कैसे दो भाइयों ने मिलकर खड़ी कर दी इलेक्ट्रिक टू व्हीलर मैन्युफैक्चरिंग कंपनी

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के रहने वाले दो भाई — अलंकृत बोहरे और अनमोल बोहरे साल 2019 से इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस में लगे हुए हैं. इनकी कंपनी का नाम है Enigma Automobiles, जोकि भारतीय बाजार में हाई-स्पीड, RTO-अप्रूव्ड इलेक्ट्रिक टू व्हीलर बनाती है.

कैसे दो भाइयों ने मिलकर खड़ी कर दी इलेक्ट्रिक टू व्हीलर मैन्युफैक्चरिंग कंपनी

Thursday July 20, 2023,

4 min Read

इलेक्ट्रिक व्हीकल मार्केट का रेवेन्यू 2023 में 457.60 बिलियन डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है. साल 2023 से 2027 के बीच रेवेन्यू 17.02% की CAGR (compound annual growth rate) से बढ़ने की उम्मीद है. जिसके परिणामस्वरूप 2027 तक यह 858.00 बिलियन डॉलर का हो जाएगा. इलेक्ट्रिक व्हीकल मार्केट में यूनिट बिक्री के आंकड़ों पर गौर करें तो 2027 में इसके 16.21 मिलियन व्हीकल्स तक पहुंचने की उम्मीद है. ये आंकड़ें Statista की वेबसाइट से जुटाए गए हैं.

भारत सरकार ने 2030 तक भारत की सड़कों पर 30 % निजी वाहन, 70% वाणिज्यिक वाहन, 80% टू व्हीलर और थ्री व्हीलर बिक्री का लक्ष्य रखा है. एक अनुमान के मुताबिक भारत में 2050 तक 95% इलेक्ट्रिक वाहन होंगे.

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के रहने वाले दो भाई — अलंकृत बोहरे और अनमोल बोहरे साल 2019 से इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस में लगे हुए हैं. इनकी कंपनी का नाम है EnigmaAutomobiles

Enigma EV के को-फाउंडर - अलंकृत बोहरे और अनमोल बोहरे

Enigma EV के को-फाउंडर - अलंकृत बोहरे और अनमोल बोहरे

Enigma भारतीय बाजार में हाई-स्पीड, RTO-अप्रूव्ड इलेक्ट्रिक टू व्हीलर बनाती है. Enigma के को-फाउंडर और मैनेजिंग डायरेक्टर YourStory से बात करते हुए बताते हैं, "हमें एहसास है कि भारतीय ग्राहकों का खास ख़याल रखना है और उनकी अलग-अलग ज़रूरतें हैं, इसलिए हमने ग्राहकों को ध्यान में रखते हुए 4 अलग-अलग हाई स्पीड आरटीओ प्रोडक्ट तैयार किए हैं."

कंपनी के बिजनेस मॉडल के बारे में समझाते हुए अनमोल बताते हैं, "हम RTO-अप्रूव्ड इलेक्ट्रिक टू व्हीलर बनाते और बेचते हैं. हमने इस मॉडल को इसलिए चुना क्योंकि यह बदलते नियमों और भारतीय ग्राहकों की प्राथमिकताओं के अनुरूप है. उच्च गति, आरटीओ-अनुमोदित मॉडल पेश करके, हम बाजार को एक विश्वसनीय और वांछनीय उत्पाद प्रदान करने में सक्षम हैं."

Enigma द्वारा बनाए जाने वाले प्रोडक्ट्स की खास बातों के बारे में बताते हुए अनमोल कहते हैं, "हम बेहतर टॉर्क के लिए 30 एमएम मोटर मैग्नेट, ट्रैफिक में अचानक रुकने के लिए फ्रंट डिस्क ब्रेक और बेहतर लुक के लिए एल्यूमीनियम मिश्र धातु पहियों का उपयोग करते हैं. इसके अलावा, हम रिमूवेबल बैटरी ऑप्शन, लीड और लिथियम कम्पीटेबिलिटी, और CAN-बेस्ड एक्टिव बैलेंस स्मार्ट बैटरी मैनेजमेंट सिस्टम (BMS) मुहैया करते हैं. ये फीचर हमारे व्हीकल्स की ओवरऑल परफॉर्मेंस, सुविधा और विश्वसनीयता को बढ़ाते हैं."

bhopal-based-two-brothers-set-up-an-electric-two-wheeler-manufacturing-company-enigma-ev

बूटस्ट्रैप्ड स्टार्टअप ने अभी तक कोई बाहरी फंडिंग नहीं जुटाई है. फंडिंग और रेवेन्यू के बारे में अनमोल बताते हैं, "हमने कंपनी की वृद्धि को बढ़ावा देने के लिए अपनी लाभप्रदता और राजस्व (रेवेन्यू) सृजन पर भरोसा किया है. पिछले कुछ वर्षों में हमारा रेवेन्यू लगातार बढ़ रहा है, मार्च 2020 से आज तक हमने प्रति वर्ष 300% की वृद्धि दर दर्ज की है. ये आंकड़े हमारे बढ़ते पथ और हमारे उच्च गति, आरटीओ-अप्रूव्ड इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर्स की बढ़ती मांग को दर्शाते हैं."

इस बिजनेस को खड़ा करने में किन चुनौतियों का सामना करना पड़ा? इसके जवाब में अनमोल कहते हैं, "प्रमुख कठिनाइयों में से एक हमारे जैसे स्टार्टअप के लिए फाइनेंस विकल्पों की उपलब्धता की कमी रही है. जबकि पुराने वाहन निर्माताओं के पास बैंक फाइनेंस तक पहुंच है, हमें एक नई कंपनी के रूप में समझे जाने के कारण बाधाओं का सामना करना पड़ा है. हालाँकि, इन चुनौतियों के बावजूद, हमने महत्वपूर्ण प्रगति की है और खुद को इलेक्ट्रिक मोबिलिटी सेक्टर में एक प्रतिष्ठित खिलाड़ी के रूप में खड़ा किया है."

bhopal-based-two-brothers-set-up-an-electric-two-wheeler-manufacturing-company-enigma-ev

Enigma EV की टीम

अनमोल बताते हैं, "अभी तक हमने 5,000 से अधिक इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर बेचे हैं. अपने हाई-स्पीड मॉडल की शुरुआत के साथ, हम प्रति माह कम से कम 1,000 यूनिट सेल करने तक पहुंचने के लिए आश्वस्त हैं.

अंत में Enigma Automobiles को लेकर भविष्य की योजनाओं का खुलासा करते हुए को-फाउंडर अनमोल बोहरे बताते हैं, "निकट भविष्य में हमारा ध्यान बाजार में अपनी उपस्थिति बढ़ाने और बिक्री बढ़ाने पर है. हमने हाल ही में महाराष्ट्र के बाजार में प्रवेश किया है और इस महीने से निर्यात शुरू किया है. इसके अलावा, हमारी जुलाई 2023 में ओडिशा बाजार में प्रवेश करने की योजना है. ये रणनीतिक कदम हमारे विकास और बाजार में प्रवेश में योगदान देंगे."

यह भी पढ़ें
पीएम ऑफिस में टेलीकॉम नेटवर्क सेटअप करने वाले शख्स ने कैसे खड़ी कर दी 120 करोड़ के रेवेन्यू वाली EV बैटरी कंपनी