कोरोना: जानें किन राज्यों में एक्टिव मामलों से अधिक हैं रिकवर हो चुके मामले?

By yourstory हिन्दी
July 15, 2020, Updated on : Wed Jul 15 2020 12:31:31 GMT+0000
कोरोना: जानें किन राज्यों में एक्टिव मामलों से अधिक हैं रिकवर हो चुके मामले?
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

देश में कोविड-19 मामलों को एक लाख तक पहुंचने में जहां 110 दिन लगे, वहीं इसने मात्र 56 दिनों में नौ लाख का आंकड़ा पार कर लिया।

marketing during the virus

(सांकेतिक चित्र)



मंगलवार शाम तक देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 9  लाख 33 हज़ार से अधिक मामले पाये जा चुके हैं, जबकि अब तक देश में 5 लाख 90 हज़ार से अधिक लोग रिकवर हो चुके हैं। गौरतलब है कि देश में बड़ी संख्या में नए मामले सामने आ रहे हैं, लेकिन देश में रिकवरी रेट में लगातार सुधार हो रहा है।


इसी के साथ कुछ राज्य ऐसे भी हैं जिन्होने बेहतर रिकवरी रेट प्राप्त करने में सफलता हासिल की है। इन राज्यों में अब एक्टिव केस से अधिक रिकवर हो चुके केसों की संख्या है। कुछ राज्यों में रिकवरी रेट देश के राष्ट्रीय औसत से अधिक है, जो कि 63 प्रतिशत है।


लगातार पांचवें दिन नए मामलों की संख्या 26,000 से अधिक रही है। देश में कोविड-19 मामलों को एक लाख तक पहुंचने में जहां 110 दिन लगे, वहीं इसने मात्र 56 दिनों में नौ लाख का आंकड़ा पार कर लिया।


एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि देश के 10 राज्यों में कुल सक्रिय मामलों में से 86 प्रतिशत दर्ज किए गए। उनमें से महाराष्ट्र और तमिलनाडु कुल सक्रिय मामलों के 50 प्रतिशत के लिए जिम्मेदार हैं।


कर्नाटक, दिल्ली, आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, पश्चिम बंगाल, गुजरात और असम अन्य प्रभावित राज्य हैं जिनकी कुल सक्रिय मामलों में 36 प्रतिशत की हिस्सेदारी है।


जिन राज्यों में रिकवर हो चुके मामलों की संख्या एक्टिव मामलों की संख्या से अधिक है, उनमें महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली, गुजरात, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, हरियाणा, मध्य प्रदेश, बिहार, असम, उड़ीसा, पुडुचेरी, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, पंजाब, छत्तीसगढ़, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, गोवा, त्रिपुरा, मणिपुर, मिज़ोरम, अण्डमान और निकोबार, दमन और दीयू, आंध्र प्रदेश और चंडीगढ़ शामिल हैं।