दिल्ली में कोरोना वायरस से हुई पहली मौत, बेटे से 68 साल की मां में पहुंचा था वायरस

दिल्ली में कोरोना वायरस से हुई पहली मौत, बेटे से 68 साल की मां में पहुंचा था वायरस

Saturday March 14, 2020,

3 min Read

कोरोना वायरस (COVID-19) से होने वाली मौतों का सिलसिला अब दिल्ली भी पहुंच गया है। शुक्रवार शाम में देश की राजधानी से लोगों और सरकार की चिंता बढ़ाने वाली खबर सामने आई।भारत में कोरोना वायरस से दूसरी मौत दिल्ली में हुई है। पश्चिमी दिल्ली के जनकपुरी इलाके में रहने वाली एक महिला की कोरोना की चपेट में आने से मौत हो गई।

68 साल की इस महिला को कोरोना के चलते दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। मरने वाली महिला अपने बेटे के संपर्क में आई थीं जो हाल ही स्विट्जरलैंड और इटली की यात्रा करके लौटा था और वह कोरोना से पीड़ित था। महिला ब्लड प्रेशर और हाइपरटेंशन से भी पीड़ित थीं।


k

सांकेतिक चित्र (फोटो क्रेडिट: oneindiahindi)


स्वास्थ्य सचिव प्रीती सुदन ने बताया,

'दिल्ली के एक अस्पताल में 65 साल से अधिक आयु के एक कोरोना वायरस मरीज की मौत हो गई है। यह भारत में कोरोना से होने वाली दूसरी मौत है।' 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी इस मामले की पुष्टि कर दी है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने अपने ट्विटर अकाउंट पर प्रेस रिलीज जारी की। प्रेस रिलीज में बताया गया कि पश्चिमी दिल्ली की जिस महिला की मौत हुई है, वह कोरोना से संक्रमित थी। उनका बेटा 5 फरवरी से 22 फरवरी तक स्विट्जरलैंड और इटली की यात्रा पर था।


वह कोरोना से संक्रमित था और 23 फरवरी को भारत वापस आया। महिला अपने बेटे के संपर्क में आई थीं। 7 मार्च को वह राम मनोहर लोहिया अस्पताल में थीं। प्रोटोकॉल के अनुसार उनके पूरी परिवार की स्क्रीनिंग की गई। मां और बेटे को खांसी-बुखार होने के कारण दोनों को भर्ती कर लिया गया। यहां पढ़ें पूरी प्रेस रिलीज...

हालांकि किस्मत अच्छी रही कि इस परिवार के बाकी आठ लोगों की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है। किसी भी घरवाले में कोरोना के लक्षण नहीं मिले हैं लेकिन ऐहतियातन तौर पर उन्हें आइसोलेट करके घरों में रखा जाएगा। मालूम हो, कोरोना से मौत का यह भारत में दूसरा मामला है। इससे पहले कर्नाटक के कलबुर्गी में एक शख्स की कोरोना से मौत हुई थी। 76 साल के मोहम्मद सिद्दीकी हाल ही में सऊदी अरब की यात्रा करके भारत लौटे थे।





अब तक देश में कोरोना महामारी के कुल 82 मामले सामने आए हैं। इसे देखते हुए दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, महाराष्ट्र सरकार ने इसे महामारी घोषित कर दिया है। इस बीमारी ने देश की रफ्तार पर रोक लगा दी है।


कोरोना का ही खौफ है कि शेयर मार्केट लगातार गिर रहा है, आईपीएल को आगे खिसका दिया गया है, अफ्रीका के साथ चल रही सीरीज के बचे मैच रद्द कर दिए गए हैं, फिल्मों की रिलीज डेट खिसका दी गई है और लगभग आधा भारत 31 मार्च तक बंद पड़ा है।


आईआईटी से लेकर जेएनयू जैसे बड़े विश्वविद्यालयों में भी क्लासों पर रोक लगा दी है। साथ ही छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान सहित कई राज्यों में शिक्षण संस्थानों पर ताला लगा दिया गया है।