डाकघर में है खाता तो ध्यान दें! 1 अप्रैल से होने जा रहा एक बदलाव

डाकघर खाते में मोबाइल नंबर अपडेट कराने के लिए खाताधारक को निकटतम डाकघर शाखा जाना होगा.

डाकघर में है खाता तो ध्यान दें! 1 अप्रैल से होने जा रहा एक बदलाव

Wednesday March 22, 2023,

2 min Read

हाइलाइट्स

  • ट्वीट के जरिए दी गई जानकारी
  • बचत खाता मिलाकर डाकघर की कुल 9 सेविंग्स स्कीम्स
  • पोस्ट ऑफिस में आपकी पूरी जमा सुरक्षित

अगर आपका डाकघर (Post Office) में खाता है तो एक जरूरी खबर है. डाकघर 1 अप्रैल 2023 से खातों के साथ मोबाइल नंबर की लिंकिंग अनिवार्य करने जा रहा है. इसलिए खाताधारक जल्द से जल्द अपना मोबाइल नंबर अपने डाकघर खाते में अपडेट करा लें. इस बारे में इंडिया पोस्ट (India Post) की ओर से ट्वीट के जरिए जानकारी दी गई है.

इंडिया पोस्ट की ओर से डाकघर के सभी खाताधारकों को सूचित किया गया है कि 1 अप्रैल 2023 से डाकघर खाते में/से किसी भी तरह के वित्तीय ट्रांजेक्शन के लिए मोबाइल नंबर की लिंकिंग अनिवार्य होगी. इसलिए डाकघर के सभी खाताधारकों को सलाह दी जाती है कि खाते की सिक्योरिटी सुनिश्चित करने के लिए अपने डाकघर खाते में मोबाइल नंबर तुरंत अपडेट कराएं.

कैसे होगा यह अपडेशन

डाकघर खाते में मोबाइल नंबर अपडेट कराने के लिए खाताधारक को निकटतम डाकघर शाखा जाना होगा. वहां जाकर ही ऐसा कराया जा सकता है. खाताधारक चाहें तो निकटतम डाकघर शाखा को इंडिया पोस्ट की वेबसाइट से ऑनलाइन पता कर सकते हैं. इसके लिए https://www.indiapost.gov.in/vas/pages/LocatePostOffices.aspx पर जाना होगा. इसके बाद राज्य, शहर/जिला या पिनकोड, सर्विस व कैप्चा कोड को डालकर सर्च करें.

डाकघर की कुल 9 सेविंग्स स्कीम्स

बचत खाता मिलाकर डाकघर की कुल 9 सेविंग्स स्कीम्स हैं. इन्हें स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स कहा जाता है. ये स्कीम्स हैं- नेशनल सेविंग्स रिकरिंग डिपॉजिट अकाउंट यानी पोस्ट ऑफिस RD, नेशनल सेविंग्स टाइम डिपॉजिट अकाउंट यानी पोस्ट ऑफिस FD/TD, नेशनल इनकम मंथली इनकम अकाउंट (MIS), सीनियर सिटीजन सेविंग्स स्कीम (SCSS), पब्लिक प्रोविडेंट फंड, नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (NSC), किसान विकास पत्र (KVP), सुकन्या समृद्धि अकाउंट (SSY) और डाकघर बचत खाता.

डाकघर में कैसे एक-एक पैसा सुरक्षित

अगर कोई बैक डिफॉल्ट कर जाता है या दिवालिया हो जाता है, तो ग्राहक की कुल मिलाकर केवल 5 लाख रुपये तक की जमा ही सुरक्षित होती है. भले ही ग्राहक के एक बैंक की अलग-अलग ब्रांच में, विभिन्न खातों में कितने ही पैसे जमा हों लेकिन अगर वह बैंक दिवालिया हो गया तो उसे कुल मिलाकर मैक्सिमम 5 लाख रुपये ही वापस मिलेंगे. लेकिन डाकघर में ऐसा नहीं है. पोस्ट ऑफिस में आपकी पूरी जमा सुरक्षित रहती है क्योंकि इस पर सॉवरेन गारंटी रहती है.

यह भी पढ़ें
शादी के लिए भी EPF से निकाल सकते हैं पैसा, ये हैं नियम व शर्तें

Montage of TechSparks Mumbai Sponsors