G20 स्टार्टअप 20 इंगेजमेंट ग्रुप की बैठक हैदराबाद में होनी तय, भारत स्टार्टअप्स के लिए वैश्विक सहायता का आयोजन करेगा

By रविकांत पारीक
January 26, 2023, Updated on : Thu Jan 26 2023 04:40:46 GMT+0000
G20 स्टार्टअप 20 इंगेजमेंट ग्रुप की बैठक हैदराबाद में होनी तय, भारत स्टार्टअप्स के लिए वैश्विक सहायता का आयोजन करेगा
स्टार्टअप 20 इंडिया के अध्यक्ष डॉ. चिंतन वैष्णव ने कहा कि विश्व के तीसरे सबसे बड़े स्टार्टअप इकोसिस्टम के रूप में, भारत विशेष रूप से वैश्विक महत्व के क्षेत्रों में नवाचार स्टार्टअप्स की सहायता करने में अग्रणी भूमिका निभाने के लिए अच्छी स्थिति में है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

जी-20 स्टार्टअप 20 इंगेजमेंट ग्रुप की उद्घाटन बैठक इस सप्ताह हैदराबाद में होगी, जिसमें जी20 देशों के प्रतिनिधि तथा पर्यवेक्षक देशों के नौ विशेष आमंत्रित सदस्य, बहुपक्षीय संगठनों के साथ साथ भारतीय स्टार्टअप इकोसिस्टम के प्रतिनिधि भाग लेंगे.


बैठक स्टार्टअप्स की सहायता करने और स्टार्टअप्स, कॉरपोरेट्स, निवेशकों, नवाचार एजेन्सियों और अन्य प्रमुख इकोसिस्टम हितधारकों के बीय संयोजन को बढ़ावा देने के लिए एक वैश्विकनैरेटिव का सृजन करेगा.


स्टार्टअप 20 इंडिया के अध्यक्ष डॉ. चिंतन वैष्णव ने कहा कि विश्व के तीसरे सबसे बड़े स्टार्टअप इकोसिस्टम के रूप में, भारत विशेष रूप से वैश्विक महत्व के क्षेत्रों में नवाचार स्टार्टअप्स की सहायता करने में अग्रणी भूमिका निभाने के लिए अच्छी स्थिति में है.


स्टार्टअप 20 इंगेजमेंट ग्रुप सर्वसहमति आधारित परिभाषाओं के माध्यम से वैश्विक स्टार्टअप इकोसिस्टम को संयोजित करने के लिए काम करेगा और अवसरों की खोज करने के लिए स्टार्टअप इकोसिस्टम के बीच ज्ञान साझा करने के वैश्विक समुदाय को बढ़ावा देगा.


डॉ. चिंतन वैष्णव ने कहा, "यह समूह इनक्यूबेटरों तथा सरकारी एजेन्सियों जैसे सक्षमकर्ताओं के साथ साझीदारी के माध्यम से जी20 सदस्य देशों तथा उभरती अर्थव्यवस्थाओं के स्टार्टअप इकोसिस्टम के बीच ज्ञान अंतराल को भी पाटने का काम करेगा."


उन्होंने जोर देकर कहा, "इसके अतिरिक्त, हमारा लक्ष्य स्टार्टअप्स के साथ काम करने के लिए उद्योग से जुड़ी कंपनियों और सरकारी संगठनों के लिए सहायक नीतियों का सृजन करना भी है."


स्टार्टअप20 के तीन मुख्य कार्यबल हैं: फाउंडेशन और गठबंधन कार्यबल, वित्त तथा समावेशन एवं स्थिरता


फाउंडेशन और गठबंधन कार्यबल सर्वसहमति आधारित परिभाषाओं के माध्यम से वैश्विक स्टार्टअप इकोसिस्टम को संयोजित करने के लिए काम करेगा और अवसरों की खोज करने के लिए स्टार्टअप इकोसिस्टम के बीच ज्ञान साझा करने के वैश्विक समुदाय को बढ़ावा देगा. यह स्टार्टअप्स के साथ काम करने के लिए तथा ठोस समाधान पाने के लिए सभी जी20 सदस्य देशों में उद्योग की और अधिक कंपनियों को सक्षम बनाने के लिए साझीदारी के माध्यम से जी20 सदस्य देशों तथा उभरती अर्थव्यवस्थाओं के स्टार्टअप इकोसिस्टम के बीच ज्ञान अंतराल को भी पाटने का काम करेगा. अंत में, इसका लक्ष्य स्टार्टअप्स के साथ काम करने के लिए और सहभागी जी20 सदस्य देशों के निरंतर सहयोग के लिए संपर्क बिन्दुओं को उपलब्ध कराने के लिए उद्योग से जुड़ी कंपनियों और सरकारी संगठनों के लिए सहायक नीतियों का निर्माण करना भी होगा.


वित्त कार्यबल का लक्ष्य स्टार्टअप्स के लिए उपलब्ध वित्तीय साधनों की श्रेणी को व्यापक बनाने के लिए विशेष रूप से आरंभिक चरण वाले स्टार्टअप्स के लिए वित्त पोषण तथा निवेश मंच उपलब्ध कराने के माध्यम से स्टार्टअप्स के लिए पूंजी तक पहुंच बढ़ाना होगा. यह वैश्विक निवेशक समुदाय के साथ स्टार्टअप्स के लिए पिचिंग तथा नेटवर्किंग अवसरों का भी सृजन करेगा. अंत में, यह वैश्विक निवेशकों के लिए जी20 सदस्य देशों में स्टार्टअप्स को वित्तपोषित करने के लिए वैश्विक निवेशकों के लिए सर्वश्रेष्ठ कार्यप्रणालियों पर निर्मित्त एक संरचना उपलब्ध कराने के लिए काम करेगा जोकि निवेश क्षमताओं के निर्माण के लिए उभरती इकोसिस्टम्स में कार्यान्वित किए जा सकने वाले सांकेतिक संरचनाओं के निर्माण में सहायता करेगा.


समावेशन एवं स्थिरता के लिए, रूपरेखा में महिलाओं के नेतृत्व वाले स्टार्टअप एवं संगठनों के लिए सहायता बढ़ाना, समुदायों को अधिक समावेशी बनाने पर काम कर रहे स्टार्टअप्स को बढ़ावा देना तथा वैश्विक हित के क्षेत्रों में एसडीजी पर काम करने वाले स्टार्टअप्स को प्रोत्साहित करना शामिल है. इसके अतिरिक्त, इस कार्यबल का लक्ष्य अधिक निवेशकों को टिकाऊ कार्यप्रणालियों पर निर्मित्त स्टार्टअप्स में जिम्मेदारी से निवेश करने में सक्षम बनाना और जी20 सदस्य देशों तथा उभरती अर्थव्यवस्थाओं के स्टार्टअप इकोसिस्टम को मेंटरशिप सपोर्ट को प्रोत्साहित करना है.


इस बीच, स्टार्टअप20 कार्यकलाप पांच कार्यक्रमों तक विस्तारित होंगे जिसकी शुरुआत 28-29 जनवरी, 2023 में आरंभिक कार्यक्रम के साथ हैदराबाद में होगी और सम्मेलन के कार्यक्रम 3 जुलाई, 2023 को गुरुग्राम में आयोजित होंगे. भारत के विभिन्न हिस्सों में तीन मध्यवर्ती कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे.


स्टार्टअप20 के प्रत्याशित परिणामों तथा प्रमुख आउटपुट में आधिकारिक नीतिगत विज्ञप्ति, आम तौर पर स्वीकृत परिभाषाओं तथा शब्दावलियों के एक सेट के साथ एक स्टार्टअप हैंडबुक, सीमाओं के पार सहयोग को बढ़ावा देने के लिए एक वैश्विक नवाचार केंद्र तथा दुनिया भर में स्टार्टअप इकोसिस्टम के लिए एक वैश्विक संपर्क बिन्दु के रूप में स्टार्टअप20 को बढ़ावा देना शामिल है.

यह भी पढ़ें
फिनटेक यूनिकॉर्न Pine Labs ने Saluto Wellness का अधिग्रहण किया