (SVF Python II (Cayman) Limited और SVF India Holdings (Cayman) Limited) के जरिए पीबी फिनटेक में 10.16% से अधिक हिस्सेदारी है. इस डील के बाद, सॉफ्टबैंक के पास ऑनलाइन इंश्योरेंस एग्रीगेटर में 5.16% हिस्सेदारी बचेगी.


रिपोर्ट में कहा गया है कि यूनिट्स में से एक, SVF India Holdings के शेयर बेचने की संभावना है.


आपको बता दें कि बीते साल नवंबर माह में पीबी फिनटेक का IPO आया था और यह ₹1,150 पर सूचीबद्ध हुआ था. वहीं, इश्यू प्राइस ₹980 प्रति शेयर था. करीब ₹5,625 करोड़ का आईपीओ 16.59 गुना सब्सक्राइब हुआ था.


सॉफ्टबैंक PB Fintech, Paytm, Zomato, Delhivery जैसे भारत के नामचीन स्टार्टअप्स में बड़ा इन्वेस्टर है.

SoftBank ने Paytm में भी बेची हिस्सेदारी

सॉफ्टबैंक ने बीते 17 नवंबर को एक ब्लॉक डील के जरिए पेटीएम (Paytm) में करीब 200 मिलियन डॉलर के शेयर बेचे थे. अगर रुपये में देखें तो ये आंकड़ा होता है करीब 1628 करोड़ रुपये. इस ब्लॉक डील में बैंक ऑफ अमेरिका ने ब्रोकर की भुमिका निभाई. कंपनी ने इस ब्लॉक डील के जरिए पेटीएम के 29 मिलियन यानी 2.9 करोड़ शेयर बेचे. सॉफ्टबैंक की पेटीएम में करीब 12.9 फीसदी की हिस्सेदारी थी, जिसमें से 4.5 फीसदी हिस्सेदारी कंपनी ने बेच दी. इस ख़बर के बाद Paytm के शेयरों में 9 फीसदी की गिरावट देखी गई थी.


जब से पेटीएम का आईपीओ आया है, तभी से इसके शेयरों में गिरावट का दौर जारी है. ऐसे में बहुत सारे निवेशक इससे बाहर निकल रहे हैं. सॉफ्टबैंक ने भी पेटीएम के शेयर लिए हुए हैं और अब उनका लॉक-इन पीरियड खत्म हो चुका है. ऐसे में कंपनी ने इस कंपनी से एक बड़ी हिस्सेदारी को बेचते हुए निकलने का फैसला किया है, ताकि दूसरी किसी जगह उन पैसों को निवेश किया जा सके.

SoftBank ने Oyo में घटाई वैल्यूएशन

इसी साल सितंबर में ख़बर SoftBank ने ओयो होटल्स की वैल्यूएशन में 20 फीसदी की कटौती की थी. जापानी इन्वेस्टर सॉफ्टबैंक ग्रुप ओयो होटल्स में सबसे बड़ा शेयरहोल्डर है. सॉफ्टबैंक ने जून तिमाही में ओयो के लिए अपने अनुमानित मूल्य को घटाकर 2.7 अरब डॉलर (2.2 खरब रुपये) कर दिया, जो पहले के 3.4 बिलियन डॉलर (2.75 खरब रुपये) था.

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close