IPO लाने जा रही OYO को बड़ा झटका, Softbank ने वैल्यूएशन में 20 फीसदी की कटौती की

By yourstory हिन्दी
September 23, 2022, Updated on : Fri Sep 23 2022 09:20:46 GMT+0000
IPO लाने जा रही OYO को बड़ा झटका, Softbank ने वैल्यूएशन में 20 फीसदी की कटौती की
पहले ओरेवल स्टेज लिमिटेड के नाम वाले ओयो ने सोमवार को भारत के बाजार नियामक सेबी में अपने फाइनेंशियल डॉक्यूमेंट्स फाइल किए क्योंकि लागत में कटौती और ट्रैवेल रिकवरी के बाद स्टॉक-मार्केट की शुरुआत की योजना ने घाटे को कम करने में मदद की.
Clap Icon0 claps
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 claps
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

एक समय में तेजी से आगे बढ़ रहा भारतीय स्टार्टअप ओयो होटल्स Oyo IPO लाने की तैयारी कर रही है, तब जापान की सॉफ्टबैंक ग्रुप कॉर्पोरेशन SoftBank ने ओयो होटल्स की वैल्यूएशन में 20 फीसदी की कटौती कर दी है.


बता दें कि, जापानी इन्वेस्टर सॉफ्टबैंक ग्रुप ओयो होटल्स में सबसे बड़ा शेयरहोल्डर है. सॉफ्टबैंक ने जून तिमाही में ओयो के लिए अपने अनुमानित मूल्य को घटाकर 2.7 अरब डॉलर (2.2 खरब रुपये) कर दिया, जो पहले के 3.4 बिलियन डॉलर (2.75 खरब रुपये) था. इससे पहले होटल बुकिंग स्टार्टअप साल 2019 की फंडिंग राउंड के दौरान 10 अरब डॉलर की वैल्यूएशन पर पहुंच गया था.


पहले ओरेवल स्टेज लिमिटेड के नाम वाले ओयो ने सोमवार को भारत के बाजार नियामक सेबी में अपने फाइनेंशियल डॉक्यूमेंट्स फाइल किए क्योंकि लागत में कटौती और ट्रैवेल रिकवरी के बाद स्टॉक-मार्केट की शुरुआत की योजना ने घाटे को कम करने में मदद की.

कंपनी को उम्मीद है कि उसके IPO को सेबी से जल्द ही मंजूरी मिल जाएगी और अगले साल की शुरुआत में लगभग 5 अरब डॉलर के मूल्यांकन पर उसने बाजार पर पकड़ बनाने का लक्ष्य रखा है. हालांकि, IPO को लेकर ओयो की चर्चा अभी पूरी नहीं हुई है और बाजार की परिस्थितियों पर ध्यान केंद्रित करते हुए वह इसमें बदलवा कर सकती है.


पिछले साल अक्टूबर में कंपनी ने आईपीओ के जरिए 8,430 करोड़ रुपये जुटाने के लिए शुरुआती कागजात जमा कराए थे. पहले कंपनी लगभग 11 बिलियन यूएस डॉलर बाजार से उठाने की योजना बना रही थी. हालांकि, इसके बाद उसने अपनी वैल्यूएशन को कम करते हुए 7-8 बिलियन अमेरिकी डॉलर के बराबर रुपये जुटाने की प्लानिंग की थी.


सॉफ्टबैंक के प्रवक्ता ने फिलहाल इस मामले पर कोई टिप्पणी नहीं की. वहीं, ओयो ने कहा कि उसे विश्वास है कि उसके कारोबार में सुधार को देखते हुए उसके वैल्यूएशन को कम नहीं किया जाना चाहिए था. उसने कहा कि उसने आईपीओ के लिए समय तय नहीं किया था.


ओयो की हालिया फाइलिंग में मार्च 2022 के फाइनेंशियल ईयर और अगले तीन महीनों के दौरान कुछ नुकसान और कारोबार में गिरावट दिखाया है. इसने मार्च 2022 तक वर्ष के लिए 18.9 अरब रुपये के नुकसान की सूचना दी, जो पिछले 12 महीनों की तुलना में लगभग आधा है.


सैकड़ों प्राइवेट स्टार्टअप्स में निवेश करने वाला सॉफ्टबैंक प्रत्येक तिमाही में अपनी होल्डिंग्स के वैल्यू का अनुमान लगाता है और फिर अपने आय विवरण पर लाभ या हानि के रूप में परिवर्तनों को दर्ज करता है. जून तिमाही में पोर्टफोलियो वैल्यूएशन और विदेशी मुद्रा के नुकसान में गिरावट के कारण इसने रिकॉर्ड 23.4 बिलियन डॉलर का नुकसान दर्ज किया.


Edited by Vishal Jaiswal

हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें