चीन की Tencent ने बिन्नी बंसल से Flipkart में खरीदी हिस्सेदारी, 2,060 करोड़ रुपए में हुआ सौदा

Flipkart का हेडक्वार्टर सिंगापुर में हैं और इसका कामकाज केवल भारत तक सीमित है. Tencent Cloud Europe BV के साथ सौदे के बाद फ्लिपकार्ट में बंसल की हिस्सेदारी करीब 1.84 प्रतिशत रह गई है.

चीन की दिग्गज टेक कंपनी Tencent ने Flipkartके को-फाउंडर बिन्नी बंसल से इस ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म में हिस्सेदारी खरीदी है. Tencent की यूरोपीय सब्सिडरी के साथ यह सौदा 26.4 करोड़ डॉलर (लगभग 2,060 करोड़ रुपये) में हुआ है. आधिकारिक दस्तावेजों में यह जानकारी दी गई.

Flipkart का हेडक्वार्टर सिंगापुर में हैं और इसका कामकाज केवल भारत तक सीमित है. Tencent Cloud Europe BV के साथ सौदे के बाद फ्लिपकार्ट में बंसल की हिस्सेदारी करीब 1.84 प्रतिशत रह गई है.

यह सौदा 26 अक्टूबर, 2021 को पूरा हुआ था और इसकी जानकारी सरकारी अधिकारियों को चालू वित्त वर्ष की शुरुआत में दी गई. अब Flipkart में Tencent की सब्सिडरी की हिस्सेदारी 0.72 फीसदी हो गई है जो करीब 26.4 करोड़ डॉलर है. जुलाई, 2021 तक इस ई-कॉमर्स कंपनी की वैल्यूएशन 37.6 अरब डॉलर थी.

बंसल और Tencent के बीच सौदा जुलाई में हुए फंडिंग राउंड के बाद हुआ था. इस राउंड में 3.6 अरब डॉलर जुटाने के बाद Flipkart की वैल्यूएशन बढ़कर 37.6 अरब डॉलर हो गई थी. इस फंडिंग राउंड का नेतृत्व सिंगापुर के सॉवरेन वेल्थ फंड GIC, CPP Investments, SoftBank Vision Fund 2 और Walmart ने किया था. इसके साथ ही इस राउंड में DisruptAD, Qatar Investment Authority, Khazanah Nasional Berhad, Tencent, Willoughby Capital, Antara Capital, Franklin Templeton और Tiger Global जैसे नामचीन इन्वेस्टर्स की भागीदारी देखी गई.

रिपोर्ट्स के मुताबिक यह सौदा सिंगापुर में हुआ है. हालांकि, Flipkart ने भारतीय अधिकारियों को कहा है कि वह एक जिम्मेदार कंपनी है तथा यह सौदा ‘Press Note 3’ के दायरे में नहीं आता है.

आपको बता दें कि ‘Press Note 3’ किसी भी भारतीय कंपनी को भारत के साथ भूमि सीमा साझा करने वाले देशों से मिलने वाले निवेश की जांच के लिए कहता है.

जबकि भारत में कई कंपनियां काम कर रही हैं जिनमें Tencent ने निवेश किया है, सरकार ने PUBG Mobile, PUBG Mobile Lite सहित कुछ गेमिंग ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया है जो Tencent Group द्वारा चलाई जा रही थी.

Montage of TechSparks Mumbai Sponsors