Paytm में सॉफ्टबैंक बेच रही बड़ी हिस्सेदारी, 9% गिरा शेयर, जानिए अब कितने रुपये का हो गया

By Anuj Maurya
November 17, 2022, Updated on : Thu Nov 17 2022 08:09:20 GMT+0000
Paytm में सॉफ्टबैंक बेच रही बड़ी हिस्सेदारी, 9% गिरा शेयर, जानिए अब कितने रुपये का हो गया
सॉफ्टबैंक ने पेटीएम में बड़ी हिस्सेदारी बेचने का फैसला किया है. इसकी वजह से कंपनी के शेयर 9 फीसदी तक गिर गए हैं. अभी कंपनी का शेयर 550 रुपये के करीब है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

पेटीएम (Paytm) के लिए आज का दिन बहुत ही खराब साबित हुआ है. इसकी पैरेंट कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड के शेयरों में आज भारी गिरावट (Paytm Share Fall) देखने को मिली है. ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि जापानी टेक निवेश फर्म सॉफ्टबैंक (Softbank) ने पेटीएम में बड़ी हिस्सेदारी बेचने का फैसला किया है. आईपीओ (IPO) आने के बाद से अब तक कंपनी के शेयरों में भारी गिरावट देखी जा रही है. सवाल ये है कि आखिर कंपनी ऐसा क्यों कर रही है? आइए जानते हैं क्या है ये पूरा मामला.

कितनी हिस्सेदारी बेच रही है कंपनी?

सॉफ्टबैंक ने 17 नवंबर को एक ब्लॉक डील के जरिए पेटीएम में करीब 200 मिलियन डॉलर के शेयर बेचने का फैसला किया है. अगर रुपये में देखें तो ये आंकड़ा होता है करीब 1628 करोड़ रुपये. इस ब्लॉक डील के लिए बैंक ऑफ अमेरिका बैंकर होगा. कंपनी इस ब्लॉक डील के जरिए पेटीएम के 29 मिलियन यानी 2.9 करोड़ शेयर बेचेगी. सॉफ्टबैंक की पेटीएम में करीब 12.9 फीसदी की हिस्सेदारी है, जिसमें से 4.5 फीसदी हिस्सेदारी कंपनी बेच रही है. यह बिक्री 555-601.45 प्रति शेयर के भाव पर होगी.

इसलिए सॉफ्टबैंक बेच रहा है हिस्सेदारी

जब से पेटीएम का आईपीओ आया है, तभी से इसके शेयरों में गिरावट का दौर जारी है. ऐसे में बहुत सारे निवेशक इससे बाहर निकल रहे हैं. सॉफ्टबैंक ने भी पेटीएम के शेयर लिए हुए हैं और अब उनका लॉक-इन पीरियड खत्म हो चुका है. ऐसे में कंपनी ने इस कंपनी से एक बड़ी हिस्सेदारी को बेचते हुए निकलने का फैसला किया है, ताकि दूसरी किसी जगह उन पैसों को निवेश किया जा सके.

पेटीएम ने डुबाए निवेशकों के पैसे

आज से साल भर पहले 15 नवंबर 2021 को पेटीएम का आईपीओ आया था. यह भारत का दूसरा सबसे बड़ा आईपीओ था, जिसे महाआईपीओ कहा गया था. आईपीओ के तहत पेटीएम के शेयर की कीमत 2150 रुपये थी, लेकिन उसके बाद से गिरते-गिरते कंपनी के शेयर एक चौथाई के करीब आ चुके हैं. अगर 17 नवंबर 2022 को कंपनी के शेयरों का हाल देखा जाए तो अब ये करीब 550 रुपये के आस-पास हैं. सॉफ्टबैंक की तरफ से पेटीएम के शेयर बेचने की खबर के बाद कंपनी के शेयरों में 9 फीसदी से भी अधिक की गिरावट देखने को मिली है.

लगातार नुकसान झेल रही कंपनी

पेटीएम उन स्टार्टअप्स में से एक है, जिन्होंने आज तक कभी मुनाफा नहीं दिखाया. सितंबर तिमाही में पेटीएम का कंसोलिडेटेड लॉस बढ़कर 571 करोड़ रुपये हो गया है. पिछले साल यह नुकसान 472.90 करोड़ रुपये था. जून तिमाही में कंपनी को 644.4 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था. इस वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में पेटीएम का रेवेन्यू 76 फीसदी बढ़ा है और 1914 करोड़ रुपये हो गया है.