ED ने हमारे बैंक अकाउंट प्रतिबंध को हटाया: WazirX

By रविकांत पारीक
September 12, 2022, Updated on : Mon Sep 12 2022 12:59:37 GMT+0000
ED ने हमारे बैंक अकाउंट प्रतिबंध को हटाया: WazirX
WazirX ने कहा है कि कंपनी द्वारा जांच में पूरा सहयोग देने और ब्लॉक किए गए संदिग्ध खातों की एंटी मनी लॉन्ड्रिंग द्वारा जांच के बाद ईडी ने कंपनी के बैंक खातों से बैन हटा लिया है. WazirX अब हमेशा की तरह अपने बैंकिंग ऑपरेशन को जारी रखने की स्थिति में है.
Clap Icon0 claps
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 claps
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate - ED) 16 फिनटेक कंपनियों और इंस्टेंट लोन ऐप की जांच कर रहा है, उनमें से कुछ क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज WazirXप्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर रही थी. WazirX जांचकर्ताओं को अपना प्लेटफ़ॉर्म का इस्तेमाल करने वाली कथित आरोपी कंपनियों के सभी आवश्यक विवरण, जानकारी और दस्तावेज़ प्रदान करके सहयोग कर रहा है. अब हाल ही में उसके बैंक अकाउंट को एक्सेस करने पर लगाए प्रतिबंध को ईडी ने हटा लिया है. क्रिप्टो एक्सचेंज को अपने बैंकिंग काम-काज को फिर से शुरू करने की अनुमति मिल गई है.


कंपनी ने YourStory के साथ आधिकारिक बयान में इस बात की जानकारी दी है.

 

WazirX ने कहा है कि कंपनी द्वारा जांच में पूरा सहयोग देने और ब्लॉक किए गए संदिग्ध खातों की एंटी मनी लॉन्ड्रिंग द्वारा जांच के बाद ईडी ने कंपनी के बैंक खातों से बैन हटा लिया है. WazirX अब हमेशा की तरह अपने बैंकिंग ऑपरेशन को जारी रखने की स्थिति में है.


कंपनी ने आगे कहा, WazirX के पास अपने प्लेटफ़ॉर्म का उपयोग करने वाली किसी भी अवैध गतिविधियों के प्रति असहिष्णु नीति है और उपयोगकर्ताओं को इसका उपयोग केवल कानूनी और वास्तविक उद्देश्यों के लिए करने के लिए अनिवार्य करता है. WazirX पर, उपयोगकर्ता सभी लागू कानूनों के अनुसार काम करने का वचन देते हैं.

 

कंपनी ने आगे स्पष्ट किया कि उसका किसी भी कथित आरोपी फिनटेक और इंस्टेंट लोन ऐप संस्थाओं से कोई संबंध नहीं है, जो ईडी की जांच का विषय प्रतीत होता है और ऐसा करने के लिए कोई कानूनी दायित्व नहीं होने के बावजूद कंपनी केवाईसी / एएमएल की जांच कर रही है. WazirX किसी भी अन्य मध्यस्थ की तरह है जिसके मंच का दुरुपयोग किया जा सकता है.

 

गहन आंतरिक जांच के बाद, WazirX ने देखा कि अधिकांश उपयोगकर्ता जिनकी जानकारी ईडी द्वारा मांगी गई थी, उन्हें पहले से ही WazirX द्वारा आंतरिक रूप से संदिग्ध के रूप में पहचाना गया था और पहले से ही 2020-2021 में ब्लॉक कर दिया गया था.

 

WazirX द्वारा बढ़ाए गए सक्रिय सहयोग और सक्रिय एंटी-मनी लॉन्ड्रिंग (एएमएल) चेक के कारण संदिग्ध खातों को ब्लॉक करने के कारण, ईडी ने कंपनी के बैंक खातों को अनफ्रीज कर दिया है. WazirX अब हमेशा की तरह अपने बैंकिंग काम-काज को जारी रखने की स्थिति में है.


ईडी ने क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज WazirX के डायरेक्टर के ठिकानों पर छापेमारी कर 64.67 करोड़ रुपये की बैंक एसेट्स को फ्रीज कर दिया था.


ईडी का कहना है कि 16 भारतीय फिनटेक फर्म और लोन एप्स ने अनजान विदेशी वॉलेट में इस क्रिप्टो एक्सचेंज के जरिए मनी ट्रांसफर किया है. ये वही लोन एप मामला है जिसमें इंस्टेंट लोन देने वाले एप ने लोगों के साथ काफी गलत और गैरकानूनी व्यवहार किया. इस वजह से सैकड़ों लोग परेशान हुए और आत्महत्या करने पर मजबूर हुए.