उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों के लिए खुशखबरी! सरकार ने की सब्सिडी की घोषणा

सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर के अनुसार, उज्ज्वला योजना के 9.59 करोड़ लाभार्थियों को प्रति वर्ष 14.2 किलोग्राम एलपीजी गैस सिलेंडर पर 200 रुपये की सब्सिडी मिलेगी.

उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों के लिए खुशखबरी! सरकार ने की सब्सिडी की घोषणा

Saturday March 25, 2023,

3 min Read

केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (Pradhan Mantri Ujjwala Yojana - PMUY) योजना के लाभार्थियों को बड़ी राहत देते हुए घरेलू एलपीजी गैस सिलेंडर पर सब्सिडी (subsidy on LPG gas cylinders) देने का ऐलान किया है. सरकार के नेतृत्व वाली योजना में, लाभार्थियों को अब सस्ती दरों पर रसोई गैस मिलेगी.

सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर के अनुसार, उज्ज्वला योजना के 9.59 करोड़ लाभार्थियों को प्रति वर्ष 14.2 किलोग्राम एलपीजी गैस सिलेंडर पर 200 रुपये की सब्सिडी मिलेगी. सब्सिडी सीधे पात्र लाभार्थियों के बैंक खातों में जमा की जाती है.

केंद्र ने रिफिल की सीमा साल में 12 बार तय की है. इसका मतलब है कि केंद्रीय कैबिनेट ने 1 मार्च 2023 तक प्रति वर्ष 12 रिफिल तक के लिए 200 रुपये प्रति 14.2 किलोग्राम सिलेंडर की सब्सिडी को मंजूरी दी है.

PMUY उपभोक्ताओं के बीच निरंतर एलपीजी अपनाने और उपयोग को सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है ताकि वे पूरी तरह से स्वच्छ खाना पकाने के ईंधन पर स्विच कर सकें.

वित्त वर्ष 2022-23 के लिए कुल व्यय 6,100 करोड़ रुपये और 2023-24 के लिए 7,680 करोड़ रुपये होगा.

विशेष रूप से, सभी प्रमुख ऑयल मार्केटिंग कंपनियां अर्थात् इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (IOCL), भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (BPCL), और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HPCL) 22 मई, 2022 से पहले ही यह सब्सिडी प्रदान कर रही हैं.

केंद्र सरकार ने कहा कि विभिन्न भू-राजनीतिक कारणों से एलपीजी की अंतरराष्ट्रीय कीमतों में तेज वृद्धि हुई है और PMUY लाभार्थियों को एलपीजी की बढ़ती कीमतों से बचाना जरूरी है.

PMUY उपभोक्ताओं को लक्षित समर्थन उन्हें एलपीजी का उपयोग जारी रखने के लिए प्रोत्साहित करता है.

सरकार ने कहा कि PMUY उपभोक्ताओं की औसत एलपीजी खपत 2019-20 में 3.01 रिफिल से 20% बढ़कर 2021-22 में 3.68 हो गई है.

अलग से, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में केंद्र ने इस महीने बिना सब्सिडी वाले 14.2 किलोग्राम गैस सिलेंडर की कीमतों में 50 रुपये की बढ़ोतरी की है. बिना सब्सिडी वाले 14.2 किलोग्राम गैस सिलेंडर की कीमत 1,103 रुपये है. 19 किलो के वाणिज्यिक एलपीजी सिलेंडर की कीमत में भी इस महीने 350.50 रुपये की भारी बढ़ोतरी देखी गई. जिसके बाद इसकी कीमत 2,119.50 रुपये प्रति सिलेंडर हो गई.

आपको बता दें कि PMUY को 1 मई 2016 को बलिया, उत्तर प्रदेश में लॉन्च किया गया था. केंद्र सरकार ने PMUY की घोषणा एक प्रमुख योजना के रूप में की, जिसका उद्देश्य ग्रामीण और वंचित परिवारों को एलपीजी जैसे स्वच्छ खाना पकाने का ईंधन उपलब्ध कराना है, जो अन्यथा पारंपरिक खाना पकाने के ईंधन जैसे जलाऊ लकड़ी, कोयला, गोबर के उपले आदि का उपयोग कर रहे थे.

यह भी पढ़ें
PPF पर चाहते हैं ब्याज का फुल फायदा, तो समझ लें 5 तारीख का फंडा