यूं ही नहीं दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बन गए गौतम अडानी, हर मिनट कमाए 1 करोड़ से अधिक रुपये

इसके साथ ही फोर्ब्स (Forbes) और ब्लूमबर्ग (Bloomberg) की दुनियाभर में अमीरों की सूची में दूसरे पायदान पर आ चुके गौतम अडानी आईआईएफएल वेल्थ हुरुन इंडिया रिच लिस्ट-2022 (IIFL Wealth Hurun India Rich List-2022) में भी दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बन गए हैं और इसके चार्ट में शीर्ष पर रहे.

यूं ही नहीं दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बन गए गौतम अडानी, हर मिनट कमाए 1 करोड़ से अधिक रुपये

Wednesday September 21, 2022,

4 min Read

हाल ही में दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बनने वाले भारतीय कारोबारी गौतम अडानी (Gautam Adani) ने साल 2021 में हर दिन 1,612 करोड़ रुपये कमाई की है. इसका मतलब है कि अडानी की जेब में हर मिनट 1 करोड़ 10 लाख रुपये आए हैं.

इसके साथ ही फोर्ब्स (Forbes) और ब्लूमबर्ग (Bloomberg) की दुनियाभर में अमीरों की सूची में दूसरे पायदान पर आ चुके गौतम अडानी आईआईएफएल वेल्थ हुरुन इंडिया रिच लिस्ट-2022 (IIFL Wealth Hurun India Rich List-2022) में भी दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बन गए हैं और इसके चार्ट में शीर्ष पर रहे.

इस लिस्ट में भी अडानी से बहुत पीछे रहे अंबानी

हुरुन इंडिया रिच लिस्ट के अध्ययन में गौतम अडानी और उनके परिवार की संपत्ति 10.94 खरब रुपये हो गई है, जो कि पिछले साल की तुलना में 15 फीसदी अधिक है. ग्लोबल रिच लिस्ट की तरह ही इस लिस्ट में भी अडानी, रिलायंस इंडस्ट्रीज Reliance Industries के चेयरमैन मुकेश अंबानी (मुकेश अंबानी और परिवार) से कहीं आगे हैं. अंबानी की संपत्ति पिछले एक साल में 11 फीसदी बढ़कर 7.95 खरब हो गई है.

हुरुन इंडिया रिच लिस्ट के मुताबिक, पिछले एक साल में गौतम अडानी की संपत्ति दोगुनी से भी ज्यागा (116 फीसदी) बढ़ी है. इस दौरान उन्होंने 5.89 ट्रिलियन की संपत्ति जोड़ी है. वहीं, पिछले पांच सालों में अडानी की संपत्ति में 1440 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है.

अडानी समूह की सात सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली कंपनियों का संयुक्त बाजार मूल्य पिछले कुछ वर्षों में काफी बढ़ गया है. खनन से ऊर्जा समूह तक का कारोबार करने वाले अडानी ने ग्रीन एनर्जी में 70 अरब डॉलर का निवेश करने और दुनिया का सबसे बड़ा नवीकरणीय उत्पादक बनने का वादा किया है.

हुरुन इंडिया के एमडी और चीफ रिसर्चर अनस रहमान जुनैद ने कहा कि भारत में संपत्ति इकट्ठा करने के हिसाब से देखें तो 2022 को अडानी की संपत्ति में तेज रफ्तार वृद्धि के रूप में जाना जाएगा. कोयला से लेकर बंदरगाह और एनर्जी सेक्टर में कारोबार करने वाले अडानी एकमात्र भारतीय कारोबारी हैं जिन्होंने एक लाख करोड़ की मार्केट कैप वाली एक नहीं, बल्कि सात कंपनियां बनाई हैं.

गौतम अडानी और परिवार ने 5 सालों में अपनी संपत्ति 15.4 गुना बढ़ाई, विनोद शांतिलाल अडानी और परिवार ने अपनी संपत्ति 9.5 गुना बढ़ाई, शिव नादर और परिवार ने अपनी संपत्ति में 5 गुना वृद्धि की, उसके बाद राधाकिशन दमानी और परिवार ने पांच साल में अपनी संपत्ति में 3.8 की वृद्धि की.

1000 करोड़ वालों की संख्या 5 साल में 96 से बढ़कर 1103 पहुंची

कुल मिलाकर देखें तो 1000 करोड़ की संपत्ति वाले कारोबारियों की संख्या पिछले 5 साल में 96 से बढ़कर 1103 पहुंच गई है जो कि 62 फीसदी की बढ़ोतरी दर्शाता है. हुरुन इंडिया के अध्ययन में कहा गया है कि सूची में 82 प्रतिशत से अधिक अरबपति 50 वर्ष से अधिक आयु के हैं, और सूची में केवल 0.6 प्रतिशत अमीर 30 वर्ष से कम आयु के हैं.

सूची में सबसे कम उम्र के 19 वर्षीय जेप्टो Zepto के संस्थापक कैवल्य वोहरा हैं, जिनकी संपत्ति 1,000 करोड़ रुपये आंकी गई है. सबसे अधिक 36 ऑन्त्रप्रेन्योर फॉर्मास्यूटिकल्स फील्ड से आते हैं. इसके बाद 23 केमिकल्स और पेट्रोकेमिकल्स, 21 सॉफ्टवेयर एंड सर्विसेज फील्ड से हैं.

वहीं, इस बार रिकॉर्ड 735 या 67 फीसदी ऑन्त्रप्रेन्योर सेल्फ मेड हैं जिनकी संख्या पिछले साल 659 और पांच साल पहले 367 (54 फीसदी) थी. इस साल लिस्ट में आने वाले 79 फीसदी नए कारोबारी सेल्फ मेड हैं.

नायका Nykaa की फाउंडर फाल्गुनी नायर, किरण मजूमदार शॉ को पीछे छोड़कर सबसे अमीर सेल्फ मेड भारतीय महिला कारोबारी बन गई हैं. वहीं, स्ट्रीमिंग डेटा टेक्नोलॉजी कंपनी कॉन्फ्लुएंड की को-फाउंडर नेहा नरखेडे सबसे कम उम्र की भारतीय महिला कारोबारी हैं.


Edited by Vishal Jaiswal