Twitter के पूर्व सीईओ पराग अग्रवाल ने AI स्टार्टअप के लिए जुटाए 30 मिलियन डॉलर

द इंफॉर्मेशन की एक रिपोर्ट के अनुसार, निवेश का नेतृत्व विनोद खोसला की वीसी फर्म, Khosla Ventures ने किया था.

Twitter के पूर्व सीईओ पराग अग्रवाल ने AI स्टार्टअप के लिए जुटाए 30 मिलियन डॉलर

Wednesday January 10, 2024,

2 min Read

ट्विटर (अब एक्स) के पूर्व सीईओ पराग अग्रवाल (Twitter Ex-CEO Parag Agrawal) ने अपने आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (AI) स्टार्टअप के लिए 30 मिलियन डॉलर की फंडिंग जुटाई है. इस फंडिंग राउंड का नेतृत्व OpenAI के शुरुआती समर्थक, Khosla Ventures ने किया था. द इन्फॉर्मेशन ने अपनी एक रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी है.

बता दें कि पराग ने एलन मस्क (Elon Musk) के ट्विटर के सीईओ का पदभार संभालने के बाद 2022 में कंपनी छोड़ दी थी.

द इंफॉर्मेशन ने सौदे से परिचित दो सूत्रों का हवाला देते हुए बताया कि विनोद खोसला की वेंचर कैपिटल फर्म के अलावा, Index Ventures और First Round Capital ने भी इस राउंड में भाग लिया.

रिपोर्ट के अनुसार, अग्रवाल का AI स्टार्टअप लार्ज लैंग्वेज मॉडल (LLM) के डेवलपर्स और ग्राहकों के लिए सॉफ्टवेयर बना रहा है. हालांकि, रिपोर्ट में स्टार्टअप का नाम या किसी अन्य जानकारी का उल्लेख नहीं किया गया है.

AI की दुनिया में अग्रवाल की एंट्री अन्य टेक ऑन्त्रप्रेन्योर्स के नक्शेकदम पर है, जो भविष्य को आगे बढ़ाने के लिए AI और इसके इस्तेमाल पर दांव लगाते हुए इस दौड़ में कूद गए हैं.

भारत में, ओला के फाउंडर और सीईओ, भाविश अग्रवाल, Krutrim SI Designs नाम से अपना खुद का AI स्टार्टअप खड़ा करने में व्यस्त हैं. ये भी एक LLM है, जो 10 इंडिक भाषाओं में कंटेंट तैयार करने और 20 को समझने में सक्षम होगा.

कंपनी का दावा है कि इंडिक भाषाओं को सपोर्ट करने वाली उसकी लाइब्रेरी OpenAI के GPT-4 से भी बड़ी है.

कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय के साथ नियामक फाइलिंग के अनुसार, Krutrim ने Matrix Partners से 24 मिलियन डॉलर की डेट फंडिंग जुटाई है. अगस्त में प्रकाशित Entrackr की एक रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी 100 मिलियन डॉलर तक की फंडिंग जुटाने पर विचार कर रही है.

(Translated by: रविकांत पारीक)

Montage of TechSparks Mumbai Sponsors