जंगलों में लगी भीषण आग की तपिश झेल रहे ऑस्ट्रेलिया में बारिश से राहत मिली

जंगलों में लगी भीषण आग की तपिश झेल रहे ऑस्ट्रेलिया में बारिश से राहत मिली

Friday January 17, 2020,

2 min Read

जंगलों में लगी भीषण आग की तपिश झेल रहे पूर्वी ऑस्ट्रेलिया को बारिश से राहत मिली। अभी और बारिश होने की उम्मीद है। बारिश से राज्य के ज्यादातर हिस्सों में वायु गुणवत्ता में सुधार आया है। साल 2019 में ऑस्ट्रेलिया को सबसे सूखा और गर्म देश दर्ज किया गया।


k

फोटो क्रेडिट: Al jazeera



सिडनी, जंगलों में लगी भीषण आग की तपिश झेल रहे पूर्वी ऑस्ट्रेलिया को बृहस्पतिवार को बारिश से राहत मिली तथा अभी और बारिश होने की उम्मीद है।


ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में लगी भीषण आग में 28 लोगों की जान चली गई है और तकरीबन एक अरब जानवर मारे गए हैं।


गर्म मौसम और प्रभावित इलाकों में बहुत मामूली बारिश होने के कारण आग का यह संकट और गहराया गया है। अधिकारी इस सप्ताह बारिश की उम्मीद कर रहे थे।


स्थानीय मौसम विज्ञान ब्यूरो ने बताया कि न्यू साउथ वेल्स राज्य में बृहस्पतिवार तड़के ‘‘अच्छी बारिश’’ हुई। यह राज्य आग से सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्रों में से एक है।

राज्य की ग्रामीण दमकल सेवा ने एक सोशल मीडिया पोस्ट में बताया, ‘‘न्यू साउथ वेल्स में कई दमकलकर्मियों के लिए राहत है।’’ उसने एक वीडियो भी साझा की जिसमें जल रहे एक जंगल में बारिश पड़ती दिखाई दे रही है।





उसने कहा,

‘‘हालांकि इस बारिश से सारी आग नहीं बुझेगी लेकिन यह आग पर काबू पाने में काफी मददगार साबित होगी।’’


दक्षिणी शहर मेलबर्न में बुधवार देर रात को गरज के साथ बारिश पड़ने से आग का धुआं छंटने में मदद मिली। धुएं से शहर की आबोहवा दमघोंटू हो गई थी।


विक्टोरियन एनवायरमेंट प्रोटेक्शन एजेंसी ने कहा,

‘‘बारिश से राज्य के ज्यादातर हिस्सों में वायु गुणवत्ता में सुधार आया है।’’


एजेंसी ने बताया कि सप्ताहांत तक और बारिश का अनुमान है। अगर ऐसा होता है कि तो गत वर्ष सितंबर में आग लगने के बाद से यह बारिश की सबसे लंबी अवधि होगी।


इस आग के कारण 2,000 से अधिक मकान क्षतिग्रस्त हो गए और एक करोड़ हेक्टेयर भूमि जलकर खाक हो गई।


ऑस्ट्रेलिया में हर साल आग लगती है लेकिन पिछले साल यह काफी पहले शुरू हो गई और लंबे समय तक लगी रही।


साल 2019 में ऑस्ट्रेलिया को सबसे सूखा और गर्म देश दर्ज किया गया।