अटल इनोवेशन मिशन, नीति आयोग ने भारतीय युवाओं के बीच एआर कौशल को बढ़ावा देने के लिए स्नैप इंक के साथ हाथ मिलाया

स्नैप इंक ने भी एआर विज्ञापन बूटकैंप, विज्ञापन क्रेडिट और अन्य अवसरों के साथ भारतीय स्टार्टअप इकोसिस्टम की मदद करने के लिए अटल इनक्यूबेशन सेंटर (AIC) के साथ अपनी साझेदारी की घोषणा की।

अटल इनोवेशन मिशन, नीति आयोग ने भारतीय युवाओं के बीच एआर कौशल को बढ़ावा देने के लिए स्नैप इंक के साथ हाथ मिलाया

Thursday March 10, 2022,

3 min Read

नीति आयोग के अटल इनोवेशन मिशन ने भारतीय युवाओं के बीच ऑगमेंटेड रियलिटी (AR) कौशल को बढ़ावा देने के लिए आज स्नैप इंक के साथ अपनी साझेदारी की घोषणा की। स्नैप इंक एक वैश्विक कैमरा कंपनी है और स्नैप का कैमरा लोगों को उनके आसपास की दुनिया का अनुभव करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, जिसे वे वास्तविक दुनिया में देखते हैं और जो उनके लिए डिजिटल दुनिया में उपलब्ध है।

उम्मीद की जाती है कि दो साल की समय सीमा में स्नैप इंक अटल टिंकरिंग लैब्स से जुड़े 12,000 से अधिक शिक्षकों को ऑगमेंटेड रियलिटी पर प्रशिक्षित करेगी, जिससे एटीएल के स्कूलों के नेटवर्क से संबद्ध लाखों छात्रों तक इस प्रशिक्षण कार्यक्रम की पहुंच संभव हो सकेगी।

स्नैप इंक ने भी एआर विज्ञापन बूटकैंप, विज्ञापन क्रेडिट और अन्य अवसरों के साथ भारतीय स्टार्टअप इकोसिस्टम की मदद करने के लिए अटल इनक्यूबेशन सेंटर (AIC) के साथ अपनी साझेदारी की घोषणा की।

Augmented Reality

अटल इनोवेशन मिशन के मिशन निदेशक डॉ. चिंतन वैष्णव ने अपने विचार साझा करते हुए कहा कि "AIM में हम नवाचार और उद्यमिता की संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए अत्याधुनिक अटल टिंकरिंग लैब्स के अपने नेटवर्क का लाभ उठाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। तेजी से भारत के डिजिटलीकरण में इसके विविध अनुप्रयोगों को देखते हुए हम कह सकते हैं कि ऑगमेंटेड रियलिटी हमारा भविष्य है। हम अगली पीढ़ी के छात्रों का एक कैडर बनाने के लिए ऑगमेंटेड रियलिटी में स्नैप इंक की विशेषज्ञता का उपयोग करने के लिए उत्साहित हैं जो इस भविष्य की तकनीक में कुशल हैं।”

मार्च के पूरे महीने चलने वाले राष्ट्रव्यापी लेंसथॉन (एआर मेकिंग हैकथॉन) के शुभारंभ के साथ अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर आज साझेदारी शुरू हुई। एआर में रुचि रखने वाली 13 वर्ष से अधिक उम्र की लड़कियों और महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने पर यह हैकाथॉन केंद्रित होगा।

स्नैप इंक में भारत के पब्लिक पॉलिसी हेड उत्तरा गणेश ने भी अपने विचार व्यक्त किए और कहा कि, "स्नैप में हम एआर के भविष्य का निर्माण करने के लिए उत्साहित हैं और यह भविष्य उस प्रतिभा पर दृढ़ता से निर्भर करता है जिसे हम पोषित करते हैं, प्रोत्साहित करते हैं और सशक्त बनाते हैं। हम अटल इनोवेशन मिशन, नीति आयोग के आभारी हैं कि हमें एआर में अपनी विशेषज्ञता को अटल टिंकरिंग लैब के स्कूलों के व्यापक नेटवर्क के साथ साझा करने और लेंस स्टूडियो के माध्यम से ऑगमेंटेड रियलिटी में छात्रों का कौशल बढ़ाने का अवसर मिला। हम अटल टिंकरिंग लैब्स को भारत में नवाचार और उद्यमिता की संस्कृति बनाने के मिशन को पूरा करने और भारत को ऑगमेंटेड रियलिटी हब बनने में मदद करने के लिए उत्साहित हैं।"

लेंसथॉन के एक हिस्से के रूप में स्नैप भारत में युवा महिलाओं को एआर और कौशल से परिचित कराने के उद्देश्य से विशेष कार्यशालाओं की मेजबानी करेगी जो भविष्य की डिजिटल अर्थव्यवस्था को चलाने के लिए आवश्यक होंगे। इन कार्यशालाओं में 13 वर्ष और उससे अधिक आयु की प्रतिभागी भाग ले सकेंगी। इसका आयोजन पूरे भारत में 16 महिला और 5 सह-शिक्षा संस्थानों में होगा। कार्यशालाओं की मेजबानी महिला लेंस निर्माता करेंगी, जिसमें महिलाओं के समुदाय का प्रतिनिधित्व करने वाले विषयों में एआर अनुभव का निर्माण करने के लिए स्नैप लेंस नेटवर्क के सदस्यों के नेतृत्व में उन्नत सत्र होंगे।


Edited by Ranjana Tripathi