संस्करणों
शख़्सियत

भारत के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति अजीम प्रेमजी ने परोपकार में दान किए 52 हजार करोड़

15th Mar 2019
Add to
Shares
5.0k
Comments
Share This
Add to
Shares
5.0k
Comments
Share

अजीम प्रेमजी

भारत के दूसरे सबसे अमीर शख्स अजीम प्रेमजी ने बीते बुधवार को अपनी कंपनी विप्रो लिमिटेड के 34 फीसदी शेयर्स सामाजिक कार्यों के लिए दान करने की घोषणा की। एक बयान में कहा गया कि इन शेयर्स की कीमत 52,750 करोड़ रुपये है। इसके साथ ही प्रेमजी द्वारा किए जाने वाले सामाजिक कार्यों की कुल अक्षयनिधि बढ़कर 1.45 लाख करोड़ रुपये हो गई, इसमें विप्रो लिमिटेड की 67 फीसदी आर्थिक भागीदारी भी शामिल है।


अजीम प्रेमजी फाउंडेशन द्वारा जारी बयान में कहा गया, 'उनके शेयर्स से होने वाले सारे लाभ को परोपकारी गतिविधयों में इस्तेमाल किया जाएगा। उनके पास विप्रो के लगभग 34 फीसदी शेयर्स से होने वाले आर्थिक लाभों का इस्तेमाल परोपकारी किया जाएगा। ये 34 फीसदी शेयर्स कुछ अन्य संस्थाओं के हैं और उनपर अजीम प्रेममजी का नियंत्रण है।' अजीम प्रेमजी ने विप्रो के 67 फीसदी शेयर से होने वाली आमदनी को चैरिटेबल फाउंडेशन को दान करने की प्रतिबद्धता जताई है।


विप्रो कंपनी में प्रेमजी के परिवार और अन्य कंपनियों की हिस्सेदारी 74.30 फीसदी है। अजीम प्रेमजी द्वारा की गई घोषणा के बाद सोशल मीडिया पर उनकी जमकर तारीफ हुई। लोगों ने उन्हें 'कॉर्पोरेट रॉबिनहुड' की उपाधि दे दी। हालांकि ये पहली बार नहीं है जब अजीम प्रेमजी द्वारा बड़ी राशि दान करने की घोषणा की गई हो। समय समय पर अजीम प्रेमजी फाउंडेशन द्वारा जरूरतमंदों की मदद की जाती रही है। उनके फाउंडेशन द्वारा एक यूनिवर्सिटी भी संचालित की जाती है।


वे देश के सबसे पिछड़े इलाकों में शिक्षा के प्रसार के लिए जाने जाते हैं। यह फाउंडेशन कई राज्य सरकारों के साथ करीब से काम करता है। अभी कर्नाटक, उत्तराखंड, राजस्थान, छत्तीसगढ़, पुडुचेरी, तेलंगाना, मध्य प्रदेश और उत्तर पूर्वी इलाकों में अजीम प्रेमजी फाउंडेशन द्वारा शैक्षिक क्रियाकलाप संचालित होते हैं।

परोपकारी अरबपति लोगों की सूची जारी करने वाली एक एजेंसी बेन एंड कंपनी द्वारा बीते सप्ताह एक रिपोर्ट जारी की गई जिसमें बताया गया है कि पिछले पांच सालों में प्रेमजी को छोड़कर 10 करोड़ से अधिक पैसे दान करने वालों की संख्या में चार पर्सेंट की गिरावट आई है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि इस दरम्यान 35 करोड़ से अधिक संपत्ति रखने वालों की संख्या में 12 फीसदी का इजाफा हुआ है।


भारत के सबसे बड़े दानवीर अजीम प्रेमजी के बारे में कई दिलचस्प बातें प्रचलित हैं। मुंबई में एक गुजराती मुस्लिम परिवार में पैदा हुए अजीम प्रेमजी बेहद शालीन स्वाभाव के व्यक्ति हैं। वे अक्सर फ्लाइट की इकॉनमी क्लास में सफर करते हैं। इतना ही नहीं वे लग्जरी फाइव स्टार होटलों की जगह कंपनी के साधारण गेस्ट हाउस में ठहरने को तरजीह देते हैं। वे 1999 से लेकर 2005 तक भारत के सबसे अमीर शख्सियत रह चुके हैं।


यह भी पढ़ें: महिलाओं को मुफ्त में सैनिटरी पैड देने के लिए शुरू किया 'पैडबैंक'

Add to
Shares
5.0k
Comments
Share This
Add to
Shares
5.0k
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags