Beams Fintech ने स्टार्टअप इकोसिस्टम को दिए 2 सूनिकॉर्न

भारत के पहले ग्रोथ स्‍टेज फिनटेक फंड ने 2022 में प्रमुख घरेलू और वैश्विक निवेशकों के साथ नियो और प्रोगकैप को समर्थन दिया

Beams Fintech ने स्टार्टअप इकोसिस्टम को दिए 2 सूनिकॉर्न

Tuesday February 07, 2023,

4 min Read

Beams FinTech Fund, एक प्रमुख ग्रोथ स्‍टेज फिनटेक फंड, की पोर्टफोलियो कंपनियों ने 1 अरब डॉलर से ज्‍यादा के संयुक्‍त मूल्‍यांकन पर 150 मिलियन डॉलर से अधिक की पूंजी जुटाई है. इस तरह, इस फंड ने कैलेंडर वर्ष 2022 का बेहतरीन समापन किया है.

सूनिकॉर्न ऐसे स्टार्टअप को कहते हैं, जिनमें यूनिकॉर्न (जिसकी वैल्यूएशन 1 अरब डॉलर है) बनने की क्षमता होती है.

Beams Fintech Fund मार्च 2022 में 36 मिलियन डॉलर की पूंजी के साथ पहली क्लोजिंग हासिल करने में सफल रहा और इसने साल के दौरान दो निवेश किेए. Beams अब 120 मिलियन डॉलर की अपनी लक्षित पूंजी में 50% से अधिक पूंजी जुटाए जाने के लक्ष्‍य को हासिल कर चुका है और 3 नए निवेश करने के निर्णायक चरण में है.

फिनटेक क्षेत्र के अग्रणी सागर अग्रवाल और नवीन सूर्या और Venture Catalysts के फाउंडर - अनुज गोलेचा, डॉ अपूर्व रंजन शर्मा, अनिल जैन और गौरव जैन द्वारा संस्थापित, Beams मुख्य रूप से फाइनेंशियल सर्विसेज और टेक्‍नोलॉजी के संयोजन पर काम करने वाली कंपनियों के सीरीज बी और सी दौर में निवेश करता है.

पूरे साल के दौरान जब अधिकांश फिनटेक कंपनियां पूंजी जुटाने के लिए संघर्ष कर रही थीं, तब Beams पोर्टफोलियो की दोनों कंपनियां मुख्य निवेशकों से निवेश हासिल करने में सफल रहीं. मल्टीपल्स प्राइवेट इक्विटी ने नियो में निवेश किया जबकि Beams ने गूगल और टाइगर के साथ प्रोगकैप में निवेश किया.

Beams ने 8 निवेश पेशेवरों और 10 से अधिक संरक्षकों, सलाहकारों, सीएक्सओ की एक टीम बनाई है, जो Beams के लिए पोर्टफोलियो बनाने और पोर्टफोलियो कंपनियों के लिए बेहतरीन मूल्य जोड़ने में मदद करते हैं. Beams ने अपनी पोर्टफोलियो कंपनियों के साथ संयोजन के लिए एलपी के तौर पर Yes Bank, Infibeams, Capri Global, ECG आदि समेत प्रमुख वित्तीय संस्थानों को शामिल किया है.

पोर्टफोलियो कंपनियों की पहुंच में प्रमुख कमियों की पहचान करने और अपने एलपी के साथ साझेदारी में इसे प्रदान करने की रणनीति के लिए संस्थापक समुदाय द्वारा Beams की सराहना की जा रही है. अमेरिका में कैनेपी वेंचर्स के समान, Beams अपनी कंपनियों के लिए वैल्‍यू का निर्माण करने के लिए भारत के भीतर और बाहर बैंकों, एनबीएफआई, बीमा कंपनियों और डीएफआई के सबसे बड़े पारितंत्र का निर्माण करेगा.

Beams पोर्टफोलियो कंपनियों ने 2022 में भी महत्वपूर्ण प्रभाव डाला. हमारी पोर्टफोलियो कंपनियों ने 5 मिलियन से अधिक उपभोक्ताओं, एसएमई और एमएसएमई को वित्तीय सेवाओं तक पहुंच प्रदान की, जिसमें 1 बिलियन डॉलर से अधिक का ऋण दिया गया और कम सेवा प्राप्त और ब्लू कॉलर श्रमिकों के लिए 1.5 बिलियन डॉलर से अधिक का वार्षिक भुगतान सक्षम किया गया.

2022 के दौरान, Beams को भारतीय फिनटेक के क्षेत्र में सबसे अनूठे आगामी निवेशकों में से एक के रूप में मान्यता दी गई है, जिसके कारण Beams को कई वैश्विक और अखिल-भारतीय कार्यक्रमों में आमंत्रित किया गया. Global Fintech Fest 2022 का हिस्सा था, जो भारत का सबसे बड़ा फिनटेक इवेंट है. Beams एम्स्टर्डम, सिंगापुर और दुबई में ग्लोबल एलपी/जीपी इवेंट, सुपररिटर्न्स का भी हिस्सा था. हमारे मैनेजिंग पार्टनर, सागर अग्रवाल को भारत में फिनटेक इन्वेस्टमेंट्स की ग्रोथ स्टेज पर अपने विचार साझा करने के लिए आमंत्रित किया गया था.

सागर अग्रवाल, को-फाउंडर एवं मैनेजिंग डाइरेक्‍टर, Beams Fintech Fund, ने कहा, “2022 Beams के लिए एक महत्वपूर्ण वर्ष रहा है. पारितंत्र में एक अपेक्षाकृत नए मंच के रूप में और एक कैटेगरी फोकस्‍ड फंड बनाना दिलचस्प यात्रा रही, विशेष रूप से उस वर्ष में जो उच्च महंगाई, भू-राजनीतिक तनाव और टेक्‍नोलॉजी इकोसिस्‍टम में नरमी से प्रभावित रहा. हालांकि, हम इस तरह के उच्च गुणवत्ता वाले निवेशकों का समर्थन करने के लिए बहुत भाग्यशाली रहे हैं. हमने वर्ष की शुरुआत में जो तय किया था, उससे अधिक हासिल किया है और भारत के पहले ग्रोथ स्‍टेज फोकस्‍ड फिनटेक फंड के रूप में मान्‍यता मिलने पर हमें गर्व है.”

नवीन सूर्या, को-फाउंडर एवं एएमपी, ऑपरेटिंग पार्टनर, Beams Fintech Fund, ने कहा, "कैलेंडर वर्ष 23 हमारे लिए और भी अधिक आशाजनक और सकारात्मक लग रहा है क्योंकि बाजारों ने निजी और सार्वजनिक दोनों जगहों पर महत्वपूर्ण रूप से सुधार किया है, जिससे हमें उच्च गुणवत्ता वाली टीमों और व्यवसायों के साथ अधिक आकर्षक कीमतों पर निवेश करने का अवसर मिला है और हमारी मौजूदा पोर्टफोलियो कंपनियां पहले से ही शानदार प्रदर्शन कर रही हैं. हम कैलेंडर वर्ष 23 में 60-70 मिलियन डॉलर से अधिक के लक्ष्य को बढ़ाने और तैनात करने के लिए फंड को क्लोज करने की उम्मीद करते हैं."

यह भी पढ़ें
Apple और Google जैसी कंपनियों की नैया पार लगाने वाली Sequoia Capital की कहानी