झुनझुनवाला ट्रस्ट की बागडोर जा सकती है उनके ‘गुरु’ के हाथ, सड़क पर हुई थी पहली मुलाकात

झुनझुनवाला और दमानी काफी अच्छे दोस्त थे. दोनों को दलाल स्ट्रीट के जय-वीरू के नाम से जाना जाता था.

झुनझुनवाला ट्रस्ट की बागडोर जा सकती है उनके ‘गुरु’ के हाथ, सड़क पर हुई थी पहली मुलाकात

Tuesday August 23, 2022,

3 min Read

D-Mart रिटेल चेन के प्रमोटर राधाकिशन दमानी (Radhakishan Damani), राकेश झुनझुनवाला (Rakesh Jhunjhunwala) के एस्टेट को मैनेज करने वाले ट्रस्ट को हेड कर सकते हैं. यह बात moneycontrol.com की एक रिपोर्ट में कही गई है. दमानी की कंपनी का नाम एवेन्यु सुपरमार्ट्स है, जिसके तहत डीमार्ट रिटल चेन आती है. एवेन्यु सुपरमार्ट्स का मार्केट कैप 2.75 लाख करोड़ रुपये है. भारत के वॉरेन बफे कहलाने वाले राकेश झुनझुनवाला दुनिया से विदा ले चुके हैं. 62 वर्षीय झुनझुनवाला 14 अगस्त 2022 को इस संसार को अलविदा कह गए.

झुनझुनवाला और दमानी काफी अच्छे दोस्त थे. दोनों को दलाल स्ट्रीट के जय-वीरू के नाम से जाना जाता था. 2020 में एक सार्वजनिक कार्यक्रम में झुनझुनवाला ने कहा था कि उन्होंने दमानी से बहुत कुछ सीखा है, जिनमें निवेश और व्यापार से जुड़े सबक भी शामिल हैं. वह दमानी को अपना मेंटोर मानते थे. बिग बुल के लिए दमानी आदर्श मित्र, दार्शनिक और मार्गदर्शक थे. दमानी और उनकी पहली बार मुलाकात 1987-88 में एक दिन बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के बाहर सड़क पर हुई थी. स्टॉक मार्केट इन्वेस्टर से उद्यमी बने राधाकिशन दमानी की कुल संपत्ति, एवेन्यू में उनकी होल्डिंग सहित जून 2022 में 180000 करोड़ रुपये से अधिक थी.

अन्य ट्रस्टीज में कौन शामिल

रिपोर्ट में कहा गया कि दमानी के अलावा राकेश झुनझुनवाला के ट्रस्ट के लिए अन्य ट्रस्टीज में कल्पराज धरमशी और अमल पारिख शामिल हैं. तीनों को बिग बुल के काफी करीब माना जाता था. ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक, राकेश झुनझुनवाला अपने पीछे लगभग 4 अरब डॉलर की स्टॉक होल्डिंग्स छोड़ गए हैं. लगभग 3 दर्जन से ज्यादा लिस्टेड कंपनियों में उनका निवेश है. इसके अलावा कई अनलिस्टेड कंपनियों में भी उनका निवेश है.

उत्पल शेठ और अमित गोयला मैनेज कर रहे फर्म

झुनझुनवाला अपनी एसेट मैनेजमेंट कंपनी रेयर एंटरप्राइजेस में पार्टनर थे. झुनझुनवाला, रेयर एंटरप्राइजेस की मदद से अपना पोर्टफोलियो संभालते थे. इस फर्म को उनके दो ट्रस्टेड पार्टनर्स उत्पल शेठ और अमित गोयला मैनेज करते हैं. आगे भी इन्हीं के द्वारा फर्म को मैनेज किए जाने की खबर है. उत्पल शेठ, निवेश के मामले में झुनझुनवाला की मदद कर रहे थे और उन्होंने पिछले कुछ वर्षों में मुख्य रूप से निजी इक्विटी निवेश पर ध्यान केंद्रित किया है. ट्रेडिंग के मामले में अमित गोयल उनके राइट हैंड थे. वह स्वतंत्र रूप से फर्म के लिए एक ट्रेडिंग बुक का प्रबंधन भी कर रहे थे.

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि राकेश झुनझुनवाला की पत्नी रेखा झुनझुनवाला व्यवसायी परिवार से हैं और फाइनेंस की समझ रखती हैं. इसलिए वह और उनके भाई फर्म के प्रबंधन में एक बड़ी भूमिका निभा सकते हैं. फोर्ब्स के अनुमान के मुताबिक, मृत्यु के वक्त झुनझुनवाला की नेटवर्थ 5.8 अरब डॉलर थी. वह एक एक्टिव इन्वेस्टर तो थे ही, साथ ही कई कंपनियों में चेयरपर्सन और डायरेक्टर भी थे. हाल ही में उनके निवेश वाली आकासा एयर (Akasa Air) शुरू हुई है. इस विमानन कंपनी में सबसे ज्यादा हिस्सेदारी राकेश झुनझुनवाला और उनकी पत्नी रेखा की ही है.

सबसे ज्यादा निवेश टाइटन में

झुनझुनवाला का 10946 करोड़ रुपये का सबसे ज्यादा निवेश टाइटन कंपनी में है. इसके अलावा Star Health (Rs 7,056 crore), Metro Brands (Rs 3,166 crore), Tata Motors (Rs 1,707 crore), Crisil (Rs 1,308 crore) भी उनके बड़े निवेशों में शामिल हैं.


Edited by Ritika Singh