मिलें कोविड-19 कॉलर ट्यून के लिए आवाज देने वाली वॉयस ओवर आर्टिस्ट जसलीन भल्ला से

मिलें कोविड-19 कॉलर ट्यून के लिए आवाज देने वाली वॉयस ओवर आर्टिस्ट जसलीन भल्ला से

Monday June 15, 2020,

2 min Read

कोविड-19 ने निश्चित रूप से उस दुनिया को बदल दिया है जिसमें हम रहते हैं। मास्क और सैनिटाइज़र जीवन का एक हिस्सा बन गए हैं, लोग योग और स्वच्छता पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं और पहले से अधिक ऑनलाइन कंटेंट देखना भी चरम पर है।


कोविड-19 कॉलर ट्यून के लिए वॉयस ओवर आर्टिस्ट जसलीन भल्ला ने आवाज दी है।

कोविड-19 कॉलर ट्यून के लिए वॉयस ओवर आर्टिस्ट जसलीन भल्ला ने आवाज दी है।



सरकार और प्राधिकरण इस वायरस से सुरक्षित रहने के लिए डू और नॉट के बारे में जागरूक करने के लिए अपनी पूरी कोशिश कर रहे हैं और एक माध्यम जिसे हम सभी ने सुना है, हमारे मोबाइल पर कॉलर ट्यून है जिसे हम सुनते हैं।


कोरोना के प्रति जागरूकता फैलाने वाली इस आवाज में हम सुनते हैं,

'कोरोना वायरस या कोविड-19 से आज पूरा देश लड़ रहा है। मगर याद रहे हमें बीमारी से लड़ना है, बीमार से नहीं। उनसे भेदभाव ना करें। उनकी देखभाल करें और इस बीमारी से बचने के लिए जो हमारी ढाल हैं, जैसे हमारे डॉक्टर, स्वास्थ्य कर्मचारी, पुलिस, सफाई कर्मचारी आदि उनको सम्मान दें। उन्हें पूरा सहयोग दें। इन योद्धाओं की करो देखभाल तो देश जीतेगा कोरोना से हर हाल। अधिक जानकारी के लिए स्टेट हेल्प लाइन नंबर या सेंट्रल हेल्पलाइन नंबर 1075 पर करें। भारत सरकार द्वारा जनहित में जारी।'

खैर, यह हाल ही में लोकप्रिय ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म द्वारा साझा किया गया है। इस वॉयसओवर के पीछे का नाम जसलीन भल्ला है। वह पहले एक स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट थीं और अब 10 साल से वॉयसओवर आर्टिस्ट के रूप में काम कर रही हैं और उनकी आवाज़ का इस्तेमाल दिल्ली मेट्रो, स्पाइसजेट और इंडिगो ने भी किया है।


हाल ही में जसलीन भल्ला ने ट्विटर पर NDTV के साथ अपना इंटरव्यू साझा किया।

आपको बता दें कि उनकी इस कॉलर ट्यून को इतनी पॉपुलैरिटी मिली है कि इस पर मीम (Memes) भी बने हैं। कहीं-कहीं तो लोगों ने इस कॉलर ट्यून से तंग आकर सरकार से इसे बंद करने की भी अपील की है।



Edited by रविकांत पारीक